प्रो. अच्युता सामंता को वॉलीबॉल फेडरेशन ऑफ इंडिया का अध्यक्ष चुना गया

कंधमाल संसदीय क्षेत्र के सांसद और के.आई.आई.टी. के संस्थापक प्रो. अच्युता सामंता, भारतीय वॉलीबॉल संघ {वॉलीबॉल फैडेरेशन ऑफ़ इण्डिया (वी.एफ.आई.)} के अध्यक्ष के रूप में निर्विरोध चुने गए. वह वॉलीबॉल फेडरेशन ऑफ इंडिया के इस सर्वोच्च प्रतिष्ठित पद के लिए चुने जाने वाले ओडिशा के पहले व्यक्ति हैं. अब प्रो. सामंता को ओलंपिक एसोसिएशन ऑफ इंडिया का सदस्य होने का अधिकार मिला है. यह न केवल ओडिशा वॉलीबॉल एसोसिएशन के लिए एक महान सम्मान है, अपितु ओडिशा के लिए भी गौरव की बात है. ओडिशा वॉलीबॉल एसोसिएशन ने प्रो. सामंता को इस उपलब्धि के लिए बधाई दी है और भविष्य में किये जाने वाले प्रयासों के लिए शुभकामनाएं व्यक्त की है. प्रो. सामंता के अतिरिक्त, पंजाब के राज कुमार को कार्यकारी उपाध्यक्ष के रूप में चुना गया है, जबकि 9 अन्य को वी.एफ.आई. (वॉलीबॉल फैडेरेशन ऑफ़ इण्डिया) के उपाध्यक्ष के रूप में चुना गया है. राजस्थान के अनिल चौधरी वी.एफ.आई. के महासचिव के रूप में निर्विरोध चुने गए हैं. नवनिर्वाचित निकाय का कार्यकाल 2020 से 2024 तक है. प्रो. सामंता ने उन्हें अध्यक्ष चुने जाने के लिए वी.एफ.आई. (वॉलीबॉल फैडेरेशन ऑफ़ इण्डिया) को धन्यवाद दिया. प्रो समांता ने कहा कि वह महासंघ को एक नई बुलंदियों तक पहुंचाने की पूरी कोशिश करेंगे. pncb

Read more

“प्लांट फॉर प्लेनेट” पर जोर है सांसद का । बिहार में भी लगाएंगे पौधे

पटना (पटना नाउ ब्यूरो रिपोर्ट) | “बिहार के साथ में मेरा पुराना और विशेष लगाव है. यहाँ के करीब 10 हजार छात्रों का समूह मेरे इंस्टिट्यूट में है. – ऐसा कहना है बीजद सांसद डॉ अच्युत सामंत का, जो कलिंग इंस्टीट्यूट ऑफ इंडस्ट्रियल टेक्नोलॉजी ( केआईआईटी) तथा कलिंग इंस्टीट्यूट ऑफ सोशल साइंसेस ( केआईएसएस) के संस्थापक भी हैं. वे शुक्रवार को पटना के एक होटल में मीडिया वालों के साथ मीटिंग के दौरान कही. डॉ. अच्युत सामंत ने कहा कि वे हर साल बिहार आकर मीडिया के माध्यम से बिहारवासियों को आभार व्यक्त करता रहता हूँ कि उन्होंने KIIT पर भरोसा किया तथा यहाँ से पास करके दुनिया के हरेक कोने में नौकरी कर अपने परिवार का पालन पोषण कर रहे है. उनके अनुसार आज भी उनके इंस्टिट्यूट में लगभग 6 हजार बिहारी बच्चे पढ़ रहे हैं. उन्होंने आगे कहा कि यदि बिहार सरकार जमीन दे, तो वे यहां 1000 गरीब बच्चों के लिए स्कूल भी खोलेंगे. “प्लांट फॉर प्लेनेट” के तहत पौधे लगाएंगेपटना नाउ से बात करते हुए डॉ सामंत ने बताया कि उनका एक प्लेटफॉर्म है, ‘आर्ट ऑफ गीविंग’ जो प्रत्येक वर्ष अलग-अलग थीम पर सामाजिक कार्य करता है. इस साल का थीम है, गो ग्रीन – “प्लांट फॉर प्लेनेट”. इसके अंतर्गत 120 देशों में करोड़ों की संख्या में पेड़ लगाया जाना है. “प्लांट फॉर प्लेनेट” के अंतर्गत पूरे भारतवर्ष में 12 करोड़ से लेकर 18 करोड़ पेड़ लगाने का लक्ष्य रखा गया है जिसमें बिहार में 2 करोड़ पेड़ लगाए जाएंगे. इस कार्य में इंस्टिट्यूट के अलुमिनी

Read more