आठवीं बार भारत बना एशिया का चैंपियन




श्रीलंका को 10 विकेट से हराया

भारत ने फाइनल में श्रीलंका को मात दी

16 गेंद 6 विकेट और बन गया वर्ल्ड रिकॉर्ड

मोहम्मद सिराज की धातक गेंदबाजी के दम पर टीम इडिया ने एशिया कप-2023 के फाइनल में श्रीलंका को 10 विकेट से हरा दिया. इसी के साथ भारत ने आठवीं बार एशिया कप का खिताब जीता है. श्रीलंकाई टीम इस मैच में महज 50 रनों पर ही ढेर हो गई और भारत ने बिना विकेट खोए महज 37 गेंदों पर ये लक्ष्य हासिल कर लिया. ये भारत की गेंदों के लिहाज से सबसे बड़ी जीत है. भारत ने 263 गेंद पहले ये लक्ष्य हासिल कर लिया. सिराज ने इस मैच में सात ओवरों में 21 रन देकर छह विकेट हासिल किए.

भारत ने श्रीलंका को 10 विकटों से हराया

भारत ने श्रीलंका को 10 विकेट से हरा दिया है और इसी के साथ आठवीं बार एशिया कप का खिताब जीता है. मोहम्मद सिराज की शानदार गेंदबाजी के दम पर भारत ने श्रीलंका को महज 50 रनों पर ढेर कर दिया. गिल और इशान की जोड़ी ने भारत का एक विकेट भी नहीं गिरने दिया.

भारत की तरफ़ से मोहम्मद सिराज ने मैच में कुल छह विकेट लिए. उन्हें ‘प्लेयर ऑफ द मैच’ का ख़िताब भी मिला. लेकिन सिराज के यहां तक पहुंचने और इंडियन क्रिकेट टीम का हिस्सा बनने की कहानी संघर्षों से भरी रही है.उन्होंने अपने विनिंग कैश मनी को ग्राउंड स्टाफ को डोनेट कर दिया.

क्या है सिराज की कहानी

साल 1994 में जन्मे सिराज के पिता मोहम्मद गौस ऑटो चालक थे. परिवार की आमदनी सीमित थी इसलिए सिराज को कभी किसी क्रिकेट अकादमी में जाने का मौका नहीं मिला.उन्होंने टेनिस गेंद से लगातार गेंदबाज़ी करके क्रिकेट का ककहरा सीखा. हालांकि शुरू में उनकी ज़्यादा दिलचस्पी बल्लेबाज़ी में थी.साल 2015 में हैदराबाद की रणजी टीम में वो जगह बनाने में कामयाब हो गए. पहले ही सीजन में उन्होंने अपनी शानदार गेंदबाज़ी से सबका ध्यान अपनी ओर खींचा.साल 2017 उनके करियर का टर्निंग प्वाइंट था. 2017 की आईपीएल नीलामी के दौरान हैदराबाद सनराइजर्स और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के बीच उनको अपनी टीम में शामिल करने की होड़ लग गई. नतीजा ये रहा कि उन्हें उनकी बेस प्राइस से 13 गुना ज़्यादा की क़ीमत मिली. उनका बेस प्राइस 20 लाख रुपये था.

सनराइजर्स हैदराबाद ने उन्हें 2.6 करोड़ रुपये में ख़रीदा था

इसके बाद उन्हें न्यूज़ीलैंड के ख़िलाफ़ टी-20 टीम में मौका मिल गया. फिर 2019 में ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ उन्होंने अपना वनडे डेब्यू किया और अगले साल 2020 में ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ ही टेस्ट डेब्यू किया.

स्पोर्ट्स डेस्क