जल्द ही बिहार में करेंगे देश का सबसे बड़ा “बेरोजगार रैला”

युवा बेरोजगारी पर सवाल करते है तो कमजोर मुख्यमंत्री भड़क जाते है-तेजस्वी

नीतीश कुमार जी बहुत ही शर्मीले स्वभाव के है




महंगाई, बेरोजगारी, भ्रष्टाचार, अफसरशाही,शराब तस्करी,बदहाल शिक्षा,स्वास्थ्य एवं विधि व्यवस्था पर कभी भी बात नहीं करते

तेजस्वी यादव के साथ लालू प्रसाद

पटना – उपचुनाव में नेताओं के अलग-अलग बयान से बिहार की राजनीति गरमा गई है ,लालू तो लालू तेजस्वी ने सरकार को घेरते हुए 76 घोटालों की सरताज सरकार में भ्रष्टाचार, अफसरशाही,बेरोजगारी,अव्यवस्था,बदहाली और जनता की समस्याओं के प्रति बेपरवाही आसमान पर है।दिखाने को एक काम नहीं है पर गिनाने को हज़ार बहाने है।नीतीश जी का बस चले तो पिछली सरकारों पर क्या, पौराणिक पात्रों पर भी अपनी शिथिलता का दोष मढ़ दें! जनता और सरकार के बीच लड़ाई ठन चुकी है। जनादेश चोरी कर बनी बेईमान सरकार का जाना तय है।निरंतर आपका प्यार, समर्थन और विश्वास पाकर नि:शब्द हूँ, तारापुर में उमड़ा जनसैलाब आदरणीय नीतीश कुमार की फ़र्ज़ी नैतिकता और अंतरात्मा को ललकार रहा है।जब बेरोजगारों ने 19 लाख नौकरियाँ माँगी तो नीतीश कुमार जी आपा खो बैठे! मुख्यमंत्री आवास से बाहर निकलते नहीं सड़क मार्ग से यात्रा करते नहीं जनता से सीधा संवाद है नहीं जब मजबूरन चुनावी सभा में जाना पड़ता है तब युवा उनसे बेरोजगारी पर सवाल करते है तो कमजोर मुख्यमंत्री भड़क जाते है?

16 साल शासन के बाद भी कोई आपको बस इतिहास पर लेक्चर ही दे तो समझ जाइये उसके बस का कुछ नहीं। वो अगले 50 साल राज करने के बाद भी आपको यही बहाने सुनाएगा। झूठ बोले, मतदाता काटे! नीतीश जी ने कुशेश्वरस्थान में सफेद झूठ बोला।वो कह रहे थे उन्होंने यहाँ प्लस-टू स्कूल पास किया था। उसकी भी पोल खुली। सभा स्थल के बगल का स्कूल विगत कई वर्षों से कागजों में प्लस-टू है लेकिन हक़ीकत में आज तक उसमें एक बार भी 10वीं के बाद कक्षा नहीं लगी. नीतीश कुमार जी बहुत ही शर्मीले स्वभाव के है इसलिए वो महंगाई, बेरोजगारी, भ्रष्टाचार, अफसरशाही,शराब तस्करी,बदहाल शिक्षा,स्वास्थ्य एवं विधि व्यवस्था पर कभी भी बात नहीं करते। वो आपका वर्तमान व भविष्य बर्बाद कर कहते है इतिहास के बासी पन्नों को सूंघते रहो। वर्तमान में बात कीजिए,साहब!

तेजस्वी का ट्वीट

PNC DESK