सोशल मीडिया पर धमकी मामला हुआ सुलह

दोनों पक्षों ने मिलाए हाथ, थानेदार के सामने भी रखी समझौते की बात

आरा, 30 अप्रैल. सोशल मीडिया पर जान से मारने की धमकी देने के मैसेज के बाद उपजे बड़े विवाद के बाद उपरोक्त मामले में आज लगभग 2 बजे दोनों पक्षों को बुलाकर ब्राह्मण समाज के अध्यक्ष अंजनी तिवारी और जदयू नेता पप्पू चौबे ने आपसी बातचीत के बाद मामले को शांत कराया. धमकी मामले में पूर्ववत बताए बात को अखिलेश ने दोहराया और कहा कि पार्टी में मोबाइल से उनके मित्रों ने उक्त मैसेज भेज दिया क्योंकि उनका मोबाइल लॉक नही रहता है. उक्त प्रकरण के लिए दोनों ने एक दूसरे के सामने इस मामले के लिए आपसी विचार रखे और कटुता को खत्म करने के लिए बीच का समझौता का रास्ता अपनाया. उक्त समझौते की बातचीत पप्पू चौबे के घर पर सम्पन्न हुआ जहाँ से दोनों पक्षों ने आपसी विद्वेष मिटा एक दूसरे के कम्प्लेन वापस लिया. मामले से सम्बंधित अधिकारियों को आपसी समझौते की जानकारी भी दे दी गयी है.




अमरेन्द्र चौबे ने ब्राह्मण समाज का शुक्रिया अदा किया जिन्होंने इस बढ़ते विवाद को आपसी विचार-विमर्श से सुलझा लिया. दोनो पक्षो ने शाम को नवादा थानाध्यक्ष के पास भी आपसी समझौते की बात को साझा किया. इस दौरान दोनों पक्षों के साथ ब्राह्मण समाज के अध्यक्ष अंजनी तिवारी भी मौजूद रहे.
थानाध्यक्ष सुबोध कुमार ने पटना नाउ को बताया कि दोनों पक्षो के आपसी समझौते से मामला खुद हल हो गया. उन्होंने कहा कि इस तरह से अगर सभी लोग आपसी विचार से बीच का रास्ता निकालें तो समाज मे कटुता की भावना खत्म हो जाएगी और सभी एक दूसरे का सम्मान भी करेंगे. पुलिस हमेशा ही जनता के हित की भावना ही चाहती है.

आरा से ओ पी पांडेय की रिपोर्ट