महंगी पड़ी शराब पार्टी, 6 पार्षदों समेत 18 धराये

7.5 लाख नगद, रायफल और गोलियाँ भी बरामद
चल रही थी वार्ड पार्षद के घर शराब की पार्टी
भोजपुर SP राकेश कुमार दूबे की बड़ी कार्रवाई

आरा, 26 मई. बिहार में शराबबंदी लागू है और इसके लिए व्यापक रूप से लगातार छापेमारी और विशेष दल सरकार द्वारा लगाया गया है. शराब मुक्त बिहार को बनाने के लिए पार्टी कार्यकर्ताओं से लेकर, जनप्रतिनिधियों व अधिकारियों तक को सरकार ने समय-समय पर शपथ दिलाया है. लेकिन मजेदार बात यह है कि सरकार को सपोर्ट करने वाले उनके अपने ही शराब कानून की धज्जी उड़ाने में मशगूल है. बस ये लोग पकड़े नही जाते हैं क्योंकि ये रसूख वाले लोग हैं. पुलिस और सरकार तक इनकी पहुँच है तो भला पकड़ेगा कौन?




शराब पार्टी में गिरफ्तार वार्ड पार्षद व अन्य अभियुक्त

लेकिन बुधवार को भोजपुर मुख्यालय आरा में भोजपुर SP राकेश कुमार दूबे ने एक वार्ड पार्षद के घर छापेमारी कर उनके घर से आरा नगर निगम के 6 वार्ड पार्षदों व पार्षद पतियों के साथ 18 लोगों को गिरफ्तार किया है. इन सभी को शराब का सेवन करते हुए भोजपुर पुलिस ने रंगे हाथों पकड़ा है. पुलिस द्वारा पहली बार रसूखदारों के ऊपर इस त्वरित कार्रवाई से जनता में खुशी की लहर है. शराब पीने वाले इन वार्ड पार्षदों पर इस कार्रवाई के बाद लोग पुलिस की बहादुरी की तारीफ कर रहे हैं. लोगों को विश्वास ही नही हो रहा है कि पुलिस ने ऐसा काम किया है.

भलुहीपुर पुल के पास वार्ड 31 के पार्षद के घर पर छापेमारी के बाद का नजारा
भोजपुर SP राकेश कुमार दुबे

भोजपुर SP ने बताया कि गुप्त सूत्रों से पुलिस को सूचना मिली कि एक वार्ड पार्षद के घर मे शराब की पार्टी होने वाली है. सूचना मिलते हीं एसपी राकेश दुबे ने तत्काल एक DIU के साथ  टीम गठित की और त्वरित कार्रवाई करते हुए छापेमारी कर 18 लोगों को धर दबोचा, जिसमें 6 पार्षद शामिल है. इसमें 4 वार्ड पार्षद पति, एक वार्ड पार्षद का भाई और दो वार्ड पार्षद शामिल हैं.

इसी स्थल पर चल रही थी शराब पार्टी

छापेमारी आरा नगर थाना क्षेत्र के भलुहीपुर में भलुहीपुर पुल के पास स्थित वार्ड पार्षद 31 के मकान में हुई जहाँ बहुत से लोग एक जगह एकत्रित होकर शराब का क्रय-विक्रय एवं सेवन कर रहे थे. छापेमारी दल में DIU शाखा के पु०अ०नि० राकेश कुमार, पु०अ०नि० सुदेह कुमार, पु०अ०नि० दीपक झा, पु०अ०नि० राजीव रंजन तथा नगर थाना के पदाधिकारी के साथ एक विशेष छापामारी दल शामिल था.

7.5 लाख नगद, रायफल और गोलियाँ भी बरामद
छापेमारी के बाद पुलिस को मिली गुप्त सूचना सत्य निकली जहाँ वार्ड पार्षदों के साथ उनके दोस्त व करीबी, न सिर्फ शराब के नशे में धुत मिले बल्कि शराब के साथ हथियार और पैसे भी बरामद किये गए. बरामद सभी सामानों को पुलिस ने जब्त कर लिया. जप्त किये गए समानों में नगद – 7 लाख 50 हजार रुपये, 2 रेगुलर रायफल,75 रायफल का कारतूस, 762 mm. का 60 कारतूस,15 मोबाईल, 08 शराब का खाली बोतल (375 ml का), 05-शराब का बोतल (375 ml का) शामिल है.

पुलिस द्वारा गिरफ्तार अभियुक्तों की सूची :

1 हिमांशु सिन्हा पे० अरूण सिन्हा (वार्ड पार्षद 31 ) का मकान

  1. कुणाल सिंन्हा पे० अरूण सिन्हा (वार्ड पार्षद 31 का भाई)
  2. शदाब अहमद पे० शफीर अहमद
  3. अफरोज आलम पे० सल्लाउद्दीन
  4. अफरोज आलम पे0 सेराजूददीन
  5. दानिश पे0 सल्लाउद्दीन
  6. बैजू यादव पे० शीवप्रसाद यादव (वार्ड पार्षद 03 पति)
  7. संजय गुप्ता पे गोरखनाथ गुप्ता (वार्ड पार्षद 09 पति)
  8. शैलेन्द्र कुमार शर्मा पे० सीयाराम शर्मा (वार्ड पार्षद 42 पति)
  9. अखिलेश प्रसाद पे० राधेश्याम प्रसाद (वार्ड पार्षद 04)
    11 ओमप्रकाश पे० श्री किशुन प्रसाद (वार्ड पार्षद 33 पति)
  10. 12.अनिल कुमार पे० रामविलाश पंडित
    13 सुरज कुमार पे० कन्हैया श्रीवास्तव
    14 राजकुमार यादव पे बाबूलाल यादव
    15 रंजन कुमार पेठ हरेराम पाण्डेय
  11. अजय कुमार पेठ राजाराम यादव
    17 प्रभूदयाल पेo देवीदयाल पासवान
    18 दिलीप रजक पे० मोती रजक

भोजपुर पुलिस ने इस संबंध में FIR दर्ज कर गिरफ्तार अभियुक्तों पर आगे की कर्रवाई कर रही है. अब देखना यह दिलचस्प होगा कि जनता के सेवक कहे जाने वाले इन शराबी वार्ड पार्षदों पर कार्रवाई होती है या फिर राजनीतिक रसूखों के बल पर कानून से आंख-मिचौली कर ये छूट जाते हैं.

आरा से ओ पी पांडेय की रिपोर्ट