सम्मान, स्वाभिमान के साथ संगठित होकर आगे बढ़ें वैश्य

अखिल भारतीय मध्यदेशीय वैश्य सभा की ओर से रविवार को मीठापुर बस स्टैंड के पास मां कमला  हॉल में बिहार प्रदेश शाखा की कार्यसमिति की बैठक हुई। इस मौके पर राष्ट्रीय महामंत्री डॉ जनार्दन प्रसाद साह ने कहा कि सम्मान व स्वाभिमान के साथ संगठित होकर समाज को शिक्षित करना और उसे समाज की मुख्य धारा में शामिल करना सभा का उद्देश्य है । इसके लिए राजनीतिक भागीदारी बहुत जरुरी है और इसमें अपनी हिस्सेदारी हमें हर हाल में लेनी है। बिहार प्रदेश अध्यक्ष जयप्रकाश गुप्ता ने कहा कि एकजुट होकर ही मध्यदेशीय वैश्य समाज आगे बढ़ सकता है और अधिक तेजी से विकास कर सकता है। उन्होंने बताया कि वक्ताओं के विचार दर्ज कर लिए गए हैं और गंभीरता से विमर्श करते हुए उसे जमीन पर उतारा जाएगा । आर.पी. साह ने कहा कि हमारा समाज एक जागरूक समाज है लेकिन इसे और ज्यादा जागरूक होने की जरूरत है। शिक्षा के महत्व को समझकर ही आगे बढ़ा जा सकता है। राष्ट्रीय मंत्री रवि साह ने हर जिले में बैठक बुलाए जाने की जरूरत पर जोर दिया और कहा कि सभी जिलों के सभा पदाधिकारियों को   चुनाव से पहले जगाया जाए । झड़ी लाल साह ने  कहा कि हर स्तर के चुनाव में आबादी और सामाजिक कार्यों में उल्लेखनीय भागीदारी के आधार पर टिकट के लिए अपनी हिस्सेदारी की दावेदारी हो। उन्होंने 19 लिखित विचार रखे । प्रो. अमरेन्द्र कुमार ने राजनीतिक लड़ाई की जरूरत पर जोर दिया ।




इस मौके पर  राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शंकर साह, प्रदेश उपाध्यक्ष देवानंद प्रसाद, महामंत्री दीपनारायण प्रसाद, कोषाध्यक्ष श्याम प्रसाद साह, नीरज कुमार, सुभाष गुप्ता, उपेन्द्र साह, उमाशंकर गुप्ता, वेद प्रकाश, डॉ अरूण, आलोक कुमार, दीपक कुमार, मनोज, प्रदीप साह शिव आदि ने भी इस अ‌सर पर अपने गंभीर विचार रखे ।