बाइक के धक्के से युवक की मौत, सड़क जाम




रात भर शव के साथ सड़क पर जाम लगाए बैठे रहे परिजन व ग्रामीण, वरीय पुलिस प्रशासनिक अधिकारियों को बुलाने, धक्का मारने वाले बाइक सवार की गिरफ्तारी की मांग पर अड़े लोग

सड़क जाम कर बैठे परिजन

फूलवारी शरीफ,अजीत यादव। जानीपुर थाना क्षेत्र के माधोपुर के पास तेज रफ्तार बाइक सवार के धक्के से देर रात एक 35 वर्षीय युवक की मौत हो गई। मृतक की शिनाख्त निहुरा गांव निवासी मल्लू चौहान के रूप में होते ही परिजनों में कोहराम मच गया। घटना के बाद आक्रोशित ग्रामीणों ने शव के साथ फुलवारी धराएचक मार्ग को माधोपुर गांव के पास जाम पर जमकर हंगामा किया । घटना की सूचना मिलते ही मौके पर जानीपुर थाना पुलिस पहुंची और आक्रोशित लोगों के समझाने बुझाने में जुट गये। वहीं घटना की जानकारी मिलते ही स्थानीय विधायक गोपाल रविदास ने प्रशासन के अधिकारियों को मृतक के परिवार को सरकारी मुआवजा दिलाने एवं धक्का मारने वाले युवक की तलाश कर गिरफ्तारी की मांग की है। सड़क दुर्घटना में बल्लू चौहान की मौत के बाद उसके परिजनों का रो रो कर बुरा हाल हो रहा था। मौके पर पहुंचे पुलिस अधिकारियों को ग्रामीणों ने बताया कि धक्का मारने वाला युवक बाइक सवार माधोपुर का रहने वाला है।
इतना ही नही मृतक मल्लू चौहान के परिजनों को मुआवजा दिलाने की मांग को लेकर रात भर शव के साथ सड़क पर जाम लगाए बैठे रहे परिजन व ग्रामीण। परिजन गांव वाले वरीय पुलिस प्रशासनिक अधिकारियों को बुलाने और धक्का मारने वाले बाइक सवार की गिरफ्तारी की मांग पर अड़े हैं। घटनास्थल के पास सैंकड़ो की संख्या में ग्रामीण शव के साथ आक्रोश का इजहार कर रहे हैं । ग्रामीणों का कहना है कि दुर्घटना में जिसकी मौत हुई वह ग्राम निहुरा ,थाना -जानीपुर अंचल ,फुलवारी शरीफ निवासी सूरज चौहान का बेटा मल्लू चौहान है। देर रात कहीं से लौट रहा था तभी एक मोटरसाइकिल सवार ने मल्लू चौहान पिता सरजू चौहान उम्र लगभग 35 वर्ष को जोरदार धक्का मार दिया जिससे रोड पर ही मौत हो गया । मौत के बाद मोटरसाइकिल सवार घटनास्थल से फरार हो गया।
घटना की सूचना मिलने पर स्थानीय ग्रामीण आक्रोशित होकर लाश को लेकर रोड जाम कर दिए हैं और वरीय पुलिस प्रशासन के अधिकारियों को बुलाने की मांग कर रहे है । रिपोर्ट लिखने तक जानीपुर थाना पुलिस घटनास्थल पर पहुंच चुकी है।
इस संबंध में जैसे ही खबर मिली स्थानीय विधायक गोपाल रविदास ने घटना पर दुख व्यक्त करते हुए पटना के डीएम ,एसडीओ और स्थानीय सीओ, वीडियो को खबर की है लेकिन अभी तक कोई भी वरीय पदाधिकारी नहीं पहुंच पाए हैं । रविदास ने पीड़ित परिवार के प्रति सांत्वना देते हुए प्रशासन से पीड़ित परिवार को ₹10 लाख का मुआवजा की मांग की है ।