खून में आइरन की कमी

रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्र (Center for Disease Control and Prevention)’ द्वारा प्रकाशित नवीनतम आंकड़ों के अनुसार, लगभग 9% महिलायें खून में आइरन की कमी से पीड़ित हैं. हालांकि यह अनुपात अपेक्षाकृत कम है, लेकिन आइरन की कमी के कारण विभिन्न बीमारियां हो सकती हैं, जो इलाज के लिए बहुत मुश्किल भी हो सकती हैं.  इसलिए, आइरन की कमी के कारण हुए निम्नलिखित संकेतों को पढ़ें, समझें और जांच करें कि क्या आप उनमें से किसी से पीड़ित हैं –
1.थकावट लगना – मनुष्य की आंतरिक प्रणाली हीमोग्लोबिन के उत्पादन के लिए आयरन का उपयोग करती है, जो शरीर के सभी भागों में ऑक्सीजन ले जाने के लिए जिम्मेदार लाल रक्त कोशिकाओं में एक घटक है. इसलिए, जब खून में आयरन की मात्रा कम हो जाती है, तब पर्याप्त मात्रा में हीमोग्लोबिन नहीं बनता है और सभी अंगों को आवश्यक मात्रा में ऑक्सीजन नहीं मिलता है जिस कारण हम अधिकतर थका हुआ महसूस करते है.
2. फोकस करने में असमर्थता – लोहे की कमी वाले लोग अक्सर न्यूरोट्रांसमीटर के संश्लेषण में परिवर्तन से ग्रस्त होते हैं. इससे कार्यक्षमता और फोकस करने की क्षमता कम हो जाती हैं. इससे परिवार, दोस्त, किताब, संगीत या कुछ भी चीज जिससे हमें लगाव होता है, के प्रति उदासीनता की भावना भी विकसित हो जाती है.
3. सांस लेने में कठिनाई – लोहे की उचित आपूर्ति के बिना, शरीर में ऑक्सीजन की कमी हो सकती है. इसके कारण कोई भी काम करते वक्त सांस लेने में कठिनाई महसूस होती है.
4. त्वचा में चमक का कम हो जाना – क्या आपको लगता है कि आपकी त्वचा की चमक कम हो गई है और पिछले कुछ दिनों में इसका रंग भी हल्का हो गया है ? यदि हाँ, तो यह निश्चित रूप से एक अच्छा संकेत नहीं है. यह खून में आरबीसी की कमी और खून के फ्लो में कमी का एक लक्षण हो सकता है.
5. अपने दैनिक काम करने में समस्या – शरीर में आयरन का निम्न स्तर हमारे सहनशक्ति के स्तर पर प्रभाव डाल सकता है. आइरन की कमी के कारण सीढ़ियों पर चढ़ने या किसी वाहन को पकड़ने या थोड़ी देर तक तैरना भी मुश्किल हो जाता है.
6. मांसपेशियों की परेशानी – खून में लोहे की आवश्यक मात्रा का अभाव मांसपेशियों को सही गति से कार्य करने से रोकता है. नतीजतन, मांसपेशियों में दर्द होने की संभावना हो जाती है.
7.नाखून का नाजुक हो जाना यदि हाल ही में नाखूनों में चम्मच का आकार या नाख़ून थोड़ा उठा-सा लगता है, तो यह संकेत हो सकता है कि आपके शरीर में लोहे की कमी है.अक्सर लोग शरीर में आने वाली परेशानियों/बिमारियों के प्रारंभिक लक्षणों/संकेतों को नज़रअंदाज़ करते हैं. लेकिन अपने स्वास्थ्य को हल्के में नहीं लेनी चाहिए.  इसलिए, यदि उपरोक्त लक्षण को नोटिस करें तो बिना किसी भी देरी के डॉक्टर से सहायता प्राप्त करें.