नगर निकाय चुनाव: ‘सरकार की फजीहत के लिए सिर्फ नीतीश जिम्मेदार’

पटना हाईकोर्ट ने मंगलवार को नगर निकाय चुनाव में मनमानी के लिए राज्य निर्वाचन आयोग को जमकर फटकार लगाई है. ऐसे में अब बिहार में होने वाले निकाय चुनाव को लेकर आशंका के बादल मंडरा रहे हैं. इस बीच जदयू और भाजपा एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगाकर एक दूसरे को दोषी ठहरा रहे हैं. इधर पूर्व उपमुख्यमंत्री और भाजपा सांसद सुशील कुमार मोदी ने इस पूरे मुद्दे पर बिहार सरकार की फजीहत के लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को सीधे-सीधे जिम्मेदार ठहराया है उन्होंने कहा कि ये नीतीश कुमार की ज़िद का परिणाम है कि पटना हाई कोर्ट को नगर निकाय चुनाव रोकने का आदेश देना पड़ा. सुप्रीम कोर्ट के ट्रिपल टेस्ट के निर्देश को नीतीश कुमार ने नकार दिया. भाजपा नेता ने तत्काल चुनाव पर रोक लगाने की मांग की है. जदयू के आरोप पर उन्होंने कहा कि जातिगत जनगणना का नगर निकाय चुनाव से कोई सम्बन्ध नहीं है. कोर्ट का कहना था कि एक विशेष आयोग (dedicated commission) बना कर उसकी अनुशंसा पर पिछड़ों को निकाय चुनाव में आरक्षण दें, परंतु नीतीश कुमार अपनी जिद पर अड़े थे. एजी और निर्वाचन आयोग को भी किया अनसुना सुशील कुमार मोदी ने कहा कि यह अत्यंत दुर्भाग्यपूर्ण है कि सीएम नीतीश ने इस मुद्दे पर महाधिवक्ता (AG ) और राज्य निर्वाचन आयोग की राय भी नहीं मानी. एजी और राज्य निर्वाचन आयोग बार बार ट्रिपल टेस्ट की बात कर रहे थे, परंतु मुख्यमंत्री की ज़िद के कारण दोनों को उनके मनोनुकूल राय देनी पड़ी.मनमाने ढंग से चुनाव प्रक्रिया शुरू होने पर

Read more

कृषि और पर्यटन मंत्रालय में बदलाव

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कृषि मंत्री सुधाकर सिंह का इस्तीफा मंजूर कर लिया है. मुख्यमंत्री सचिवालय की ओर से मिली जानकारी के मुताबिक कृषि मंत्रालय का जिम्मा अब कुमार सर्वजीत को दिया गया है. कुमार सर्वजीत के पास पर्यटन मंत्रालय की जिम्मेदारी थी. पर्यटन विभाग का प्रभार उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव को दिया गया है. बता दें कि बिहार के कृषि मंत्री सुधाकर सिंह ने मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया. पिछले कुछ समय से सुधाकर सिंह अपने विभाग के अधिकारियों पर हमलावर थे. वे लगातार पिछले सभी कृषि रोड मैप पर सवाल खड़े कर रहे थे. हाल में उन्होंने कहा था कि बिहार में मंडी व्यवस्था फिर से लागू करेंगे और माना जा रहा है कि उनकी इसी मांग को लेकर बवाल हुआ. पूरी खबर पढ़ें http://bit.ly/3y7HXyK pncb

Read more

सोशल मीडिया बना वार लैंड, लिखा -मुँह नोचा जाएगा!

सोशल मीडिया पर जुबानी जंग दन-दनादन पटना 24 अगस्त. बिहार की राजधानी पटना में राजनीतिक हलचल आज सुबह से तेज है. CBI और ED द्वारा राजद के कई MLC के ठिकानों पर रेड के बाद जहाँ बिहार का सियासी पारा चढ़ा हुआ है वही ऐसी परिस्थिति में सोशल मीडिया पर जुबानी जंग और एक-एक सबूत को रखने का सिलसिला जारी है. रेड को लेकर जहाँ बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी ने अपने ट्वीट में राजद सुप्रीमो को निशाने पर लिया तो रोहणी आचार्या ने अपने एक के बाद एक कई ट्वीट का बोम्बार्डिंग कर दिया. रोहणी ने न सिर्फ विपक्षियों को निशाना बनाया बल्कि मीडिया पर भी अपनी भड़ास निकालते हुए लिखा कि मीडिया चिल्ला-चिल्ला कर बोल रहा तेजस्वी का मॉल है,गजब ये झुठा शोर है. कहो अब भाई के नाम करे ये मॉल. उन्होनें मॉल का फोटो शेयर करते हुए उसमें BJP के नेता को खच्चर तक कह डाला है इस धमकी के साथ कि मॉल से बाहर निकल नही तो मुँह नोचा जाएगा. इन ट्वीटों में कई जगह भाषा की मर्यादा तक मिट गयी. शब्दों के इस जंग में PM को मौवाली और तड़ीपार तक रोहणी ने कह डाला. देखिये किसने क्या कहा… सुशील मोदी का ट्वीट रोहणी आचार्य का ट्वीट

