छठ और सूर्योपासना के मायने

▪️आज जिसकी पूजा का दिन है, वह उन ऋषियों का सूर्य नहीं जिसने उसे सप्ताश्व, मार्तंड और पूषण जैसे वेदोक्त पर्यायों से पुकारा था। यह उन वैज्ञानिकों का सूर्य भी नहीं जो पृथ्वी से उसकी दूरी उसकी किरणों के यात्रा-समय में मापते हैं और अपनी भौतिक जिज्ञासा से प्रेरित होकर यह जान पाने में सफल हो गए हैं कि सूर्य तरल आग और अणुओं-परमाणुओं के बेहद नियंत्रित टूट की प्राकृतिक प्रयोगशाला है! यह उन पंडितों का भी दिन नहीं जिन्हें हम उनके कर्म से अधिक उनके काण्ड से जानते हैं. ▪️यह उन मनुष्यों का दिन है जिन्होंने रात की जानलेवा सुरंग में अपनों और अपने जैसों को खोया था. जिनके लिए आसमान में उगा सोने का गोला एक चमत्कार था और उसका चाँदी जैसी धूप में बदल जाना आकाश का पृथ्वी से प्यार। यह उन पुरखों का दिन है जिनके पास देह को गर्म करने के लिए आग तक नहीं थी।जंगली जाड़े की बेहद ठंडी रातों में तन-मन से ठंडे पत्थरों की गुफा में जीने भर ऊष्मा के लिए दूसरी मानव देह के सिवा और क्या रहा होगा उनके पास ? और क्या रहा होगा सूर्य की ऊष्मा के सिवा जब छोटे दिनों की ठंडी हवाएँ उनके नंगे बदन को चींथकर रख देती होंगी. तब किसे मालूम था कि पेड़ के पत्ते सूर्य के प्रकाश में अपने और अपने इर्द गिर्द बसे जीवों के लिए खाना बनाते हैं; और यह भी किसे पता था कि ऋतु के चक्र का रिंग मास्टर सूर्य ही है और पृथ्वी का गर्भाधान बीज मात्र

Read more

दिल्ली के बिड़ला मंदिर से छठ की अनदेखी तस्वीरें

दिल्ली के भव्य और विशाल बिड़ला मंदिर में भी बड़ी संख्या में लोगों ने छठ के अवसर पर भगवान भास्कर को अर्घ्य दिया. आप भी देखिए वहां की कुछ अनदेखी तस्वीरें patnanow के कैमरे से-   दिल्ली से आशुतोष

Read more

कोहरे की ओट में छिपे रहे सूर्य देव, अर्घ्य के लिए टकटकी लगाये रहे व्रती

उदीयमान सूर्य को अर्घ्य के साथ महापर्व का समापन फलवारीशरीफ में DSP, BDO, थानेदार घूम घूम कर लेते रहे इलाके में सुरक्षा व्यवस्था का जायजा सुबह के अर्घ्य के साथ छठ महापर्व का समापन हो गया. पटना के फुलवारी शरीफ के प्रखंड शिव मंदिर तालाब, करोड़ीचक स्थित गणेश सिंह का तालाब , बहादुरपुर घाट , गोंणपूरा तालाब , बजरंगबली कोलोनी , इश्वरी सिंह का तालाब , खगौल लख , अनीसाबाद मानिक चंद तालाब , भुसौला दानापुर सोंन नगर के विभिन्न घाटों , जानीपुर के अकबरपुर पुनपुन घाट , राजघाट , धरायचक घाट , बीएमपी तालाब घाट , गौरीचक के पुनपुन घाट आदि आस पास के इलाके में शुक्रवार की सुबह उगते सूर्य को अर्घ्य अर्पित करने के साथ ही लोक आस्था का महापर्व छठ संपन्न हो गया. इसके बाद व्रतियों ने उपवास तोड़ा और लोगों ने छठ का प्रसाद ग्रहण किया. इससे पहले आज कोहरे की ओट में छिपे रहे  भगवान सूर्य के निकलने का इंतजार किया. तब तक घाटों पर छठ के गीत गूंजते रहे. टकटकी लगाये व्रतियों ने ज्योंही पूरब दिशा में भगवान सूर्य की लालिमा दिखी, व्रतियों ने भगवान् भास्कर को  अर्घ्य अर्पित करना शुरू किया. कई व्रतियों ने सुर्योदय के समय देख तो अधिकांश व्रतियां भगवान् भाष्कर को निकलने का इन्तजार करके ही अर्ध्य अर्पित किया. फुलवारी शरीफ के प्रखंड शिव मंदिर घाट पर पूर्व मंत्री श्याम रजक ने अर्ध्य दिया . विधायक श्याम रजक ने शिव मंदिर घाट पर दिया अर्ध्य इससे पहले गुरुवार की शाम अस्ताचलगामी सूर्य को अर्घ देने आस्था का जन सैलाब नदी

