भीम सेना थी उग्र और दहशत में थे यात्री

बन्द समर्थको व बाइक सवार में नोक-झोंक : बाइक पर लाठियां चटकाई

कोईलवर/भोजपुर 3 अप्रैल. सुप्रीम कोर्ट की ओर से SC/ST एक्ट के संबंध में सुनाए गए फैसले के खिलाफ दलित समुदाय में सरकार एवं न्यायालय के खिलाफ आक्रोश व्याप्त है. जिसको लेकर प्रखंड क्षेत्र में सोमवार को कोईलवर के गीधा, चांदी, कायमनगर में भाकपा माले, भीम सेना ने सुबह से सड़क जाम कर सरकार एवं न्यायालय के फैसले के खिलाफ जमकर नारेबाजी की. इस दौरान भाकपा माले के प्रखंड सचिव चंदेश्वर राम विशाल कहा कि केंद्र की मोदी सरकार डॉ भीमराव अंबेडकर के बनाए हुए रास्तों को मिटाकर सामंती गतिविधि को बढ़ावा दे रही है, जिससे समाज के निचले पायदान पर जीवन-बसर करने वाले समाज की विकास संभव नहीं हो सकती है जिसे भाकपा माले सफल नहीं होने देंगी.




कोईलवर पल को जाम करते भीम सेना के कार्यकर्ता

कोइलवर में सुबह 8 बजे से दोपहर 1 बजे तक कोइलवर पुल को जाम कर यातायात को पूर्ण रूप से ठप कर दिया. बन्द समर्थकों ने SC/ST एक्ट में बदलाव को लेकर उग्र थे. उन्होंने कहा केंद्र सरकार सुप्रीम कोर्ट के कंधे पर रख बन्दूक चला रही है. साथ ही मोदी सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए पुतला भी जलाया. इधर बन्द के दौरान भाकपा माले कार्यकर्ताओ व बाइक सवार लोगो के बीच कई बार नोक झोंक होती रही. इसबीच समर्थकों ने बाइक सवार पर लाठियां भी चलाई. जिसमें किसी बाइकर को तो चोट नही लगी लेकिन बाइक को जरूर नुकसान पहुँचा दिया. जिससे लोग बेबस दिखे. वही जाम के दौरान एम्बुलेंस व अन्य वाहनों से इलाज कराने जा रहे लोगो को आने-जाने का रास्ता खुला था. इधर जाम के दौरान पुलिस से लेकर पदाधिकारी भी बेबस दिखे .

बिहटा में सड़क जाम और आवागमन अवरुद्ध करते बन्द समर्थक

थानाध्यक्ष पंकज सैनी, CO मृत्युंजय कुमार लगभग एक बजे भाकपा माले जाम समर्थकों को समझा ज्ञापन ले जाम हटवाया. इस मौके पर भाकपा माले के चंदेश्वर राम, विशाल ,भोला यादव, मुन्ना, राजदेव राम, सरोज यादव, वीरेंद्र राम, टुन्नू, रमेश राम, शिवशंकर राम, दिनेश सिंह, धरेंद्र राम, रवि, बिजेंद्र पांडेय, रामविलास, विश्वमोहन भास्कर समेत सैकड़ो महिला पुरुष समर्थक मौजूद थे.

वही जाम से सड़क के दोनों तरफ वाहनों की कतार लगी हुई थी जिससे यात्रियों को परेशानियों का सामना करनी पड़ी.

कोईलवर से अमोद कुमार की रिपोर्ट