… तो इस वजह से VKSU VC ने दिया इस्तीफा

VKSU के वीसी ने भ्रष्टाचारियों से क्षुब्ध हो दिया इस्तीफा राजभवन ने किया नामंजूर वीर कुंवर सिंह विश्वविद्यालय के कुलपति ने क्षुब्ध होकर अपने पद से आज इस्तीफा दे दिया जिसके बाद दिनभर गहमा गहमी की स्थिति बनी रही. पूरे दिन कुलपति से लोक संपर्क करते रहे लेकिन उनसे संपर्क नहीं हो पाया. विश्वविद्यालय पर संकट का बादल कब खत्म होगा जब शाम होते ही यह खबर आई आई यह खबर आई की उनके इस्तीफे को राजभवन ने नामंजूर कर दिया है. हालांकि कुछ छात्र संगठन और छात्र नेता दिन में ही इस बात के कयास लगा रहे थे कि वर्तमान वीसी का इस्तीफा मंजूर नहीं हो पायेगा. NSUI के वर्तमान जिलाध्यक्ष दुलदुल सिंह उर्फ मनीष सिंह ने पटना नाउ को बताया कि इस्तीफा जबतक मंजूर न हो जाये तबतक नामंजूर ही समझा जाता है और उन्हें विश्वास है कि कुलपति के कार्यों की रूपरेखा देखकर राजभवन ऐसा निर्णय कभी नहीं लेगा.   वही कुलपति से संपर्क नहीं होने के बाद रजिस्ट्रार और परीक्षा नियंत्रक से भी पटना नाउ ने कई बार संपर्क करना चाहा लेकिन किसी ने इस दरमियान फोन उठा कर जवाब देना मुनासिब नहीं समझा. इस दरमियान जब NSUI के पूर्व जिलाध्यक्ष के पूर्व जिलाध्यक्ष अभिषेक द्विवेदी से मामले के बारे में पटना नाउ ने जानने की कोशिश की तो उन्होंने बताया कि VC विश्वविद्यालय में कार्यरत भ्रष्ट कर्मियों और शिक्षकों से त्रस्त हैं. कुलपति सैयद मुमताजुद्दीन की छवि स्वच्छ और पारदर्शिता वाली है लेकिन उनकी छवि को भ्रष्ट कर्मी नहीं रखना चाह रहे हैं. ऐसे कर्मियों से तरसकर

Read more

दीपावली पर मिलेगी भोजपुरी को सरकार की सौगात !

‘काँटो की राह’ में खड़ी ‘भोजपुरी’ कब शुरू होगी भोजपुरी की पढ़ाई? छठ के बाद मिलेगी खुशखबरी! राजभवन द्वारा VKSU में भोजपुरी की पढ़ाई पर लगे विराम के बाद एक बार फिर राजभवन द्वारा भोजपुरी भाषा की पढ़ाई को पुनः चालू करने के लिए सुगबुगाहट ने फिर से एक भोजपुरी के लिए जैसे रोशनी जगा दी है. दीपावली और छठ पर्व के बाद हो सकता है कि उपहार स्वरूप इस संदर्भ में राजभवन से कोई आदेश आ जाये. इस कार्य मे VC ने अपनी विशेष सक्रियता दिखाई और इस संदर्भ में उन्होंने राज्यपाल से लेकर मुलाकात भी किया. राज्यपाल सत्यपाल मलिक से मुलाकात कर आये VKSU के VC सैय्यद मुमताजुद्दीन काफी उत्साहित हैं. उन्होंने पटना नाउ से बातचीत करते हुए जिस अंदाज में और जोश के साथ राजभवन के सकरात्मक बात की चर्चा की उससे यही उम्मीद जताई जा रही है कि भोजपुर वासियो को जल्द ही नए राज्यपाल द्वारा दीपावली के उपहार के रूप में भोजपुरी की पढ़ाई को फिर से चालू करने रूपी आदेश को दिया जा सकता है. VC ने बताया कि राज्यपाल से मुलाकात के बाद घंटो इस बात पर चर्चा हुई और उसके बाद राज्यपाल द्वारा बुलायी गयी बैठक में उन्होंने भाग भी लिया. VC के अनुसार राज्यपाल का रूख भोजपुरी को लेकर बड़ा ही सक्रिय है. उम्मीद है कि दिपावली और छठ की छुटियों के बाद राजभवन से खुशखबरी भोजपुरिया जनमानस को मिल सकती है. हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि जबतक राजभवन से इस संदर्भ को लेकर चिठ्ठी नही आती तबतक कुछ भी

Read more