तीसरे राउंड में महज इतने अभ्यर्थियों का हुआ चयन

बिहार में छठे चरण के प्राथमिक शिक्षक नियोजन के तहत तीसरे राउंड की काउंसलिंग के आंकड़े सामने आ गए हैं. थर्ड राउंड में करीब 1300 नियोजन इकाइयों में 12495 पदों के लिए 17 जनवरी से 28 जनवरी तक काउंसलिंग हुई है. इस दौरान कुल 4888 अभ्यर्थियों का चयन विभिन्न नियोजन इकाइयों में हुआ है. पहले और दूसरे राउंड की काउंसलिंग में 38000 अभ्यर्थियों का चयन हुआ था. इस तरह अबतक 90762 पदों में से करीब 43000 अभ्यर्थी ही चयनित हुए हैं. प्राथमिक शिक्षकों के 53% से भी ज्यादा पद खाली रह गए. इधर शिक्षा विभाग बचे हुए अभ्यर्थियों को एक और मौका जल्द देने वाला है. 31 जनवरी तक सभी जिला शिक्षा पदाधिकारियों से ऐसे नियोजन इकाइयों की जानकारी मांगी गई है जहां किसी वजह से काउंसलिंग नहीं हो पाई है. सातवें चरण की वैकेंसी से पहले छठे चरण में ये आखिरी मौका अभ्यर्थियों को मिलेगा. नियुक्ति पत्र देने के लिए 25 फरवरी की तारीख पहले से तय है. सिर्फ विश्वसनीय खबरों के लिए आप पटना नाउ के साथ बने रहिए. इस बारे में शिक्षा विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक विशेष रुप से एससी, एसटी और ईबीसी महिला के पद पर उम्मीदवार नहीं मिलने की वजह से इतनी सीटें खाली रह रही हैं. हालांकि शिक्षा विभाग ने अब तक यह स्पष्ट नहीं किया है कि क्या इन कैटेगरी के बदले किसी और कैटेगरी के उम्मीदवारों को मौका दिया जाएगा जो अपनी बहाली का लंबे समय से इंतजार कर रहे हैं. #teachercounciling #councilingupdate #patnanow #teacherniyojan #thirdround राजेश तिवारी

Read more

32714 अभ्यर्थी बनेंगे शिक्षक, 17-18 फरवरी को मिलेगा नियोजन पत्र

बड़ी खबर शिक्षा विभाग से है जहां छठे चरण के माध्यमिक उच्च माध्यमिक शिक्षकों के 32714 पदों पर नियोजन का शेड्यूल जारी करते हुए नियोजन पत्र देने की तारीख भी स्पष्ट कर दी गई है. पंचायत चुनाव की वजह से नियोजन की गतिविधियां स्थगित की गई थी शिक्षा विभाग की अधिसूचना के मुताबिक 10 जनवरी तक वैसी नियोजन इकाइयों को औपबंधिक मेधा सूची का प्रकाशन करना है जिन्होंने अब तक ऐसा नहीं किया है औपबंधिक मेधा सूची पर आपत्ति के लिए 11 जनवरी से 25 जनवरी तक का वक्त दिया गया है और आपत्तियों के निराकरण के बाद मेरिट लिस्ट 3 फरवरी तक जारी होगी. अंतिम मेधा सूची का एनआईसी की वेबसाइट पर प्रकाशन 15 फरवरी तक होगा और जिला स्तर पर नियोजन इकाई द्वारा सहमति पत्र के आधार पर मेधा क्रम में नियोजन पत्र नगर निकायों में 17 फरवरी को और जिला परिषद में 18 फरवरी को दिया जाएगा. बड़ी बात यह कि माध्यमिक उच्च माध्यमिक शिक्षकों के नियोजन पत्र देने कि पहले सर्टिफिकेट जांच की अनिवार्यता नहीं रखी गई है जबकि प्राथमिक और मध्य विद्यालय के शिक्षकों के लिए सर्टिफिकेट जांच के बाद ही नियोजन पत्र देने के बाद शिक्षा विभाग कहता रहा है. ऐसे में इस बात की संभावना प्रबल हो गई है कि बहुत जल्द शिक्षा विभाग प्राथमिक और मध्य विद्यालय के शिक्षकों की नियुक्ति पत्र देने की तारीख की भी घोषणा कर सकता है. सूत्रों के मुताबिक जनवरी महीने में थर्ड राउंड की काउंसलिंग के बाद फरवरी महीने में चयनित प्रारंभिक शिक्षकों को नियुक्ति पत्र