Read more

आठवीं बार बिहार के मुख्यमंत्री बने नीतीश कुमार

नीतीश कुमार ने बिहार के मुख्यमंत्री के तौर पर आठवीं बार शपथ ले ली है. उनके साथ ही तेजस्वी यादव ने दूसरी बार बिहार के उप मुख्यमंत्री पद की शपथ ली है. इन दोनों को राजभवन में राज्यपाल फागू चौहान ने पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई इस दौरान महागठबंधन के तमाम नेता मौजूद थे. 22 साल में नीतीश कुमार ने यह आठवीं बार मुख्यमंत्री पद की शपथ ली है. इस मंत्रिमंडल में बहुत जल्द अन्य मंत्रियों का शपथ ग्रहण भी होने की संभावना है. सूत्रों के मुताबिक महत्वपूर्ण पोर्टफोलियो को लेकर दोनों दलों के बीच सहमति बन चुकी है. हालांकि शिक्षा, कार्मिक और जल संसाधन समेत तमाम महत्वपूर्ण विभाग जदयू के पास ही रहेंगे. बता दें कि 243 सदस्यीय बिहार विधानसभा में फिलहाल अनंत सिंह के हटने के बाद कुल 242 विधायक हैं. इनमें से 164 विधायकों के समर्थन का पत्र नीतीश कुमार ने राज्यपाल को सौंपा है. भाजपा के पास फिलहाल 74 विधायक हैं जबकि एक एआईएमआईएम के विधायक भी विपक्ष में हैं. pncb

Read more

जन-सुराज नई राजनीतिक व्यवस्था की खोज तो नही !

जन-सुराज के लिए लोगों को परखते राजनीति के चाणक्य “अगर कोई व्यक्ति या दल ये समझता है कि वो अकेले बिहार में परिवर्तन ला सकता है तो ये गलत है. किसी भी बदलाव के लिए सामूहिक प्रयास की जरूरत होती है और जब सही लोग सही सोच के साथ सामूहिक प्रयास करेंगे तभी बिहार को देश के अग्रणी राज्यों की सूची में शामिल कराया जा सकता है”- प्रशांत किशोर पटना,14 जुलाई (ओ पी पांडेय) . “जब तक आपको यकीन न हो जाए कि मैं यहीं रहूंगा और बिहार के लिए ही काम करूंगा तब तक आप हमारे साथ मत जुड़िए”, उक्त बातें कहते हैं राजनीति के सबसे बड़े चाणक्य कहे जाने वाले प्रशांत किशोर अपनी “जन सुराज” के दौरान लोगों से संवाद करने में. इतनी दृढ़ता और ईमानदारी से लोगों के समक्ष अपनी बात को रखते हुए प्रशांत किशोर ने बिहार के 9 जिलों में लोगों से अबतक संवाद स्थापित किया है. वैशाली से “जन सुराज” अभियान की शुरुआत करने के बाद प्रशांत किशोर अब तक सीवान, मुजफ्फरपुर, जहानाबाद, पूर्वी चंपारण, पश्चिम चंपारण, गोपालगंज, सारण और समस्तीपुर सहित 9 जिलों में जा चुके है. आने वाले दिनों में अन्य जिलों में भी जाने का योजना है. प्रशांत किशोर की मानें तो सितंबर अंत तक वैसे सभी लोगों से मिलने का प्रयास करेंगे जिन्होंने उनसे संपर्क किया है या जिनसे उन्होंने संपर्क किया है. फिर उसके बाद पदयात्रा के समय सभी जिलों के एक लंबा समय बिताने की योजना है. तब हर उस सही व्यक्ति से मिलेंगे जो बिहार की बेहतरी

