मौत को करीब देख दहला भुअर, 49 बार चाकू से किया वार फिर बदमाशों ने मारी गोली

बदमाशों ने भुअर को मारने की कोई कसर नहींं छोड़ी

गोली मारने वाला कोई और नही दोस्त ही निकला भुअर का
शराब के व्यवसाय में दोस्त ही बन गया दोस्त का दुश्मन




आरा,5 सितंबर. बदमाशों ने अपने से तो भुअर को मारने की कोई कसर नही छोड़ा था. एक बार नही बल्कि 49 बार, जी हाँ चेहरे से लेकर शरीर के प्रत्येक अंग पर चाकुओं से गोदते रहे. जब देखा कि भुअर इसके बाद भी नही मारा तो गर्दन पर निशाना बना गोली चलाई जिसमे भुअर के कंधे में गोली लगी. भुअर की किस्मत अच्छी थी कि वह बच गया. इसी बीच गोलियों की तड़तड़ाहट सुन दौड़कर घटना स्थल पहुँचे जिसके बाद बदमाश वहाँ से भाग खड़े हुए. घटना नवादा थाना के महुली कोठी के समीप की है.

भोजपुर जिले के नवादा थाना अंतर्गत डॉ ईसा की गली में रहने वाले एक युवक को अपराधियों ने पहले गोली मारी फिर धारदार हथियार से चेहरे और सिर को बुरी तरह गोद डाला फिर भी मन नही भरा तो गोली मारी. युवक का नाम भुअर है जो भोला प्रसाद का पुत्र है. घायल युवक का आरोप है कि उसकी ये हालत रंगदारी नहीं देने को लेकर हुई है. युवक के कंधे में गोली लगी है. इधर जख्मी युवक भुअर को इलाज एक निजी अस्पताल में चल रहा है. इलाज कर रहे डॉ विकास ने बताया कि ऑपरेट कर भुअर के कंधे से एक गोली निकाली गई. चेहरे और अन्य भाग पर गम्भीर चोट के कारण जख्मी युवक को 30 से ज्यादा टाँके पड़े हैं. फिलहाल वह खतरे से बाहर है लेकिन उसकी स्थिति नाजुक बनी हुई है.

जख्मी युवक ने बताया कि अपराधियों ने गोली मारने के बाद उसके पास से 2.5 लाख रुपये भी लूट लिए और उसे धमकी देते हुए निकले कि अगर उसने पुलिस में शिकायत की तो उसके भाई,बाप और माँ को जान से मार डालेंगे. भुअर चाय का दुकान चलाता है जिसने मीडिया के समक्ष अपने दिए बयान में कई लोगों पर आरोप लगाया है. उसने बताया कि उसकी यह हालत उसके दोस्त बड़े, राहुल, बड़े के पिता जय कुमार और उसके छोटे भाई विष्णु ने की है. हिंसा की यह वारदात उस दौरान घटी जब भुअर खाना खा रहा था. पुलिस घटना की छानबीन कर रही है. सूत्रों से मिली खबर के अनुसार इस मामले में पुलिस ने एक युवक को हिरासत में भी लिया है.

ऑपरेशन थियेटर में अचेत पड़ा जख्मी भुअर

ज्ञात सूत्रों की माने तो इस घटना के पीछे शराब का अवैध व्यवसाय माना जा रहा है. आरोपी बड़े का पैसा भुअर के एक दोस्त के पास बकाया था जिसकी वसूली लिए वह भुअर के पास पहुँचा. पहले उसने उसके दोस्त के बारे में पूछा और जब वह नही मिला तो वह उसी के साथ मारपीट करने पर उतारू हो गया. उसे यह लगा कि भुअर अपने दोस्त को बचाने के लिए झूठ बोल रहा है. घटना के बारे में सच का उद्भेदन करने में पुलिस जुटी है और आरोपियों के धर-पकड़ के लिए छापेमारी जारी है.

PNCB