आरा…मुखिया को गिरफ्तार करने को अड़े सांसद


पप्पू यादव ने दिया प्रशासन 24 घण्टे का अल्टीमेटम
मुखिया की नही हुई गिरफ्तारी तो 15 जुलाई को होगा राजभवन का घेराव

आरा,7 जुलाई. एक स्थानीय मुखिया की गिरफ्तारी को लेकर अड़ गए हैं एक सांसद. ये सांसद कोई और नही बल्कि जाप के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व सांसद पप्पू यादव हैं, जिन्होंने यौनशोषण के मामले में आये एक मुखिया के नाम के बाद उसकी गिरफ्तारी को लेकर प्रशासन को 24 घण्टे का अल्टीमेटम दिया है.




बिलौटी में कस्तूरबा विद्यालय में छात्राओं के साथ यौनशोषण के मामले को लेकर जन अधिकार पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पूर्व सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव ने भोजपुर जिले के शाहपुर बिलौटी के कस्तूरबा विद्यालय गए और वहां के कर्मचारियों से घटना का जानकारी ली. वहाँ से लौटकर आने ने बाद उन्होंने आरा सर्किट हाउस में प्रेस कांफ्रेंस के दौरान उन्होंने कहा कि सरकार किसी की भी सरकारी संस्था के प्रति सरकार गंभीर नहीं है. उसके साथ समाज भी गंभीर नहीं है आखिर क्यों लगातार कस्तूरबा विद्यालय में बच्चियों के साथ यौन शोषण हो रहा है फिर भी सरकार और समाज क्यों नहीं इसके ऊपर कभी रोती है.

खुद बिहार सरकार स्वीकार करती है कि हमारे पास उपकरण नहीं है. बिहार की आखिर क्यों केंद्र सरकार लगातार उपेक्षा करती है. उन्होंने कहा कि संसद में उन्होंने और रंजीत रंजन ने कई बार आवाज उठाया. सरकार क्यों नहीं कस्तूरबा विद्यालय के क्वालिटी और क्वांटिटी पर ध्यान नहीं देती है? यह गंभीर मामला है क्योंकि विद्यालय में नेताओं और रसूखदार की बच्ची नहीं पड़ती है. पटना में बड़े-बड़े नेता और अधिकारी सम्मिलित है जिसके चलते आज तक जांच नहीं हुई. अगर बिलौटी में 24 घंटा के अंदर स्थानीय मुखिया की गिरफ्तारी नहीं होती है तो हमारी पार्टी धरना प्रदर्शन और 15 जुलाई को राजभवन मार्च करेगी. इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में सम्मिलित राष्ट्रीय नेता पूर्व मंत्री अखलाक अहमद, प्रवक्ता डॉक्टर बबन यादव, प्रदेश सचिव अरुण कुमार सिंह, मनोज सिंह, जिला अध्यक्ष डॉ ब्रजेश कुमार सिंह, युवा जिला अध्यक्ष रघुपति यादव, प्रखंड अध्यक्ष संतोष कुमार, लड्डू यादव, सुजीत कुशवाहा,रितेश कुमार, सूरज नाथ सिंह, अविनाश शर्मा मोहम्मद परवेज, मोहम्मद सैफ, और मोहम्मद अहरार मौजूद थे.

आरा से ओ पी पांडेय की रिपोर्ट