Read more

लंबे इंतजार के बाद आखिरकार जारी हो गया प्राथमिक शिक्षकों का नियोजन शेड्यूल

बिहार में लंबे इंतजार के बाद प्राथमिक शिक्षकों का नियोजन शेड्यूल एक बार फिर जारी हुआ है. जिन नियोजन इकाइयों में काउंसलिंग नहीं हुई थी और नियोजन इकाइयों में पंचायत चुनाव के बाद 14 दिसंबर से काउंसलिंग शुरू होगी जो 22 दिसंबर तक चलेगी. हालांकि अब तक काउंसलिंग में चयनित 38000 अभ्यर्थियों के बारे में शिक्षा विभाग ने यह स्पष्ट नहीं किया है कि उन्हें नियुक्ति पत्र कब तक मिलेगा. जानकारी के मुताबिक चयनित अभ्यर्थियों के तरीके की जांच अब तक नहीं हुई है. पंचायत चुनाव के बाद ही सर्टिफिकेट जांच का काम तेजी से होने की संभावना है. राजेश तिवारी

Read more

29 जुलाई तक जहां मेरिट लिस्ट अपलोड नहीं, वहां तीसरे चरण में होगी काउंसलिंग

बिहार में प्राथमिक और मध्य विद्यालय में शिक्षकों के नियोजन के लिए काउंसलिंग का दूसरा चरण 2 अगस्त से 13 अगस्त के बीच होगा दूसरे चरण के लिए प्राथमिक शिक्षा निदेशालय ने नियोजन इकाइयों में गड़बड़ी की आशंका के मद्देनजर महत्वपूर्ण आदेश जारी किया है इसके तहत जिन नियोजन इकाइयों ने 29 जुलाई की मध्यरात्रि तक मेरिट लिस्ट जारी नहीं कि वहां ना सिर्फ कार्रवाई की अनुशंसा की जाएगी बल्कि उन नियोजन इकाइयों में तीसरे चरण में ही काउंसलिंग होगी. कॉन्सिलिंग की प्रक्रिया का पूर्ण अनुश्रवण करने लिए जिस प्रकार राज्य स्तर पर शिक्षा विभाग द्वारा नियंत्रण कक्ष (0612-2215181) की व्यवस्था की गयी है, उसी प्रकार हर जिले के लिए नियंत्रण कक्ष की व्यवस्था सुनिश्चित करते हुए उक्त नियंत्रण कक्ष में प्रतिनियुक्त पदाधिकारी के नाम एवं दूरभाष संख्या / मोबाईल नम्बर प्रकाशित किया जाए. यह व्यवस्था शिक्षक नियुक्ति की प्रक्रिया पूर्ण होने तक प्रत्येक कार्यदिवस पर 10:00 बजे पूर्वाह्न से 6:00 बजे अपराह्न तक संचालित रहेगी. नियंत्रण कक्ष से संबंधित पदाधिकारियों का नाम एवं दूरभाष संख्या / मोबाईल नम्बर अधोहस्ताक्षरी कार्यालय को दिनांक 30.07.2021 तक उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें. दिनांक 29.07.2021 की मध्यरात्रि तक प्रत्येक नियोजन इकाइयों के लिए मेरिट लिस्ट NIC के वेबसाईट पर अपलोड करने की कार्रवाई पूर्ण कर ली जाए. अन्यथा निर्धारित समय तक मेरिट लिस्ट अपलोड नहीं करने की स्थिति में संबंधित नियोजन इकाई के विरुद्ध यथोचित विधिसम्मत कार्रवाई की अनुशंसा की जाएगी. निर्धारित समय तक मेधा सूची अपलोड नहीं होने की स्थिति में उन नियोजन इकाइयों में कॉन्सिलिंग की कार्रवाई तृतीय चक्र में किया जाएगा.

