मुख्यमंत्री नीतीश कुमार live …

प्रधानमंत्री मोदी के जन्मदिन पर बिहार में मेगा वैक्सीन ड्राइव की शुरुआत

Read more

पढ़ते समय कहानियों के पात्र मेरे आगे खड़े हो जाते थे- रेणु

एक अभिनेत्री की कहानी रेणु सिन्हा की कलम से .. पढ़ते समय कहानियों के पात्र मेरे आगे खड़े हो जाते थे, उनकी दुनिया मेरे आसपास बस जाती थी शायद उसी समय अभिनय और थियेटर के प्रति मेरे रुझान के बीज पड़ गए.. यह कहते हुए मुझे अजीब तो लगता है लेकिन यह सच है कि बचपन में अक्षर – ज्ञान मिलते ही मैं हिंदी साहित्य का अध्ययन करने लगी थीं साथ ही कविताएँ, कहानियाँ लिखने की भी कोशिश करती थी । दस वर्ष की अवस्था तक पहुँचते – पहुँचते मैंने भी अमृत लाल नागर, भगवती चरण वर्मा, धर्मवीर भारती, श्रीलाल शुक्ल और आचार्य चतुर सेन जैसे तकरीबन सभी नामचीन साहित्यकारों की पुस्तकों का अध्ययन कर लिया और बाद में अंग्रेजी साहित्यकारों को भी पढ़ा। अभी के उपन्यासकारों में अंग्रेजी के अभिताव घोष मुझे बेहद पसंद हैं । पढ़ते समय कहानियों के पात्र मेरे आगे खड़े हो जाते थे, उनकी दुनिया मेरे आसपास बस जाती थी । शायद उसी समय अभिनय और थियेटर के प्रति मेरे रुझान के बीज पड़ गए, लेकिन उन सपनों को मूर्त रूप देने में परिस्थितियों की सहयोग नहीं मिल सका । अन्य महिलाओं की तरह मैंने भी घर-परिवार की जिम्मेदारियों में ही अपने वजूद को कहीं खो सा दिया था। लेकिन कहते “Its better late than never”. यूँ कहें कि “देर आए, दुरुस्त आएँ” तो 2017 में मेरी कविताओं का संग्रह पुस्तक रूप में “स्वयंत” नाम से प्रकाशित हुआ । इसने मुझे खुशी तो दी लेकिन पूरा संतोष नहीं मिला | जब भी नाटक था थियेटर

Read more

महात्मा गांधी पीएमसीएच में …

पुष्यमित्र की कलम सेमहात्मा गांधी जी का यह बड़ा दुर्लभ चित्र है। इस चित्र में बाईं तरफ कोने में बापू बैठे हैं। मुंह पर मास्क लगाये। सामने कई डॉक्टर नजर आ रहे हैं। यह पटना के पीएमसीएच के ऑपरेशन थियेटर का दृश्य है। तारीख 15 मई 1947, रात के 8 से 9 बजे के बीच। गांधी की पोती मनु का एपेंडिक्स का ओपरेशन चल रहा है। यह चित्र इसलिये भी दुर्लभ है क्योंकि गांधी इलाज के लिये एलोपेथी पर बिल्कुल भरोसा नहीं करते थे। वे अपना इलाज प्राकृतिक चिकित्सा से ही करते थे और दूसरों को भी इस बारे में सलाह देते थे। मगर जब मनु गांधी का दर्द बरदास्त से बाहर हो गया तो उन्होने एलोपेथी की सर्जरी के आगे आत्मसमर्पण कर दिया। यह उस दौर की बात है जब बिहार के साम्प्रदायिक दंगों के बाद शांति मिशन के सिलसिले में गांधी पटना आये थे। वे लगभग दो महीने मार्च से मई तक यहां रहे। मनु गांधी नोआखली से ही उनकी सेवा के लिये उनके साथ रहती थी। आखिर तक रही। पटना में गांधी मैदान के पास डा सैयद महमूद के घर में उनका ठिकाना था। गांधी इस लम्बी अवधि के दौरान जहां ठहरे थे वह छोटा सा मकान आज भी एएन सिन्हा इंस्टीटयूट के परिसर में है। मगर अब वहां लगभग कोई नहीं जाता। कोई आयोजन नहीं होता। एकाध बार इसकी मरम्मत जरूर हुई मगर अब भी उपेक्षित पड़ा है। उसी मकान में रहते हुए मनु गांधी के एपेंडिक्स का दर्द शुरू हुआ था। पहले तो गांधी ने

