बादशाह इंडस्ट्रीज और गुरुद्वारा की तरफ से राहत सामग्री वितरित

पटना (ब्यूरो रिपोर्ट) | बिहार में जोरदार बारिश के कारण कई लोगों की जान जा चुकी है. वही आम भी जनजीवन बुरी तरह अस्त व्यस्त हो गया है. राजधानी पटना के जलमग्न इलाकों में फंसे लोगों को निकालने का काम युद्ध स्तर पर चल रहा है. सोमवार को वायुसेना के हेलिकॉप्टर से खाने के पैकेट और अन्य आवश्यक सामग्री गिरायी जा रही है. सोमवार को पटना के जिलाधिकारी कुमार रवि के नेतृत्व में एसडीआरएफ के दल ने तीन दिनों से पटना के राजेंद्र नगर इलाके में जलजमाव के कारण घर में फंसे उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी और उनके परिवार के सदस्यों को नौका से सुरक्षित जगह पहुंचाया. बिहार की मशहूर लोकगायिका शारदा देवी को भी उनके परिवार के साथ उनके राजेंद्रनगर स्थित निवास से निकाल कर सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया गया, जो बिना बिजली पानी अपने घर में पानी के बीच कैद हो गई थी.

पानी जमाव के बीच बीमारियों का प्रकोप का डर बढ़ गया है. झुग्गी-झोपड़ियों में रहने वालों की स्थिति और भी खराब है. जल से डूबे मुहल्लों, खासकर झुग्गी-झोपड़ियों में राहत सामग्री, दवा, खाद्य पदार्थ के वितरण की व्यवस्था शुरू कर दी गई है.




प्रभावित इलाकों में जहां एक ओर प्रशासन अपनी पूरी ताकत लगा रहा है वही दूसरी तरफ गैर सरकारी एवं प्राइवेट संस्थाएं भी इस नेक काम में आगे आई हैं. इसी क्रम में बिहार की एक अग्रणी कंपनी जो अगरबत्ती बनाती है, बादशाह इंडस्ट्रीज ने गुरुद्वारा के साथ मिलकर कंकड़बाग के प्रभावित क्षेत्रों में राहत सामग्री बांटा. गुरुद्वारा ने अपने लंगर से 3000 पैकेट्स की व्यवस्था की जबकि बादशाह की तरफ से पानी की 1680 बोतलें उपलब्ध कराई गई. बादशाह इंडस्ट्रीज के एमडी जगजीवन सिंह ने कहा कि पूरे राज्य में स्थिति बेहद खराब है. यदि मेरी तरफ से पीड़ित जनसमूहों को कुछ मदद पहुंचती है तो इसके लिए वे सदैव तत्पर हैं और हमेशा तत्पर रहेंगे. ज्ञातव्य है कि जगजीवन सिंह एक एक्टिव सामाजिक कार्यकर्ता भी हैं.