उद्यान की योजनाओं की मॉनिटरिंग अब मोबाईल ऐप से

पटना (राजेश की रिपोर्ट) | बिहार के कृषि मंत्री डाॅ॰ प्रेम कुमार ने बृहस्पतिवार 21 फरवरी को पटना अवस्थित पन्त भवन से ई-हाॅर्ट इन्सपेक्शन नामक एण्ड्राॅयड मोबाईल ऐप को लाॅन्च किया.
मंत्री ने इस अवसर पर अपने संबोधन में कहा कि ई-हाॅर्ट इन्सपेक्शन एक एण्ड्राॅयड मोबाईल ऐप है, जिसके माध्यम से राज्य बागवानी मिशन द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं का अनुश्रवण किया जायेगा. इसके साथ-साथ इससे योजनाओं का ग्राउण्ड लेवल पर अद्यतन स्थिति की जानकारी भी प्राप्त की जा सकेगी. उन्होंने कहा कि इस ऐप के माध्यम से तीन स्तरों राज्य स्तर, प्रमण्डल स्तर तथा जिला स्तर पर जाँच की व्यवस्था हो पायेगी. उन्होंने कहा कि यह ऐप उद्यान निदेशालय द्वारा संचालित योजनाओं के अनुश्रवण के लिए बनाई गई है. इससे फसलवार एवं जिलावार निरीक्षण करने की व्यवस्था करने में सुविधा होगी. इस ऐप में अवयव/फसल की रीयल टाईम जियो-टैग्ड फोटोग्राफ लेने की व्यवस्था है. पहला फोटो उत्तर-पूर्व दिशा से, अन्य दो विभिन्न कोने और चैथा सेल्फी मोड में जाँच पदाधिकारी का लिया जायेगा. इससे अवयव/फसल के कार्य पूर्ण होने का प्रतिशत तथा कार्य की गुणवत्ता का अनुश्रवण हो पायेगा. साथ ही, फसल अवयव का लाभ पाने वाले किसान के विवरणी का संकलन भी हो सकेगा.

डाॅ॰ कुमार ने कहा कि इस ऐप से कई फायदे होंगे. इससे योजनाओं के कार्यान्वयन में पारदर्शिता आयेगी. अवयव/फसल के कार्य की वर्तमान स्थिति का विवरण प्राप्त की जा सकेगी. जाँचोपरान्त आंकड़ों का मुख्यालय में संकलन होगा. फसल/अवयव की वास्तविक स्थान की जानकारी प्राप्त की जा सकेगी. जाँच के तीनों स्तरों में से किसी भी स्तर की जाँच का प्रतिवेदन तुरंत उपलब्ध कराने की व्यवस्था होगी. पूर्ण जाँच प्रक्रिया में लगने वाले समय का बचत होगी. कोई भी व्यक्ति, विभागीय वेबसाईट से योजना की जानकारी प्राप्त कर उन्होंने कहा कि जाँचोपरान्त ली गई प्रथम जियो-टैग्ड फोटोग्राफ विवरण सहित उद्यान निदेशालय के विभागीय बेवसाईट पर सभी लोगों के लिए उपलब्ध रहेगा.
इस अवसर पर निदेशक उद्यान नन्द किशोर, संयुक्त निदेशक, उद्यान सुनील कुमार पंकज सहित विभागीय पदाधिकारी एवं कर्मचारीगण उपस्थित थे.