Read more

‘उसका फैसला’ का लोकार्पण

कहानियों का संग्रह है ‘उसका फैसला’ साहित्यकार डॉ. नीरज सिंह की सद्य प्रकाशित पुस्तक का लोकार्पण डॉ. कुंती सिंह को समर्पित है ‘उसका फैसला‘ आरा: कहानी संग्रह ‘उसका फैसला’ डॉ नीरज सिंह की नई पुस्तक का नाम है जिसे अभिधा प्रकाशन ने प्रकाशित किया है । इस पुस्तक को डॉ. नीरज सिंह ने अपनी जीवन संगिनी डॉ. कुंती सिंह को समर्पित की है । इसका लोकार्पण भी उन्हीं के हाथों एक पारिवारिक आयोजन में सम्पन हुआ था । पुस्तक का सार्वजनिक लोकार्पण पटना के जमाल रोड स्थित जनवादी लेखक संघ के राज्य कार्यालय में सुप्रसिद्ध कवि श्रीराम तिवारी , सीटू के पूर्व राज्य महासचिव अरुण कुमार मिश्र, बिहार माध्यमिक शिक्षक संघ की पत्रिका ‘ प्राच्यप्रभा ‘ के संपादक चर्चित कवि विजय कुमार सिंह , जनवादी लेखक संघ ,बिहार के सचिव चर्चित युवाकवि कुमार विनीताभ , शिक्षक नेता और साहित्यकार शाह जफर इमाम तथा हिदी और मगही के चर्चित साहित्यकार घमंडी राम के हाथों सम्पन्न हुआ.कार्यक्रम में जनवादी सांस्कृतिक मोर्चा , बिहार के अध्यक्ष प्रख्यात लोकगायक अशोक मिश्र , राज्य किसान सभा के उपाध्यक्ष अरुण कुमार , आलोचक युगलकिशोर दुबे , डॉ उपेंद्र कुमार यादव , उर्दू के युवा कवि – आलोचक जफर इकबाल , युवा कवि सुनील प्रिय आदि अन्य कई गणमान्य व्यक्ति भी उपस्थित थे. डॉ नीरज सिंह की कहानियों में है क्या क्लासिक अंदाज की मुकम्मल संरचना नीरज सिंह की ज्यादातर कहानियों में मिलती है, इसे आप इस संग्रह से गुजरते हुए सहज ही गौर कर सकते हैं। इसके साथ-साथ, इस बात पर भी गौर कर सकते हैं

