क्या आपने देखा है जल मंदिर महोत्सव ?

त्रिदिवसीय भगवान महावीर स्वामी जल मन्दिर महोत्सव आज से शुरू

आरा. 23 अगस्त. जल मंदिर का नाम सुनते ही उसकी सुंदरता की कल्पना दिमाग में घूमने लगती है और लगता है कि एक बार ऐसे रमणीय जगह पर घूमने जरूर जायें. लेकिन ऐसे मंदिरों पर जब महोत्सव हो तो इसकी खूबसूरती की कल्पना और लाज़मी हो जाती है. क्या आपने कभी ऐसे महोत्सव को देखा है? अगर नही तो इस बार जरूर देखिये भोजपुर जिला मुख्यालय में स्थित जल मंदिर महोत्सव को जिसमे भगवान महावीर कि मुर्ति स्थापित है. श्री 1008 दिगम्बर जैन पंचायती मंदिर के अधीनस्थ श्री 1008 भगवान महावीर स्वामी जल मंदिर जीणोद्धार महोत्सव त्रिदिवसीय कार्यक्रम बहुत ही उत्साह के साथ कार्यक्रम का शुभारंभ हुआ.




शुक्रवार की सुबह देव, शास्त्र, गुरु की आज्ञा प्राप्त कर, ध्वजारोहण का कार्यक्रम पं० नरेश कुमार जैन ‘शास्त्री’ हस्तिनापुर के मंत्रोच्चारण बीच शशि-शैलेन्द्र कुमार जैन व नम्रता-शशांक जैन के परिवार द्वारा किया गया. ध्वजारोहण के पश्चात मण्डप शुद्धि सौधर्म इंद्र-इंद्राणी छवि-अंशु जैन, ईशान इंद्र-इंद्राणी सीमा-मनोज जैन, महेंद्र इंद्र-इंद्राणी शालिनी-सर्वेश जैन, यज्ञनायक इंद्र-इंद्राणी मंजुला-आदेश जैन के द्वारा बड़े ही श्रद्धा एवं भक्तिपूर्वक सम्पन्न किया गया.

जिनेन्द्र देव का भव्य पंचामृत अभिषेक एवं वृहद शांतिधारा करने का सौभाग्य शील जैन, छवि जैन आरा एवं हेमलता जैन बैंगलोर निवासी को प्राप्त हुआ. आज के विधान में संगीतकार सन्तोष जैन एण्ड पार्टी भरतपुर के संगीतमय धुन के बीच विशेष मंत्रोच्चार के साथ भावपूर्वक अर्ध्य इंद्र-इंद्राणियों के द्वारा विधान मंडल पर चढ़ाये गये.

विधान के पश्चात साधर्मी वात्सल्य (भोजन) की व्यवस्था राजेश्वरी जैन जी के परिवार द्वारा किया गया था जिसे सभी भक्तों ने प्रसाद स्वरूप ग्रहण किये. सायंकालीन कार्यक्रम में महाआरती, भजन, प्रश्नमंच एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित थे. कार्यक्रम को सफल बनाने में समिति के संयोजक डॉ शशांक जैन, अजय कुमार जैन, विजय कुमार जैन, मीडिया प्रभारी निलेश कुमार जैन, बिभु जैन, मनीष कुमार जैन, निशांत जैन, सुशांत जैन, प्रीत चंद्र जैन, धीरेंद्र चंद्र जैन, ओंकार अग्रवाल, रेखा जैन, पूर्णिमा जैन, सुधा जैन, सावित्री जैन, के साथ समाज के युवा-युवतियों के भरपूर सहयोग रहा.

आरा से अपूर्वा की रिपोर्ट