30 जून से होगी बादशाही पइन की उड़ाही

पटना कमिश्नर ने 2 दिन में काम पूरा करने का दिया निर्देश
नगर निगम, बिजली विभाग और जल संसाधन विभाग को दिए निर्देश
बादशाही पइन के शुरू होने से बारिश में जलजमाव से मिलेगी मुक्ति

पटना के कमिश्नर आनंद किशोर ने शनिवार को पटना के बादशाही पइन को फिर से स्थापित करने और मॉनसून में जलजमाव की समस्या से निपटने के लिए हो रहे कार्यों की समीक्षा की.




पटना कमिश्नर ने पटना नगर निगम के कंकड़बाग अंचल के कार्यपालक पदाधिकारी को निर्देश दिया कि चमन चक से नन्दलाल छपरा में बीच कटाई के लिए चिन्ह्ति जगहों पर जिन चार स्थानों पर सड़क/चालू पथ है, उसके लिए एक मीटर डायामीटर का ह्यूम पाइप पर्याप्त संख्या में (कम से कम 30 की संख्या) 29 जून तक उपलब्ध करवा दें ताकि नाला कटाई के बाद ह्यूम पाइप के माध्यम से रास्तों को सुचारू किया जा सके. कमिश्नर ने जल संसाधन विभाग के अनिसाबाद कार्यपालक अभियंता को निर्देश दिया कि चमन चक से नंदलाल छपरा के बीच जिन तीन जगहों पर ऊर्जा विभाग की हाईटेंशन बिजली के पोल हैं, उन जगहों पर एक मीटर डायमीटर का ह्यूम पाइप लगाकर उसे सुदृढ कर लें ताकि कटाई के क्रम में ये बिजली के खंभे अस्थिर न हों.

पटना कमिश्नर आनंद किशोर ने बादशाही पइन पर कटाई का काम 30 जून से शुरू करने का आदेश दिया और 2 दिनों में इस काम को पूरा करने का आदेश दिया है. कमिश्नर ने इस काम के लिए विधि व्यवस्था के लिए एक दंडाधिकारी के साथ 20 लाठी बल, 5 महिला सिपाही और 1-ं4 सशस्त्रबल की प्रतिनियुक्ति करने का पटना डीएम को निर्देश दिया है.