Read more

गंभीर मरीजों को पटना एम्स नहीं उपलब्ध करा पा रहा आईसीयू बेड

एम्स में 85 बेड वेंटिलेटर युक्त हैं जो सभी मरीजों से फूल हैंकई दिनों से एम्स पटना में ईलाज कराने आ रहे गंभीर रूप से बीमार मरीजों को अस्प्ताल दर अस्प्ताल भटकना पड़ रहा है एम्स निदेशक ने खड़े किए हाथ फुलवारी शरीफ ,अजीत। कोरोना के मामले में कमी आने के बाद इमरजेंसी और गंभीर रूप से बीमार मरीजों के इलाज के लिए शुरू हुए एम्स पटना का इमरजेंसी एंड ट्रामा विभाग की सारी बेड फूल हो चुकी है ऐसे में बिहार में मरीज़ो को समुचित स्वास्थ्य सुविधाओं को पूर्ण रूप से उपलब्ध कराने का सरकार का दावा पूरी तरह खोखला साबित हो रहा है। सरकार चाहे लाख दावे करे लेकिन हकीकत यह है कि बिहार स्वास्थ्य सेवाएं बुरी तरह चरमराई हुई हैं । लोग अपने बीमार परिजन को लेकर अस्पतालों के चक्कर लागते फिर रहे हैं लेकिन उन्हें अस्पतालों में भर्ती करने से यह कहकर इनकार कर दिया जा है कि गंभीर मरीजों के लिए जरूरी आईसीयू और वेंटिलेटर सुविधाओं वाली बेड खाली नही है। हालत बद से बदतर होते जा रहे है लेकिन कोई जिम्मेवार अधिकारी इस ओर ध्यान नही दे रहे हैं । गौरतलब हो कि दिल्ली के बड़े-बड़े अस्पतालों में गंभीर रुप से ग्रस्त मरीजों को भर्ती व ईलाज कराने पहुंचने वालों में सबसे अधिक बिहार और आसपास के राज्यों के भीड़ को कम करने के इरादे से सरकार ने बिहार में पटना एम्स की स्थापना की थी। बिहार के गरीब परिवार के मरीजों को सस्ते दर पर बेहतर इलाज और अत्याधुनिक चिकित्सकीय सुविधा उपलब्ध कराने

Read more

गिरफ्तारी और मुआवजा के लिए प्रदर्शन

करबिगहिया में लोगों का आक्रोश तीन गर्भवती गायों को जला कर मारने वालों की गिरफ्तारी की मांग पटना : बीते दिनों पटना के जक्कनपुर थाना क्षेत्र के पोस्टल पार्क के खटाल में आग लगाई गई थी जिसमें आग लगने से तीन गभर्वती गाय की जलने से मौत हो गई थी आज इसी को लेकर पोस्टल पार्क के पास पीड़ित और स्थानीय लोगों ने सड़क जाम कर आरोपियों को गिरफ़्तारी की मांग करते हुए मुआवजा दिलाने को लेकर प्रदर्शन किया। बात में पुलिस और प्रशासन के सहयोग से जाम हटाया गया

Read more

लोक पंच कार्यालय का शुभारंभ एवं बैडमिंटन टूर्नामेंट का आयोजन

पटना: लोक पंच कार्यालय का उद्घाटन एवं बैडमिंटन टूर्नामेंट संपन्न हुआ.लोक पंच के उपाध्यक्ष कुमार रोहित ने फीता काटकर लोक पंच कार्यालय का उद्घाटन किया एवं बैडमिंटन के विजेताओं को स्मृति चिन्ह एवं कैश देकर सम्मानित किया.बैडमिंटन टूर्नामेंट में प्रथम स्थान अभिनव दूसरा स्थान हर्ष आनंद एवं तीसरा स्थान आदित्य झा का रहा.वही म्यूजिकल चेयर में विजेता बच्चों को लोक पंच के संरक्षक मंडल के सदस्य ऋषि पांडे ने स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया.अभिषेक राज, नेहा, अमित, देवेन्द्र, रजनीश, कृष्ण, विवेक एवं दीपा दीक्षित ने सांस्कृतिक कार्यक्रम से लोगों का मनोरंजन किया.कार्यक्रम के अंत में लोक पंच के सचिव मनीष महिवाल ने लोगों को धन्यवाद दिया और कार्यक्रम समाप्ति की घोषणा की. PNC

Read more

मुख्यमंत्री का जनता दरबार LiVE

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के जनता दरबार में आज क्या हो रहा है इसे देखें नीचे दिए हुए लिंक पर क्लिक करें

