पैरा-एथलीट दीपा मलिक को चार करोड़ रुपये दिए मोदी ने

पैरा-एथलीट दीपा मलिक को चार करोड़ रुपये का पुरस्कार

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने को रियो पैरालम्पिक में रजत पदक जीतने वाली पैरा-एथलीट दीपा मलिक को चार करोड़ रुपये का नकद पुरस्कार देकर सम्मानित किया. प्रधानमंत्री ने हरियाणा की स्थापना के 50 साल पूरे होने पर आयोजित स्वर्ण जयंती समारोह के दौरान दीपा को सम्मानित किया.इस मौके पर प्रधानमंत्री के साथ हरियाणा के राज्यपाल कप्तान सिंह सोलंकी, मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर और हरियाणा के खेल मंत्री अनिल विज भी मौजूद थे.दीपा इसी साल सितंबर में ब्राजीलियाई महानगर रियो डी जनेरियो में हुए पैरालम्पिक खेलों की गोला फेंक स्पर्धा में रजत पदक जीत कर पैरालम्पिक खेलों में पदक जीतने वाली भारत की पहली महिला एथलीट बनीं.2012 में अर्जुन अवॉर्ड से सम्मानित दीपा के कमर से नीचे का हिस्सा लकवाग्रस्त है. छह वर्षो तक व्हीलचेयर पर यूं ही गुजारने के बाद दीपा ने पैरा खेलों में हाथ आजमाना शुरू किया.




-deepa-malik-pm-modi

46 साल की दीपा मलिक, रिटायर्ड कर्नल बिक्रम सिंह की वाइफ हैं। वहीं उनके पिता कर्नल बीके नागपाल भी आर्मी में ही थे.दीपा की फैमली में हसबैंड के अलावा दो बेटियां हैं. उनकी बड़ी बेटी का नाम देविका है और छोटी बेटी का नाम अम्बिका है.दीपा ने 36 साल की उम्र में अपने खेल की शुरुआत की थी.दीपा को शॉटपुट के अलावा भी कई गेम्स में महारथ हासिल है. वे जेवलिन थ्रो, डिस्कस थ्रो, स्विमिंग और मोटर स्पोर्ट्स से भी जुड़ी हुई हैं.एक स्पोर्ट्स पर्सन होने के अलावा दीपा एक एंटरप्रेनर भी रही हैं. उन्होंने 7 सालों तक कैटरिंग और रेस्टोरेंट बिजनेस भी किया है. इसके अलावा दीपा एक मोटिवेशनल और इंस्पिरेशनल स्पीकर भी हैं. वे अलग-अलग इवेंट्स में लोगों को मोटिवेट करने के लिए स्पीचेस देने जाती रहती हैं. वे पहली इंडियन लेडी हैं जिन्हें मोडिफाई व्हीकल चलाने का लायसेंस मिला था.