नाटक ‘मैड इन लव’ कई सवाल छोड़ गया




द थियेट्रोन रेक्स’ की प्रस्तुति

कालिदास रंगालय में हुआ नाटक का मंचन

लेखन एवं परिकल्पना:- रेन मार्क निर्देशक:- रवि आनंद

“मैड इन लव” रेन मार्क द्वारा लिखित एवं रवि आनंद द्वारा निर्देशित नाटक है. इस नाटक के माध्यम से लेखक यह दर्शाना चाहता है कि धर्म के नाम पर किस प्रकार से मासूम प्यार का गला घोंट दिया जाता है. इस नाटक में यह देखने को मिलता है कि “जिस प्यार में खतरा नहीं वह सच्चा प्यार नहीं होता. प्यार धर्म, जाति या रंग नहीं जानता. प्यार की कोई भाषा नहीं होती. प्यार तो बस प्यार होता है. प्यार सिर्फ प्यार जानता है.” नाटक शुरू होने से पहले दिवंगत हास्य कलाकार राजू श्रीवास्तव जी को श्रद्धांजलि अर्पित की गई.

बंटी ब्राह्मण परिवार का एक सीधा-साधा भोला-भला लड़का है जो कॉलेज में पढ़ाई कर रहा है. एक दिन उसकी मुलाकात अपने कॉलेज के अर्शी नाम की मुस्लिम लड़की से होती है जिससे वह पहली नजर में मोहब्बत कर बैठता है. बंटी दिन-रात अर्शी के ख्यालों में खोया रहता है. वह अपने प्यार को पाने के लिए किसी भी हद तक जाने को तैयार हो जाता है. यहाँ तक कि बंटी अपना धर्म परिवर्तन करने को भी राजी हो जाता है. कुछ समय बाद अर्शी को भी बंटी से मोहब्बत हो जाती है. दोनों एक साथ पूरी जीवन जीना चाहते हैं.

बंटी- अर्शी के प्रेम कहानी की जानकारी जब बंटी के दोस्त चिंटू और बिट्टू को पता चलती है तो वे बंटी को रोकने की काफी कोशिश करते है. क्योंकि बंटी हिन्दू है और अर्शी मुस्लिम. लेकिन बंटी और अर्शी बिना किसी का परवाह किए एक दूसरे से शादी कर लेते है. अंत में बंटी और अर्शी के रिश्ते को उनदोनों के पिता स्वीकार कर लेते है लेकिन धर्म के ठेकेदारों को यह बर्दाश्त नहीं होता है कि कोई हिन्दू धर्म का लड़का किसी और धर्म के लड़की से शादी करे. फिर वे साजिश करके बंटी और अर्शी को हमेशा के लिए इस जहां से जुदा कर देते है. इस प्रकार से एक खूबसूरत प्रेम कहानी का दर्दनाक अंत हो जाता है.

नाट्य मंचन के दौरान मुख्य अतिथि के रूप में सिधु कानू मेडिकल कॉलेज और हॉस्पिटल दुमका, झारखंड के निदेशक इंजीनियर मनोज कुमार उपस्थित रहे. उन्होंने कहा कि सभी कलाकारों ने अपने अभिनय से नाटक को जीवंत कर दिया.

मंच पर कलाकार

बंटी- रवि आनंद,अर्शी- अनिशा,चिंटू- शिवम कुमार,अनु- तनु कुमारी, बिट्टू- बिक्रान्त कुमार,प्रिती- तहसीन फातिमा,प्रोफेसर सतीश- सरबिंद कुमार,चोर 1- मनीष कुमार,चोर 2- अक्षय कुमार यादव, मिस श्वेता- अनामिकाज्योतिष- अक्षय कुमार यादव,गरीब आदमी- चंदन कुमार,अमीर आदमी- कुमार राहुल, अहमद- राजेन्द्र, सूत्रधार- रेणु सिन्हा

नेपथ्य के कलाकार

मंच परिकल्पना- प्रदीप गांगुली,मंच निर्माण- सुनील शर्मा, राजेश कुमार, बीरबल,प्रकाश परिकल्पना- राजीव रॉय,संगीत संयोजन एवं संचालन- आदर्श राज प्यासा,रूप सज्जा- उपेंद्र कुमार,वस्त्र विन्यास- रेणु सिन्हा,कोरियोग्राफी- अनिशा,वीडियोग्राफी- कुमार राहुल,फोटोग्राफी- कांति फिल्म्स,पोस्टर निर्माण- आदर्श राज प्यासा,प्रोडक्शन मैनेजर- अनिल चतुर्वेदी,विशेष आभार- सेवार्पन फाउंडेशन ट्रस्ट,सहयोग- अक्षरा आर्ट्स (अजीत कुमार), अनिता राज, मृत्युंजय यादव, संजय कुमार, तसौवर हुसैन

प्रस्तुति- द थियेट्रोन रेक्स, पटना

सहायक निर्देशक- रेणु सिन्हा, अक्षय कुमार यादव

लेखन एवं परिकल्पना- रेन मार्क

निर्देशन- रवि आनंद

PNCDESK