हाइवे बना अपराध और लूट का अड्डा

CSP संचालक को गोली मार लुटा 2 लाख

भोजपुर में अपराधियों का तांडव और बोलबाला रोज की दिनचर्या बन गई है, वही हाईवे इन अपराधियों के लिए अपराध और लूट का अड्डा बन चुका है. पिछले दिनों कई कांडों को अपराधी हाईवे पर अंजाम दे लोगों को मौत की नींद सुला चलते बने, जिन्हें पकड़ना पुलिस के लिए नामुमकिन सा हो गया. घटना को अंजाम दे अपराधी हाईवे से नौ दो ग्यारह हो जाते हैं और घटना में फंसा हुआ व्यक्ति और पुलिस सामने से भागते हुए अपराधियों को देखती रह जाती है.




आज ताजा घटनाक्रम में अपराधियों ने अपना तांडव आरा मोहनिया हाईवे पर दिखलाया. सोमवार की दोपहर बाइक पर सवार हथियारबंद अपराधियों ने आरा-मोहनिया मुख्य मार्ग पर जगदीशपुर थाना क्षेत्र के नारायणपुर के समीप एक CSP संचालक को गोली मार उसके पास से दो लाख रुपये लूट लिए. घटना को अंजाम देने के बाद अपराधी नौ दो ग्यारह हो गए. मृतक जगदीशपुर थाना क्षेत्र के बिमवा मठिया निवासी स्व. शोभित सिंह का पुत्र राकेश सिंह है,उसके साथ एक युवक बिमवां निवासी सत्येंद्र सिंह भी था. बताया जाता है मृतक राकेश इसाढी बाजार में CSP चलाता था. वह आज सुबह जगदीशपुर PNB में पैसा निकालने गया था. 2 लाख 7 हजार रुपए निकालने के वापस लौटने के क्रम में नारायणपुर के समीप हथियारबंद अपराधियों ने उसे काफी करीब से सीने में गोली मार दी. उसके बाद उसके साथी सत्येंद्र सिंह से रुपए से भरा बैग छीन लिया. जख्मी को इलाज हेतु सदर अस्पताल लाया गया. लेकिन रास्ते में ही उसकी मौत हो गयी. घटना की सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची. घटना के बाद परिजनों और गांव के ग्रामीण मिलकर जगदीशपुर थाना क्षेत्र के ईसाढ़ी के समीप सड़क जाम कर प्रदर्शन करने लगे. ग्रामीणों ने अपराधियों को जल्द से जल्द पकड़ने और परिजनों को उचित मुआवजा की मांग की, जिसके बाद पुलिस ने आश्वासन दे जाम को हटाया. बताते चलें कि दो रोज पूर्वी आरा पटना मुख्य मार्ग पर सरकारी के करीब पटना से लौट रहे दो युवकों को अपराधियों ने गोली मारी थी जिसमें कांग्रेस नेता के एक बेटे की मौत हो गई थी और दूसरा घायल हो गया था.

आरा से ओ पी पांडेय की रिपोर्ट