Read more

छठी मइया करेंगी लालू एंड फैमिली का उद्धार

कई साल के बाद छठ में एक बार फिर लालू यादव के घर रौनक है. पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी लंबे अरसे बाद छठ कर रही हैं. लगातार परेशानियों में घिरे लालू एंड फैमिली को अब छठी मइया से ही आस है. पिछले कुछ वक्त से लालू, राबड़ी,मीसा, तेजस्वी और लालू के दामाद शैलेश लगातार CBI, ED, IT के चक्कर में पड़े हैं. लालू के बड़े बेटे तेजप्रताप और बेटी चंदा भी परेशानियों में घिरते नजर आ रहे हैं. बता दें कि पहले राबड़ी देवी ने कहा था कि वे अपनी बहुओं के आने के बाद छठ करेंगी. लेकिन जब परेशानियां लगातार चारों ओर से घेरने लगीं तो बीमार होने के बावजूद राबड़ी देवी ने फैसला कर लिया कि अब तो छठी मइया ही इन परेशानियों से निजात दिलाएंगी.

Read more

छठ के दौरान रिवर एंबुलेंस लगाएंगे घाटों के चक्कर

River Ambulance रखेंगे छठव्रतियों का ध्यान DM संजय कुमार अग्रवाल ने किया रिवर एम्बुलेंस का शुभारंभ काली घाट से वाटर एम्बुलेंस को किया रवाना 4 वाटर एम्बुलेंस गंगा नदी में रहेंगे घाटों के आस पास भ्रमणशील    गंगा से सटे सभी छठ घाटों पर जिला प्रशासन की ओर से तमाम इतजाम किए गए हैं. डीएम संजय अग्रवाल खुद घाटों पर सारे इंतजामों का जायजा ले रहे हैं. प्रशासन के स्तर से श्रद्धालुओं की सुविधा एवं सुरक्षा के लिए पुख्ता इंतजाम किए गए हैं. घाटों पर इमरजेंसी की स्थिति के लिए डॉक्टरों की टीम और जीवन रक्षक दवाओं के साथ वाटर एम्बुलेंस आज से ही लगातार घाटों पर उपलब्ध रहेगा. ताकि इमरजेंसी की स्थिति में पीड़ितों को जल मार्ग से ही तुरंत PMCH पहुँचाया जा सके- संजय अग्रवाल, डीएम पटना     ये भी पढ़ें-  https://goo.gl/8P3Wso

Read more

खरना के साथ शुरू हुआ 36 घंटे का निर्जला व्रत

महापर्व छठ के दूसरे दिन बुधवार को छठव्रतियों ने खरना किया. बता दें कि लोकआस्था के महापर्व छठ पूजा के दूसरे दिन खरना के रूप में पूजा जाता है. आज के दिन गंगा जल में खीर,रोटी,प्रसाद के रूप में भगवान भाष्कर को भोग लगाकर सभी लोग प्रसाद ग्रहण करते हैं. आज के खरना का प्रसाद का काफी महत्व है. देखिए कैसे पटना में व्रतियों ने किया छठ में खरना- खरना के प्रसाद को ग्रहण करने के बाद छठव्रतियों का 36 घंटे लंबा निर्जला उपवास शुरु हो गया जो अब शुक्रवार को सुबह में उगते सूर्य को अर्घ्य देने के बाद समाप्त होगा. उससे पहले गुरुवार को छठव्रती डूबते सूर्य को अर्घ्य देंगे.   पटना सिटी से अरुण

