गायक भूपिंदर सिंह को देशवासियों ने दी नम आंखों से आखिरी विदाई

 




पंचतत्व में विलीन हुआ पार्थिव शरीर

पीएम नरेंद्र मोदी ने भी जताया दुःख

मशहूर गायक भूपिंदर सिंह का सोमवार को 82 वर्ष की उम्र में निधन हो गया. वह पिछले कुछ समय से बीमार थे. उन्होंने मुंबई के क्रिटिकेयर एशिया अस्पताल में 18 जुलाई की शाम को 7:45 बजे अंतिम सांस ली. भूपिंदर के गुजर जाने से एक ओर जहां सितारों से लेकर पीएम नरेंद्र मोदी ने उन्हें याद किया तो दूसरी ओर सोशल मीडिया यूजर्स ने भी उन्हें श्रद्धांजलि दी. भूपिंदर, कोरोना संक्रमित भी थे, ऐसे में देर रात भूपिंदर सिंह का पार्थिव शरीर अंतिम संस्कार के लिए मुंबई के श्मशान घाट लाया गया और दिग्गज गायक पंचतत्व में विलीन हो गए.

रात पौने दो पहुंचे श्मशान पहुंचा शव

न्यूज एजेंसी एएनआई के ट्वीट के मुताबिक रात करीब पौने दो बजे गायक भूपिंदर सिंह का पार्थिव शरीर अंतिम संस्कार के लिए मुंबई के श्मशान घाट लाया गया. एएनआई ने ट्वीट में श्मशान घाट से कुछ तस्वीरें भी शेयर की हैं, जिसमें रोते बिलखते उनके परिजन भी नजर आ रहे हैं. अमर उजाला ने अपनी रिपोर्ट में बताया है कि इसके बाद भूपिंदर का अंतिम संस्कार कर दिया गया.

जानकारी के मुताबिक भूपिंदर सिंह का अंतिम संस्कार उनके बेटे निहाल सिंह ने रात में ही किया, क्योंकि वो कोविड संक्रमित थे. वहीं कोरोना की वजह से भूपिंदर का इलेक्ट्रिक क्रिमेशन किया गया.  नवभारत टाइम्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक म्यूजिक डायरेक्टर उत्तम सिंह ने बताया था कि कोविड संक्रमित होने की वजह से भूपिंदर सिंह का अंतिम संस्कार ओशिवरा इलेक्ट्रिक क्रिमेशन में किया गया.

PNCDESK