अपराधियों पर कोर्ट की सख्ती, 1 को फांसी और 7 को उम्रकैद


जस्टिस : कोर्ट बम ब्लास्ट आरा
फांसी, उम्रकैद के साथा किया फाइन भी

आरा,21 अगस्त. आरा सिविल कोर्ट के अंदर बम ब्लास्ट मामले में साढ़े 4 साल बाद सिविल कोर्ट ने 8 दोषियों के खिलाफ सजा के बिंदु पर सुनवाई करते हुए बड़ी सजा का ऐलान किया. कोर्ट बम ब्लास्ट के मास्टर माइंड लंबू शर्मा को कोर्ट ने फांसी की सजा सुनाई है,जबकि इस कांड में संलिप्त कुख्यात चांद मियां नईम मियां प्रमोद सिंह समेत 7 दोषियों को आजीवन कारावास व अलग-अलग सेक्शन में आर्थिक दंड की भी सजा मुकर्रर की है. सजा का ऐलान आरा सिविल कोर्ट एडीजे-3 त्रिभुवन यादव की कोर्ट ने सुनाया है. इस दौरान फैसला सुनने के लिए सिविल कोर्ट कैंपस के अंदर लोगों की भारी भीड़ जुटी हुई थी, जिसको लेकर भोजपुर पुलिस प्रशासन ने कोर्ट कैंपस में सुरक्षा का पुख्ता इंतजाम किया था. कोर्ट बम ब्लास्ट कांड के सभी 8 दोषियों की सजा के बाद अपर लोक अभियोजक प्रशांत रंजन ने बताया कि 23 जनवरी 2015 को आरा सिविल कोर्ट के अंदर बम ब्लास्ट मामले में कुल 8 दोषी करार दिए गए थे, जिन पर मंगलवार को एडीजे-3 त्रिभुवन यादव की कोर्ट ने सजा के बिंदु पर आज अपना फैसला सुनाया है. कोर्ट ने कोर्ट में हुए बम ब्लास्ट का मुख्य दोषी लंबू शर्मा को माना है जिसको फांसी की सजा सुनाई गई है. जबकि कुख्यात चांद मियां नईम मियां प्रमोद सिंह समेत 7 दोषियों को आजीवन कारावास व आर्थिक दंड की सजा सुनाई गई है. इस कांड में कुल 11 लोगों को आरोपी बनाया गया था.





बताते चले कि आरा सिविल कोर्ट में हुए बम ब्लास्ट मामले में कोर्ट ने पर्याप्त साक्ष्य न होने के अभाव में 3 को बरी कर दिया है, जिसमें पूर्व विधायक सुनील पांडेय, संजय सोनार व विजय शर्मा शामिल थे. न्यायालय ने इस सजा का ऐलान दो दिन पूर्व ही कर दिया था. जिसमें कुख्यात लंबू शर्मा, नईम मियां और चांद मियां समेत 8 आरोपियों को कोर्ट ने दोषी पाया था. कुख्यात लंबू शर्मा,नईम मियां,चांद मियां, अखिलेश उपाध्याय,श्याम बिनय शर्मा,प्रमोद सिंह,रिंकू यादव व अंशु कुमार को दोषी करार दिया गया था, जिसपर मंगलवार को कोर्ट ने अपना सुनाया.

इन धाराओं में आरोपी पाए गए दोषी

  1. लंबू को 302,307,326,353,115,120(B) विस्फोटक अधिनयम 3/4/5 में फांसी की सजा के साथ अतिरिक्त विभिन्न धाराऒं में 22 हजार जुर्माना
  2. अखिलेश पर 302 में आजीवन के अतिरिक्त विभिन्न धाराऒं में 42000 फाईन
  3. नईम मियां पर 302 में आजीवन के अतिरिक्त विभिन्न धाराऒं में 40000 फाईन
  4. चांद मियां पर 302 में आजीवन के अतिरिक्त विभिन्न धाराऒं में 40000 फाईन
  5. श्याम विनय शर्मा पर 302 में आजीवन के अतिरिक्त विभिन्न धाराऒं में 40000 फाईन
  6. प्रमोद सिंह पर 302 में आजीवन के अतिरिक्त विभिन्न धाराऒं में 40000 फाईन
  7. रिंकू यादव पर 302 में आजीवन के अतिरिक्त विभिन्न धाराऒं में 40000 फाईन
  8. अंशु कुमार पर 302 में आजीवन के अतिरिक्त विभिन्न धाराऒं में 40000 फाईन

ओ पी पांडेय की रिपोर्ट