Read more

“राइडर्स टू द सी” की बेहतरीन प्रस्तुति पटना में

नाट्य प्रस्तुति कल्पनाओं और वास्तविकता के मूल को ध्यान में किया गया जो एक बेहतरीन प्रस्तुति थी -संजय उपाध्याय कलाकारों ने अपने संवाद सम्प्रेषण और निर्देशक की रचनाशीलता प्रस्तुति को जीवंत बनाती है – परवेज अख्तर पटना: नाट्य संस्था वाइटल इन्वेंशन ऑफ सोशल हारमोनी विद आर्ट (विश्वा) ने जॉन मिलिंगटन सिन्ज लिखित एवं राजेश राजा निर्देशित नाटक “राइडर्स टू द सी” का मंचन कालिदास रंगालय गांधी मैदान पटना में हुआ। कार्यक्रम का उद्घाटन पटना की मेयर सीता साहू ,परवेज अख्तर,संजय उपाध्याय ,बिहार पुलिस मेंस एसो के अध्यक्ष मृत्युंजय कुमार सिंह और अन्य ने किया ।इस मौके पर संस्था की ओर से आगत अतिथियों को सम्मानित भी किया गया । नाटक की कहानी समंदर के सवार एक दुखांत कथा है। यह एक ऐसे परिवार की कहानी है जो एक समुद्री टापू पर रहता है, जिसमें एक माँ अपने दो बेटियों और एक बेटे के साथ रहती है। उस स्त्री ने अपने पति और अपने 4 बेटों को समंदर में खो दिया है घर में कमाने वाला सिर्फ एक ही बेटा बच्चा है और वो भी छोड़े बेचने टापू के पार जा रहा है समुद्री जीव से उस मां को ये डर है की रात होने तक उसका कोई भी पुत्र जीवित नही रहेगा इसलिये वो अपने बेटे को समंदर में नहीं जाने को कहती है पर वो अंतिम बेटा समुद्र में चला जाता है। अपने अकेले बचे बेटे के भी समंदर में जाने से मां विक्षिप्तता की स्थिति में भ्रम और सच्चाई के बीच संघर्ष करती है उसे अपने सारे खोए

Read more

भगवान बलभद्र की जयंती सह सम्मान समारोह

आरा में जल्द ही बनेंगे सड़क और नालियां -उप मुख्यमंत्री बियाहूत कलवार सेवा का कार्यक्रमकलवार समाज को अनुसूचित जाति की श्रेणी में रखा जायइस मौके पर 110 लोगों को सम्मानित किया गया सीए की पढ़ाई कर रही छात्रा राधा कुमारी को 35000 का चेक डिप्टी सीएम आरा, वियाहुत कलवार सेवा संघ ट्रस्ट आरा, भोजपुर के द्वारा भगवान बलभद्र की जयंती सह सम्मान समारोह धूमधाम से मनाया गया। शुभारंभ सुबह में भगवान बलभद्र जी की प्रतिमा के पास ट्रस्टी रामेश्वर प्रसाद, उर्मिला देवी के साथ पूजा-अर्चना किया गया। उसके बाद झंडोत्तोलन अध्यक्ष सत्यनायण प्रसाद ने अपने सदस्यों के साथ किया। मौके पर 110 लोगों को सम्मानत किया गया जिसमें 60 ट्रस्टी 20 कलवार समाज के सक्रिया कार्यकर्ता व 40 वैश्य समाज के लोगों को सम्मानित अध्यक्ष सत्यनारायण प्रसाद, पूर्व अध्यक्ष जितेन्द्र ब्याहुत के द्वारा उन ट्रस्टियों को सम्मानित किया गया जिन्होने समाजिक कार्यो में बढ़चढ़कर हिस्सा लिया है। संचालन सदस्य राघवेन्द्र नारायण ,पंकज कुमार प्रभाकर और अध्यक्षता सत्यनारायण प्रसाद ने किया। समारोह का उद्घाटन डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद ने दीप प्रज्वलित कर किया। इस अवसर पर डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद ने कहा कि वियाहुत कलवार सेवा संघ 24 साल से यह समारोह आयोजित कर रहा है यह बहुत ही सराहनीय है। शहर की सड़क व नाली जल्द से जल्द निर्माण कराया जाएगाा। समाज के छात्र व छात्राओं को मन लगाकर शिक्षा ग्रहण करने की बात कही। समाज की तरफ सीए की पढ़ाई कर रही छात्रा राधा कुमारी को 35000 का चेक डिप्टी सीएम के हाथों दिया गया। मौके पर डिप्टी सीएम

Read more