दसवीं की परीक्षा में छोटे शहरों का जलवा, पटना के स्टूडेंट्स ने भी दिखाया दम

CBSE दसवीं की परीक्षा में इस बार बिहार के छोटे शहरों ने कमाल कर दिया है पटना जोन में जहां एक बार फिर बेटियों ने बेहतर प्रदर्शन किया है वही औरंगाबाद गया बांका और कटिहार के बच्चों ने भी टॉप टेन में जगह बनाई है.

बिहार में पूर्णिया के बीपी स्कूल की छात्रा बॉबी प्रशांत 99.2% अंकों के साथ बिहार में टॉपर रही हैं. पटना के केंद्रीय विद्यालय की अलीफा ने 99 फ़ीसदी अंक हासिल किए हैं जबकि नोट्रेडेम अकैडमी की नव्या ने भी 99% अंक हासिल किया है.




इनके अलावा गया के ज्ञान भारती स्कूल की मुस्कान को भी नियंत्रित एजेंट मिले हैं. कटिहार की जानवी, औरंगाबाद डीएवी के श्वेताभ श्रीवास्तव और बांका के अद्वैत मिशन स्कूल के निखिल कुमार ने भी 99 अंक हासिल किए हैं. पटना जोन में 90.69% परीक्षार्थियों को सफलता मिली है. 2019 की तुलना में 2020 में 1.17 सीसी छात्र कम पास हुए हैं.

2020 के रिजल्ट में केंद्रीय विद्यालय का जलवा रहा है. रिजल्ट में सबसे ऊपर केंद्रीय विद्यालय के छात्र रहे हैं. पटना जोन की बात करें तो यहां केंद्रीय विद्यालय के 98.87% छात्र पास हुए हैं.

पटना की विद्युत बोर्ड डीएवी के सभी 594 छात्र-छात्राएं सफल हुए हैं. डीएवी बीएसईबी कॉलोनी के आयुष प्रतीक को 98.4% मार्क्स मिले हैं जबकि सनोज एस विजेंद्र को 98.2% मार्क्स प्राप्त हुए हैं. 97% मार्क्स के साथ कनिष्क राय अपने स्कूल में तीसरे स्थान पर रहे हैं.

बाल्डविन अकैडमी पटना के सौरभ कुमार 97.4% मार्क्स के साथ स्कूल टॉपर रहे हैं.

डॉ जी एल दत्ता डीएवी में 96.6% मार्क्स के साथ आयुष कुमार स्कूल के टॉपर रहे हैं. रानी और श्रेया सिंह को 96.2% मार्क्स मिले हैं.

पटना के न्यू एरा पब्लिक स्कूल के विकास और मयंक झा 93.2% मार्क्स के साथ स्कूल टॉपर रहे हैं.

पटना सेंट माइकल स्कूल के आयुष कुमार सिन्हा 95.8% मार्क्स के साथ अपने स्कूल के टॉपर रहे.

पीएनसी ब्यूरो