पत्रकार हत्या में फरार डब्लू ने 36 घण्टे बाद किया कोर्ट में आत्म-समर्पण

ढूंढती रही पुलिस और आरोपी ने भेष बदल कोर्ट में किया आत्म-समर्पण

आरा, 28 मार्च. 25 मार्च की रात्रि में हुई दोहरी हत्याकांड का आरोपी पूर्व मुखिया पति अहमद अली उर्फ हंसू मियां का पुत्र डब्लू अहमद ने आज नाटकीय अंदाज में कोर्ट में आत्म-समर्पण कर दिया. हालांकि पुलिस उसे ढूंढने का असफल प्रयास लगातार तीन दिनो से कर रही थी. मज़ेदार बात यह है कि हत्या कांड का मुख्य आरोपी अहमद अली, जिसे पुलिस ने 12 घटे के भीतर गिरफ्तार कर लिया था, उसके पकड़े जाने के बाद भी उसका आरोपी पुत्र पुलिस की रडार पर नही आ सका. जिसका परिणाम यह हुआ कि पुलिस की कोशिशें नाकाम हो गयी और आरोपी आराम से कोर्ट में अपने आप को हाजिर कर दिया. हालांकि यह आत्म-समर्पण पुलिस की दबिश का ही कारण माना जा रहा है. क्योंकि पुलिस कप्तान ने कल ही बताया था कि अगर डब्लू पकड़ में नही आता है तो घर की कुर्की भी हो सकती है. क्योंकि पुलिस की खुफिया सूत्र भी उसकी टोह में बिक्रमगंज से लेकर आरा तक उसके सगे संबंधियों पर नजर रखे हुए थे.




पत्रकार हत्या का फरारी आरोपी अहमद अली का पुत्र डब्लू

डब्लू के आत्म-समर्पण के बाद पुलिस ने भी इस पर राहत की सांस ली है. भोजपुर पुलिस कप्तान अवकाश कुमार की टीम कई स्थानों पर गिरफ्तारी को लेकर छापेमारी कर रही थी जिसका परिणाम यह आत्म-समर्पण माना जा रहा है. हालांकि पुलिस को उसके कोर्ट आने की भनक थी और पुलिस कोर्ट के मुख्य द्वार पर पहुंची भी थी. लेकिन भेष बदल कर उससे पहले ही कुख्यात अहमद अली उर्फ हंसू मियां के बेटे डब्लू ने आत्मसमर्पण कर दिया.

आपको बताते चलें कि भोजपुर जिले के गड़हनी थाना क्षेत्र के नहसी गांव के समीप अभियुक्तों ने स्कार्पियो से दैनिक भास्कर अखबार के पत्रकार नवीन निश्चल एवं विजय सिंह को रौंद दिया था जिसके कारण घटनास्थल पर ही दोनों की दर्दनाक मौत हो गई थी. एक अभियुक्त की गिरफ्तारी के बाद डब्लू फरार था.

आरा से ओ पी पांडेय की रिपोर्ट