बिहार का विकास दर पूरे देश में सर्वाधिक

पटना (ब्यूरो रिपोर्ट) | उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने सोमवार को विधान मंडल में राज्य का 13वां आर्थिक सर्वेक्षण 2018-19 पेश किया. इस रिपोर्ट के मुताबिक, बिहार का विकास दर एक वर्ष पूर्व के 9.9 प्रतिशत से बढ़कर 2017-18 में 11.3 प्रतिशत हो गया जो पूरे देश में सर्वाधिक है. राज्य का राजस्व अधिशेष (सरप्लस) 2013-14 के 6,441 करोड़ रु.से दूने से भी अधिक बढ़कर 2017-18 में 14,823 करोड़ रु.हो गया. वर्ष 2013-14 से 2017-18 के बीच राज्य का अपना कर राजस्व 19,961 करोड़ रु. से बढ़कर 23,742 करोड़ रु. हो गया. 2017-18 में बिहार में प्रति व्यक्ति आय 31,316 रु.रहा. हवाई यात्रा करने वालों की संख्या 2016-17 के करीब 21 लाख से बढ़कर 2017-18 में 31.11 लाख (50%बढ़ा ). वाहनों की खरीद 2011-12 के 4.40 लाख से बढ़कर 2017-18 में 11.18 लाख (तीन गुना) जिसमें 9.30 लाख सिर्फ दो पहिया वाहन हैं. शहरी क्षेत्र में प्रति 100 व्यक्ति 221 मोबाइल कनेक्शन और ग्रामीण क्षेत्र में यह प्रति 100 व्यक्ति 44 मोबाइल कनेक्शन है. बिहार में औसत आयु (लाइफ एक्सपेक्टेंसी) 2006-10 की अवधि के 65.8 वर्ष से बढ़कर 2012-16 की अवधि में 68.7 वर्ष हो गई.