“गंगा कथा” से जगेगी अलख गंगा को बचाने की

‘गंगा जगाओ अभियान’ की दूसरी सात दिवसीय ‘गंगा कथा’ अंधारी ग्राम में 25 जनवरी से 01 फरवरी 2020 तक चलेगी. इस कथा में गंगा विमर्श होगा.
मीडिया प्रभारी प्रभारी अजय साह (बाॅलीवुड अभिनेता) ने बताया कि पहली कथा शुक्लपुरा, भोजपुर में हुई थी जिसे अख़बार के माध्यम से गांव के साथ सोशल मीडिया पर देश भर में लोगों ने भी पसन्द किया था. गंगा कथा को सुनकर लोगों में गंगा नदी के प्रति जागरूकता बढ़ रही है और समाज में गंगा कथा का अन्य तरीकों से भी सकारात्मक असर हो रहा है, जनता पर्यावरण के मुद्दों के प्रति सचेत हो रही है.
कथा की शुरुआत कलश स्थापना से होगी जिस पर पंच तत्वों का आह्वान किया जाएगा. पहले दिन की कथा का विषय होगा-सृष्टि की उत्पत्ति, शिव की उत्पत्ति, गंगा की उत्पत्ति और प्रलय.

गंगा कथा के वक्ता गंगा यात्री के रूप में जाने माने लेखक, कवि,उपन्यासकार, साहित्यकार, नाटककार और फ़िल्म- सिरीयल के पटकथाकार निलय उपाध्याय होंगे, जो गंगोत्री से गंगासागर तक गंगा यात्रा और उस पर आधारित किताब के लेखन को लेकर चर्चा में रहे हैं. गंगा कथा का आयोजन सोन के तटवर्ती ग्राम अंधारी (प्रखंड सहार,) में किया जा रहा है. यह कथा 25 जनवरी से 1 फरवरी तक शाम के 5 बजे से शाम 7 बजे तक होगी. श्रोताओं के रहने की व्यवस्था इस इलाके के प्रसिद्ध स्वतंत्रता सेनानी स्व.ब्रम्हाचारी जी के यहां राजेन्द्र पाठक राजू बाबा के द्वार पर की गई है. आज की बैठक में राजेंद्र पाठक राजू,शालेंद्र राय,भोला मियां,संजय पण्डित ,परशुराम राय, जगन्नाथ चौधरी , राम बदन चौधरी ,मल्लाह समाज के ग्रामीण युवक रंगनाथ राय ,मो.खूश्बूद्दीन अंसारी,डाक्टर कृष्णा सोनी,रवि कुमार सोनी,ध्रुव बाबा आदि उपस्थित थे.




आरा से रवि प्रकाश सूरज और ओ पी पांडेय की रिपोर्ट