हिंदी विभाग के छात्रों और शिक्षकों ने पेश की अद्भुत नजीर

वीर कुँवर सिंह विश्वविद्यालय प्रशासन ने अब सत्र नियमित करने और कदाचारमुक्त परीक्षाओं के आयोजन के लिए अपनी कमर कस ली है. इसका ताजा उदाहरण आज स्नातकोत्तर हिंदी विभाग में देखने को मिला जहाँ विभाग ने चौथे सेमेस्टर की आंतरिक परीक्षा का कदाचारमुक्त संचालन करके शैक्षणिक जगत में अद्भुत मिसाल कायम की है. पिछले कुछ दिनों से यूनिवर्सिटी के कई विभागों में चौथे सेमेस्टर के विद्यार्थियों की आंतरिक परीक्षा चल रही है.

इसी क्रम में पटना नाउ की टीम बिना किसी पूर्व सूचना के हिंदी विभाग पहुँच गयी. वहाँ एक बेंच पर सिर्फ एक ही विद्यार्थी को बैठाया गया था और विभाग के शिक्षक डॉ निलाम्बुज सरोज और डॉ नवनीत कुमार की देखरेख में कदाचारमुक्त परीक्षा सुचारू रूप से चल रही थी.




बात करने पर विभागाध्यक्ष डॉ प्रो रणविजय कुमार ने बताया कि कदाचारमुक्त परीक्षा और नियमित क्लास को इस विभाग ने प्राथमिकता दी है, और इस प्रयास का परिणाम आने वाले समय में दिखेगा जब इस विभाग के विद्यार्थी देश के कोने कोने में अपनी विद्वता का लोहा मनवायेंगे. आज विद्यार्थियों के लिए आंतरिक साक्षात्कार का भी आयोजन किया गया था.
आरा से रवि प्रकाश सूरज और वैभव कुमार पाठक की रिपोर्ट