केदारनाथ में पीएम मोदी ने की पूजा अर्चना

21वीं शताब्दी का तीसरा दशक उत्तराखंड का दशक

केदारनाथ में 400 करोड़ रुपये से अधिक के कार्यों का लोकार्पण और शिलान्यास




ऋषिकेश और कर्णप्रयाग को रेल मार्ग से जोड़ा जा रहा है

केदार नाथ में पूजा अर्चना करते प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी

पीएम मोदी आज केदारनाथधाम में है. नरेन्द्र मोदी ने आज सुबह बाबा केदारनाथ धाम जाकर मंदिर में पूजा-अर्चना की. पूजा-अर्चना करने के बाद पीएम मोदी ने आदि शंकराचार्य की प्रतिमा का अनावरण भी किया। साथ ही पीएम मोदी ने आज बाबा केदारनाथ में 400 करोड़ रुपये से अधिक के कार्यों का लोकार्पण और शिलान्यास भी किया. केदार नाथ धाम में इस वक़्त प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पूजा अर्चना को कैथल में कार्यक्रम को लाइव देखा जा रहा है. प्रधानमंत्री ने कहा कि पिछले 100 सालों में जितने यात्री यहां आए हैं, अगले 10 साल में उससे कई ज़्यादा लोग यहां आने वाले हैं. मेरे शब्द लिखकर रखिए 21वीं शताब्दी का तीसरा दशक उत्तराखंड का दशक है. चारों धाम हाईवे से जुड़ रहे हैं. भविष्य में श्रद्धालु केदारनाथ धाम में कार से आ सके इसकी प्रक्रिया भी शुरू हो गई है. ऋषिकेश और कर्णप्रयाग को रेल मार्ग से जोड़ा जा रहा है। इससे उत्तराखंड में पर्यटन को लाभ मिलने वाला है.

भगवान राम से जुड़े जितने भी तीर्थ स्थान है उनको जोड़कर पूरा सर्किट बनाने का काम चल रहा है. उत्तर प्रदेश में काशी का भी कायाकल्प हो रहा है. विश्वनाथ धाम का कार्य भी तेजी से हो रहा है. अयोध्या में भगवान राम का मंदिर पूरे गौरव के साथ बन रहा है. अयोध्या को उसका गौरव सदियों के बाद वापस मिल रहा है. दो दिन पहले अयोध्या में दीपोत्सव आयोजन को पूरी दुनिया ने देखा। भारत का प्रचीन सांस्कृतिक स्वरूप कैसा रहा होगा आज हम उसकी कल्पना कर सकते हैं. प्रधानमंत्री ने कहा कि श्री आदि शंकराचार्य ने पवित्र मठों के साथ चार धामों की भी स्थापना की। उन्होंने सब कुछ त्याग कर देश, समाज और मानवता के लिए जीने वालों के लिए एक सशक्त परंपरा खड़ी की है. आज आप श्री आदि शंकराचार्य जी की समाधि की पुन स्थापना के साक्षी बन रहे हैं। यह भारत की आध्यात्मिक समृद्धि और व्यापकता का बहतु अलौकिक दृश्य है.