5 दिन बाद लखीसराय के जंगल से मिले दोनो भाई

kidnapping_650_102616094452

आखिरकार 5 दिनों की जद्दोजहद और तमाम कयासों के बीच पटना पुलिस के लिए आज राहत भरी सुबह रही जब पटना एयरपोर्ट से 21 अक्टूबर को अगवा किए गए दिल्ली के दोनो व्यापारी बंधु सकुशल बरामद कर लिेए गए. पटना पुलिस ने लखीसराय पुलिस और CRPF के साथ ज्वायंट ऑपरेशन में दोनों भाइयों को लखीसराय के जंगल से बरामद किया. पटना के एसएसपी मनु महाराज ने अपहरणकांड में फिलहाल 5 अपराधियों की गिरफ्तारी की पुष्टि की है. उन्होंने कहा कि इस अपहरणकांड में रंजीत डॉन का नाम सामने आया है. बता दें कि अपहर्ताओं ने इन दोनों को रिहा करने के लिए 4 करोड़ की फिरौती मांगी थी.




जानकारी के मुताबिक, अपहरणकर्ताओं ने दोनों भाइयों को 200 करोड़ का ठेका देने के बहाने पटना बुलाया था और हवाई अड्डे से ही दोनों को अगवा कर लिया था. जिस इलाके से दोनों भाइयों को बरामद किया गया है. वह नक्सलियों का गढ़ माना जाता है. सूत्रों के मुताबिक दोनों भाइयों के अपहरण में नक्सलियों का हाथ हो सकता है.

दो भाई सुरेश शर्मा और कपिल शर्मा के पिता बाबूलाल शर्मा दिल्ली के एक बड़े मार्बल व्यवसायी हैं. बेटों के अपहरण की ख़बर सुनते ही शनिवार को बाबूलाल शर्मा पटना पहुंचे थे और उन्होंने एयरपोर्ट पुलिस स्टेशन में बेटों के अपहरण की FIR दर्ज कराई थी. अपहरण की ख़बर लगते ही पटना पुलिस ने SIT का गठन किया था. बुधवार की सुबह पटना पुलिस, लखीसराय पुलिस और स्पेशल इन्वेस्टीगेशन टीम ने एक साझा ऑपरेशन के बाद दोनों भाइयों को लखीसराय के चानान के जंगल से बरामद कर लिया.