Read more

शिक्षा विभाग में बड़ा उलटफेर

बिहार सरकार ने शिक्षा विभाग में बड़ा उलटफेर किया है. बिहार में करीब 1,30,000 प्राथमिक, मध्य और माध्यमिक, उच्च माध्यमिक शिक्षकों के नियोजन की प्रक्रिया चल रही है. और इसी बीच सरकार ने अपने दो बड़े अधिकारियों को बदल दिया है. इसके अलावा बिहार शिक्षा परियोजना के निदेशक का भी तबादला कर दिया गया है. बिहार शिक्षा परियोजना के डायरेक्टर संजय कुमार सिंह को स्वास्थ्य विभाग का विशेष सचिव बनाया गया है. जबकि डॉ रणजीत कुमार सिंह को प्राथमिक शिक्षा निदेशक के पद से पंचायती राज विभाग भेजा गया है. उनकी जगह अमरेंद्र प्रसाद सिंह को प्राथमिक शिक्षा निदेशक बनाया गया है. माध्यमिक शिक्षा निदेशक गिरवर दयाल सिंह का भी तबादला कर दिया गया है. राज्य स्वास्थ्य समिति के कार्यपालक निदेशक मनोज कुमार को माध्यमिक शिक्षा निदेशक बनाया गया है. श्रीकांत शास्त्री को बिहार शिक्षा परियोजना का राज्य परियोजना निदेशक बनाया गया है. राजेश तिवारी

Read more

प्राइमरी और मिडिल की अलग-अलग दिन होगी काउंसलिंग

बिहार में प्राथमिक शिक्षक नियोजन के लिए शिक्षा विभाग ने अब नया शेड्यूल जारी कर दिया है. जुलाई महीने में बिहार के उन नगर निकाय, प्रखंड और पंचायत नियोजन इकाइयों में काउंसलिंग की घोषणा की गई है जहां दिव्यांग अभ्यर्थियों के आवेदन नहीं आए हैं. पहले शिक्षा विभाग ने जो शेड्यूल जारी किया था उसके मुताबिक 5 जुलाई को नगर निकाय 7 जुलाई को प्रखंड नियोजन इकाई और 12 जुलाई को पंचायत नियोजन इकाई में काउंसलिंग की घोषणा की गई थी. अब इसमें बदलाव करते हुए शिक्षा विभाग ने नया शेड्यूल जारी किया है. नए शेड्यूल के मुताबिक मिडिल स्कूल यानी कक्षा 6 से 8 के शिक्षक अभ्यर्थी 5 जुलाई को नगर निकाय में काउंसलिंग कराएंगे जबकि कक्षा 1 से 5 के शिक्षक अभ्यर्थी 6 जुलाई को नगर निकाय नियोजन इकाई में काउंसलिंग कराएंगे. वही प्रखंड नियोजन इकाई की बात करें तो 7 जुलाई को कक्षा 6 से 8 के शिक्षक अभ्यर्थी प्रखंड नियोजन इकाई में काउंसलिंग कराएंगे जबकि कक्षा एक से पांच के शिक्षक अभ्यर्थी 8 जुलाई को प्रखंड नियोजन इकाई में काउंसिलिंग में शामिल होंगे. 12 जुलाई के शेड्यूल में कोई परिवर्तन नहीं किया गया है. कक्षा एक से पांच के तमाम शिक्षक अभ्यर्थी 12 जुलाई को पंचायत नियोजन इकाई में काउंसलिंग में शामिल होंगे. कितनी जगह होगी काउंसलिंग! 5 जुलाई को कक्षा 6-8 एवं 6 जुलाई को कक्षा 1-5 के लिए- नगर निगम 2, नगर परिषद 23, नगर पंचायत 49 7 जुलाई को कक्षा 6-8 एवं 8 जुलाई को कक्षा 1-5 के लिए- प्रखंड नियोजन इकाई 115

Read more