Read more

दिल्ली सरकार ने छठ पर घोषित की एक दिन की छुट्टी

दिल्ली सरकार ने पहली बार महापर्व छठ की महत्ता को देखते हुए एक दिन की छुट्टी की घोषणा की है. 26 अक्टूबर को दिल्ली सरकार ने छठ के उपलक्ष्य में छुट्टी की घोषणा की है. इससे पहले ये प्रतिबंधित अवकाश की श्रेणी में था. लेकिन छठ के प्रति लोगों की आस्था और स्वच्छता से सीधे जुड़ाव को देखते हुए ये पहल दिल्ली सरकार की ओर से की गई है. दिल्ली में छठ मनाने वाले लोगों के लिए भी ये बड़ी राहत वाली खबर है. साथ ही दिल्ली से छुट्टी लेकर अपने घर आने  वाले लोगों के लिए भी ये काफी सुकून वाली खबर है.

Read more

गंगा घाटों पर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम

पटना में इस बार छठ पूजा के दौरान जिला प्रशासन की ओर से सुरक्षा के तमाम इंतजाम किए गए हैं. बिहार राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की ओर से लगातार श्रद्धालुओं और आम लोगों को घाट पर सावधानी बरतने की हर संभव जानकारी कई तरीकों से दी जा रही है. पटना डीएम जहां लगातार गंगा के घाटों का दौरा कर रहे हैं और तमाम इंतजामों के बारे में बारीकी से नजर रखे हुए हैं वहीं आपदा विभाग ने लोगों के लिए पोस्टर, ऑडियो क्लिप और वीडियो भी जारी किया है. patnanow अपनी सामाजिक जिम्मेवारी के तहत आपदा प्रबंधन का वीडियो आपके लिए यहां उपलब्ध करा रहा है. कृपया छठव्रत से जुड़े और घाटों या नहर या किसी गहरे पानी के पास जाने से पहले इसे जरुर देखें और लोगों को भी बतायें.CLICK HERE सुरक्षित छठ पूजा के लिए कुछ सुझाव: छठ पर्व के दौरान घाटों पर सफ़ाई का विशेष ध्यान रखें. निर्धारित मार्गों पर ही चलें तथा गाड़ियां निर्धारित स्थान पर ही पार्क करें. बुज़ुर्गों एवं छोटे बच्चों की जेब में (या गले में लॉकेट की तरह) घर का पता एवं फ़ोन नंबर अवश्य रख दें. बैरिकेडिंग को न पार करें ,गहरे पानी में न जायें. छठ पूजा क्षेत्र में कहीं भी आतिशबाज़ी न करें. अफ़वाहें न फैलाएं न उन पर विश्वास करें. बिहार राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण 0612-2522032,www.bsdma.org. इधर NDRF की ओर से भी गंगा नदी में सभी घाटों के पास पर्याप्त संख्या में जवानों की तैनाती की गई है साथ ही रिवर एबुलेंस भी किसी तरह की इमरजेंसी के

Read more

लोक आस्था का महापर्व छठ शुरू

लोक आस्था का महापर्व छठ आज से नहाय खाय के साथ शुरू हुआ. अहले सुबह से ही पटना के सभी घाटों पर गंगा स्नान के लिए भारी भीड़ देखी गयी. चार दिन का महापर्व छठ महिलायें निर्जला उपवास रख कर पूरी आस्था के साथ करती हैं और आज व्रती महिलायें भात दाल कड्डू का प्रसाद बना के सभी लोगों को खिलाती है. देखिए कैसे लोग उमड़ पड़े हैं पटना के गायघाट पर नहायखाय के लिए- पटना सिटी से अरुण

Read more