BSSC घोटाले की CBI जांच के लिए 21 को बिहार बंद

सरकार से आरपार की लड़ाई लड़ेगी जन अधिकार पार्टी: पप्‍पू यादव

BSSC घोटाले की सीबीआई जांच की मांग के लिए 21 को बिहार बंद का ऐलान




15 को छात्र जन अधिकार परिषद का राजभवन मार्च

‘घोटाले में शामिल मंत्रियों, विधायकों और अधिकारियों का नाम खुलासा करें सीएम’

जन अधिकार पार्टी (लो) के संरक्षक और सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्‍पू यादव ने कहा है कि पार्टी लाखों छात्रों के भविष्‍य को रौंदने वाली राज्‍य सरकार के खिलाफ अब सीधी और आर-पार की लड़ाई लड़ेगी। उन्‍होंने पटना में कहा कि सरकार के मुखिया नीतीश कुमार को उन 9 मंत्रियों, 21 विधायकों, 9 पदाधिकारियों और सिपहसलारों का नाम उजागर करना चाहिए, जिसका उल्‍लेख बिहार कर्मचारी चयन आयोग के आरोपी परमेश्‍वर राम ने किया है.

श्री यादव ने कहा कि बिहार कर्मचारी चयन आयोग के घोटाले की सीबीआई जांच की मांग के लिए जन अधिकार पार्टी (लो) चरणबद्ध आंदोलन करेगी। पार्टी 12 फरवरी को राज्‍य भर में सरकार का पुतला दहन करेगी। 15 फरवरी को जन अधिकार छात्र परिषद राजभवन मार्च करेगी. पार्टी की ओर से सभी अनुमंडल मुख्‍यालयों पर 17 फरवरी को पेपर लीक घोटाले और बेनामी संपत्ति की जांच की मांग के लिए धरना प्रदर्शन किया जाएगा. यदि सरकार बीएसएससी घोटाले की सीबीआई जांच का आदेश नहीं देती है तो जन अधिकार पार्टी 21 फरवरी को बिहार बंद का आह्वान करेगी.

उन्‍होंने कहा कि पेपर लीक घोटाले में नालंदा के एक व्‍यक्ति का नाम सामने आ रहा है. वह कौन है, इसका खुलासा भी किया जाना चाहिए. पहले लालकेश्‍वर और अब परमेश्‍वर ने बिहार की पूरी शिक्षा और परीक्षा व्‍यवस्‍था को चौपट कर दिया है. सासंद ने कहा कि इन लोगों का सीधा संबंध सत्‍ता शीर्ष से रहा है और सत्‍ता का संरक्षण भी इन घोटालेबाजों को मिलता रहा है.

श्री यादव ने कहा कि बीएसएससी की परीक्षा का पेपर लीक होने से लाखों प्रतिभावान छात्रों को नुकसान उठाना पड़ा है. उनके इस नुकसान की भरपाई कौन करेगा. इसका जवाब भी सरकार को देना होगा.