क्या इस बार पूरी होगी मुख्यमंत्री नीतीश की ये मांग!

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने एक बार फिर से सार्वजनिक रूप से केंद्र सरकार से गुहार लगाई है. पहले मुद्दा कुछ और था इस बार मुद्दा कुछ और है. मुद्दे अलग-अलग हैं लेकिन व्यक्ति एक है और वह व्यक्ति हैं मुख्यमंत्री नीतीश कुमार. आपको याद होगा कुछ साल पहले पटना विश्वविद्यालय के शताब्दी समारोह के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पटना आए थे. समारोह के दौरान मंच से नीतीश कुमार ने हाथ जोड़कर प्रधानमंत्री से मांग की थी कि पटना विश्वविद्यालय को केंद्रीय विश्वविद्यालय का दर्जा दिया जाए. लेकिन प्रधानमंत्री ने उसी मंच से उनकी मांग ठुकरा दी थी. आपको वह वीडियो दिखाते हैं कि किस तरह मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मंच पर बैठे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से हाथ जोड़कर यह अपील की थी। यह वीडियो वर्ष 2017 का है. अब वर्ष 2020 में जब महात्मा गांधी सेतु के पश्चिमी लेन का जीर्णोद्धार के बाद 31 जुलाई को उद्घाटन हुआ तो इस मौके पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए केंद्र सरकार से एक और बड़ी अपील कर दी है. मुख्यमंत्री ने केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी से यह मांग की है बक्सर को सड़क मार्ग से सीधे वाराणसी से जोड़ा जाए. वर्तमान में बक्सर से वाराणसी जाने के लिए लंबा रास्ता तय करना पड़ता है इसलिए 2 ऐतिहासिक शहरों के लिए सीधा सड़क मार्ग बनाने की मांग मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री से की है. देखिए वीडियो अब देखना है कि मुख्यमंत्री की इस मांग पर केंद्र सरकार क्या कार्रवाई करती है. बक्सर से बीजेपी सांसद अश्विनी

Read more

बीएचयू का 100वॉ दीक्षांत समारोह !

पटना/बनारस (ब्यूरो रिपोर्ट) | काशी हिन्दू विश्वविद्यालय का 100वाँ दीक्षांत समारोह स्वतन्त्रता भवन में आयोजित हुआ. प्रख्यात वैज्ञानिक एवं नेशनल रिसर्च प्रोफेसर डाॅ. रघुनाथ अनन्त मशेलकर जी ने दीक्षान्त भाषण दिया. कुलपति प्रोफेसर राकेश भटनागर जी ने समारोह की अध्यक्षता की. वैज्ञानिक एवं नेशनल रिसर्च प्रोफेसर डाॅ. रघुनाथ अनन्त मशेलकर जी तथा कुलपति प्रोफेसर राकेश भटनागर जी विद्यार्थियों को गोल्ड मेडल प्रदान किया.  

Read more

वाराणसी-पटना का सफर हुआ और आसान

पटना से वाराणसी जाना अब और आसान हो गया है. 12 मार्च को प्रधानमंत्री मोदी ने वाराणसी रेल मंडल के मंडुआडीह स्टेशन पर आयोजित एक समारोह में काशी -पटना जं. जन शताब्दी एक्सप्रेस को हरी झण्डी दिखाकर शुभारम्भ किया। इस दौरान यूपी के मुख्य मंत्री योगी आदित्यनाथ, रेल राज्य मंत्री एवं संचार राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) मनोज सिन्हा भी मौजूद थे. रेल राज्य मंत्री एवं संचार राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार), मनोज सिन्हा ने स्मृति चिन्ह के रूप में प्रधानमंत्री को तुलसी का पौधा भेंट किया।   मंडुवाडीह एवं वाराणसी से प्रतिदिन पटना जाने एवं उसी दिन वापसी हेतु ट्रेन  की बहुप्रतीक्षित माँग को ध्यान में रखकर रेल मंत्रालय द्वारा 15125/15126 काशी-पटना जं.- काशी जन शताब्दी एक्सप्रेस के संचलन को स्वीकृत प्रदान की गई। यह गाड़ी अपने यात्रा मार्ग में वाराणसी, मुगलसराय, बक्सर, आरा एवं दिलदारनगर स्टेशनों पर रूकेगी। इस गाड़ी के संचालन से यात्री सुबह वाराणसी से पटना जाकर उसी दिन शाम में वापस आ सकेंगे तथा इसके अतिरिक्त पूर्वी उत्तर प्रदेश का मध्य बिहार से सीधे सम्पर्क की एक अतिरिक्त सुविधा उपलब्ध हो गई है।

Read more