गरीब रथ में युवती से छेड़खानी

यात्रियों ने चेन पुलिंग कर रोकी ट्रेन

नींद खुल जाने पर लूटने से बची युवती की अस्मत 

14 मिनट तक रुकी रही ट्रेन, मची अफरातफरी  

आनंद बिहार टर्मिनल से भागलपुर जाने वाली गरीबरथ एक्सप्रेस में एक युवती से छेड़खानी का मामला सामने आया है. युवती अपने पिता के साथ कानपुर सेन्ट्रल स्टेशन से ट्रेन में यात्रा कर रही थी. तभी एक युवक ने अहले सुबह सो रही युवती के साथ छेड़खानी का प्रयास किया. युवती की नींद खुल जाने से उसकी अस्मत लूटने से बच गयी. युवती द्वारा हो-हल्ला करने के बाद उसके पिता ने अन्य यात्रियों के सहयोग से आरोपी को पकड़ लिया. ट्रेन के यात्रियों के बीच यह सूचना जंगल के आग की तरह फ़ैल गयी. इसके बाद ट्रेन में ही उसकी जमकर धुनाई कर दी गयी. ट्रेन से सफर कर रहे यात्रियों ने इसकी सूचना कंट्रोल रूम को दी. बक्सर स्टेशन पहुंचने पर यात्रियों ने चेन पुलिंग कर ट्रेन को रोक दिया. जैसे ही स्टेशन पर ट्रेन की चेन पुलिंग हुयी, आरपीएफ और जीआरपी के अधिकारी हरकत में आ गए. इसके बाद ड्यूटी पर तैनात बक्सर आरपीएफ के सब इंस्पेक्टर आरएस मीणा ने स्टेशन पर ऑन ड्यूटी जीआरपी के सिपाहियों व एचसी केके सिंह के साथ मिलकर ट्रेन से आरोपी को गिरफ्तार कर लिया. गिरफ्तार आरोपी भोजपुर जिले के टाउन थाना इलाके का रहने वाला सोनू कुमार, मो. फयाजुद्दीन का पुत्र बताया जाता है. 
जेनरल टिकट पर सफर कर रहा था आरोपी 
गिरफ्तारी के बाद आरपीएफ इंस्पेक्टर ने जो सूचना आरपीएफ इंस्पेक्टर को दी. उसके अनुसार 22406 डाउन गरीब रथ एक्सप्रेस गुरुवार की सुबह 5 बजकर 41 मिनट पर स्टेशन पहुंची थी. जिसे छेड़खानी की सूचना के बाद एसीपी का हॉर्न बजाकर ठहराव के बाद भी खड़ी की गयी. इसके बाद कोच संख्या जी-4 के बर्थ नंबर 28 पर सफर कर रहे शिकायतकर्ता की पकड़ से आरोपी को गिरफ्त में ले लिया गया. जीआरपी सिपाहियों की मदद से आरोपी को थाने ले जाया गया. लेकिन, पीड़ित युवती व उसके पिता ने समयाभाव के कारण पटना में उतरने के बाद एफआईआर दर्ज कराने की बात कही. इस दौरान बक्सर रेलवे स्टेशन पर ट्रेन को करीब 14 मिनट तक रोक कर रखा गया. आरोपी के पास से कानपुर से आरा तक का जेनरल टिकट बरामद किया गया है.

पीआर बांड लिखवाकर आरोपी को छोड़ा 
जीआरपी थानाध्यक्ष अली अकबर खां ने बताया कि जीआरपी और आरपीएफ की संयुक्त कार्रवाई में आरोपी को गिरफ्तार किया गया था. लेकिन, बार-बार आग्रह के बाद भी पीड़ित ने पटना में शिकायत की बात कही. बक्सर रेल थाने में कोई लिखित शिकायत नहीं की. इससे रेल थाना पुलिस ने आरोपी का पहचान पत्र लेकर उससे पीआर बांड भरवाकर छोड़ दिया.     
क्या कहते हैं रेल एसपी
पूरे मामले पर रेल एसपी जितेंद्र मिश्रा ने बताया कि छेड़खानी के मामले कि सूचना उन्हें प्राप्त हुयी है. लेकिन, पीड़ित द्वारा लिखित शिकायत दर्ज नहीं कराई गयी है. मामले की जांच कराई जा रही है.

रिपोर्ट- बक्सर से ऋतुराज