Read more

बिहार में बड़ा सियासी उलटफेर, राजद ने कर दिया बड़ा खेल

Rjd, jagdanand singh, pc,

तेजस्वी यादव ने बिहार की सियासत में एक बड़ा दांव चलते हुए ए आई एम आई एम के 4 विधायकों को अपनी पार्टी में मिला लिया है. इसके साथ ही आरजेडी बिहार विधानसभा में सबसे बड़ी पार्टी हो गई है. अब आरजेडी के पास कुल 80 विधायक हैं. जबकि भाजपा के 77, जदयू के 45 और कांग्रेस के 19 विधायक हैं. AIMIM के 5 में से 4 विधायक RJD में शामिल हुए हैं. कोचाधामन सीट से विधायक मोहम्मद इज़हार अस्फ़ी, जोकीहाट से विधायक शाहनवाज़ आलम, बायसी से विधायक रूकनुद्दीन अहमद और बहादुरगंज से विधायक अनज़ार नईमी ने राजद की सदस्यता ग्रहण की. बिहार की सियासत में इसे बड़ा दांव माना जा रहा है क्योंकि विधानसभा के आंकड़े के मुताबिक महागठबंधन और एनडीए के बीच संख्या बल का फासला बहुत ज्यादा नहीं है. विशेष रूप से भाजपा और जदयू के बीच चल रही खींचतान को लेकर सियासी जानकार मानते हैं कि राजद का यह दांव किसी बड़े बदलाव का संकेत हो सकता है. राजद ने इस बार एक तीर से कई शिकार किए हैं. ना सिर्फ अपने पूर्व सहयोगी कांग्रेस को आइना दिखाया है बल्कि भाजपा को भी आंकड़ों के हिसाब से पटखनी दी है. इधर हिना शहाब की राजद से दूरी का भी हिसाब बराबर कर दिया है. राजद के इस मास्टरस्ट्रोक ने खास तौर पर भाजपा की मुश्किलें बढ़ा दी हैं. क्या कहते हैं भाजपा नेता pncb

Read more

कोरोना की मार झेल रहे कुल्हड़िया में पहुँचा ऑक्सीजन

ऑक्सीजन और होम आइसोलेशन किट्स के साथ कुल्हड़िया पहुंचे प्रदेश युवा कांग्रेस अध्यक्ष गुंजन पटेल रिलीफ टीम ने गांव का लिया जायजा, हरसंभव मदद का दिलाया भरोसा Opआरा,31 मई. कुछ दिनों पहले आरा जिले की कुल्हड़िया गांव की एक रिपोर्ट पूरे देश में काफी वायरल हुई थी. उसी रिपोर्ट का संज्ञान लेते हुए रविवार को बिहार प्रदेश युवा कांग्रेस के अध्यक्ष गुंजन पटेल ऑक्सीजन, दवाइयां एवं अन्य जरूरी सामग्रियों के साथ युवा कांग्रेस की रिलीफ टीम के साथ आरा जिले के कोरोना वायरस से त्रस्त कुल्हड़िया गांव पहुंचे. उन्होंने बताया कि कुछ दिनों पहले मुझे मीडिया रिपोर्ट्स के माध्यम से इस गांव के बारे में जानकारी प्राप्त हुई थी. कांग्रेस नेता राहुल गांधी एवं भारतीय युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीनिवास के निर्देशानुसार हम सभी महामारी की शुरुआत से ही लोगों की मदद कर रहे हैं और कई गांवों में कोविड किट्स भेज चुके हैं. इसी क्रम में कुल्हड़िया गांव की ग्राउंड जीरो रिपोर्ट मिलने के बाद हम सभी साथी गांव वालों के लिए ऑक्सीजन कॉन्सन्ट्रेटर, सिलेंडर, दवाइयां, मास्क, सेनेटाइजर और होम आइसोलेशन किट्स लेकर आए हैं. इन सामानों को उपलब्ध कराने का एकमात्र उद्देश्य यही है कि आपात स्थिति में लोगों की जानें बच सके और माइल्ड लक्षण वाले मरीजों का इलाज होम आइसोलेशन में ही हो सके. गुंजन पटेल ने आगे बताया कि बिहार के गांवों की स्थिति बदतर होती जा रही है. सरकार इस ओर देखना ही नहीं चाह रही है. ग्रामीणों के बीच भी जागरूकता की घोर कमी है. ऐसी स्थिति में सरकार को पंचायत स्तरीय

Read more