ये कैसी सजा बच्चे को दे दी टीचर ने

शिक्षिका ने बच्चे को कराई 300 बार उठक-बैठक बेहोश होकर पहुंचा अस्पताल छठी क्लास के बच्चा तीन दिन तक रहा अस्पताल में भर्ती एक दिन स्कूल नहीं जाने के कारण मिली सजा शेखपुरा जिले में बच्चे के साथ हुई हैवानियत शेखपुरा की एक शिक्षिका ने एक स्कूली बच्चे के साथ हैवानियत की ऐसी हद पार की जिससे मासूम को तीन दिनों तक अस्पताल में भर्ती होना पड़ा. इस जिले को जहां एक तरफ नीति आयोग ने आकांक्षी जिला के तहत बेहतर शिक्षा देने में पूरे भारत में प्रथम रैंक दिया है तो वहीं दूसरी तरफ बरबीघा प्रखंड अंतर्गत एक स्कूल में हुई घटना ने शर्मसार कर दिया है.घटना के बाद स्कूल प्रबंधन पर सवाल खड़े हो रहे हैं. दरअसल बरबीघा प्रखंड के मिडिल स्कूल खलीलचक में कक्षा 6 के छात्र रौशन के साथ ये हैवानियत हुई. रौशन किन्हीं कारणों से एक दिन स्कूल नहीं आया तो विद्यालय की शिक्षिका सीता देवी इस कदर गुस्से में आ गई कि उन्होंने रौशन को 3 सौ बार उठक बैठक करने की सजा सुना दी. इस दौरान 200 के करीब उठक-बैठक करते ही वो बेहोश होकर गिर गया. उसके बेहोश होते ही हड़कंप मच गया. विद्यालय के शिक्षक और परिजन उसे बरबीघा अस्पताल ले गए जहां भर्ती होने के तीन दिन बाद तक उसका इलाज चलता रहा. इस घटना के बाद से आरोपी शिक्षिका स्कूल नहीं आ रही है. स्थानीय पंचायत प्रतिनिधि ने भी बच्चे के साथ इस कदर की घटना पर एतराज जताया है. नई शिक्षा नीति में ड्रापआउट बच्चों को स्कूल लाने

Read more

शर्त मान लें हम गले लगाने के लिए तैयार: शिवानंद

नीतीश कुमार के सामने बड़ी शर्त बिहार में एनडीए के घटक दलों, जनता दल-यूनाइटेड और भारतीय जनता पार्टी में ‘मनमुटाव’ की अटकलों के बीच प्रदेश की मुख्य विपक्षी पार्टी राष्ट्रीय जनता दल ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के सामने बड़ी शर्त रख दी है. राजद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी ने सोमवार को कहा कि अगर नीतीश कुमार भाजपा के साथ संबंध तोड़ देते हैं तो वह उन्हें और उनकी पार्टी को गले लगाने के लिए तैयार हैं. शिवानंद तिवारी ने कहा कि मंगलवार को दोनों दलों द्वारा विधायकों की बैठक बुलाना इस बात का स्पष्ट संकेत है कि स्थिति असाधारण है. उन्होंने कहा कि मुझे मौजूदा घटनाक्रम के बारे में व्यक्तिगत रूप से कुछ पता नहीं है.लेकिन, हम इस तथ्य को नजरअंदाज नहीं कर सकते हैं कि दोनों दलों ने उस समय ऐसी बैठकें बुलाई हैं, जब विधानसभा का सत्र संचालन में नहीं है. PNCDESK

Read more

भारत को मिले अब तक 22 गोल्ड,हॉकी मेंस टीम को सिल्वर मेडल

कॉमनवेल्थ गेम 2022बैडमिंटन में भारत ने जीते 3 गोल्ड मेडल, शरत कमल ने भी किया कमालक्लोजिंग सेरेमनी में भारत के ध्वज वाहक होंगे शरत कमल और निकहत जरीन भारतीय टीम ने अब तक कॉमनवेल्थ गेम्स में शानदार प्रदर्शन किया है. आज गेम के आखिरी टीम भारत की नजर कई गोल्ड पदकों पर थी. पीवी सिंधु, लक्ष्य सेन, सात्विकसाइराज रंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी बैडमिंटन में गोल्ड मेडल अपने नाम कर लिया है. टेबल टेनिस में शरथ कमल ने भी गोल्ड मेडल जीता. वहीं हॉकी में इंडिया मेंस टीम ने सिल्वर मेडल जीता. कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 के क्लोजिंग सेरेमनी में भारत के ध्वज वाहक टेबल टेनिस के सुपर स्टार शरत कमल और बॉक्सिंग में गोल्ड जीतने वाली विश्व चैंपियन निकहत जरीन होंगी. 11वें दिन की हाईलाइटवीमेंस सिंगल्स मुकाबले में पीवी सिंधु ने जीता गोल्ड मेडलमेंस सिंगल्स मुकाबले में लक्ष्य सेन ने जीता गोल्ड मेडलसात्विकसैराज रंकीरेड्डी / चिराग शेट्टी ने जीता गोल्ड मेडलटेबल टेनिस में शरत कमल ने जीता गोल्ड मेडलहॅाकी फाइनल- ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 7-0 से हराया भारतीय स्टार बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु अपने गोल्ड मेडल मुकाबले 21-15 और 21-13 से मैच को सिंधु ने अपने नाम करते हुए पहली बार कॉमनवेल्थ गेम्स गोल्ड मेडल हासिल किया.मेंस सिंगल्स फाइनल गेम में अचंता शरथ कमल ने इंग्लैंड के लियाम पिचफोर्ड को हराकर गोल्ड मेडल जीत लिया. लियाम पिचफोर्ड के खिलाफ खेलते हुए कमल ने पहला गेम 11-13 से जीता लिया फिर कमल ने लगातार दूसरे गेम में लियाम पिचफोर्ड को 11-7, 11-2 से हराकर गेम में 2-1 की बढ़त बना ली थी.

Read more

जनता दरबार में खुलती है नीतीश के सुशासन की पोल

अधिकारियों को मिलते हैं कार्रवाई के निर्देश कोरोना से पिता की हुई मौत पर मुआवजे की राशि नहीं मिली जनता के दरबार में मुख्यमंत्री कार्यक्रम में शामिल हुए मुख्यमंत्री  50 लोगों की सुनी समस्यायें तीरंदाजी खेल के लिए आधुनिक प्रशिक्षण दिलाने की सुविधा मिले मुख्यमंत्री नीतीश मुख्यमंत्री सचिवालय परिसर में आयोजित जनता के दरबार में मुख्यमंत्री कार्यक्रम में शामिल हुए. ‘जनता के दरबार में मुख्यमंत्री कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने राज्य के विभिन्न जिलों से आये 50 लोगों की समस्याओं को सुना और संबंधित विभागों के अधिकारियों को समुचित कार्रवाई के निर्देश दिए.’जनता के दरबार में मुख्यमंत्री कार्यक्रम में सामान्य प्रशासन विभाग, स्वास्थ्य विभाग, शिक्षा विभाग, समाज कल्याण विभाग, पिछड़ा एवं अति पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग, वित्त विभाग, संसदीय कार्य विभाग, अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति कल्याण विभाग, अल्पसंख्यक कल्याण विभाग, विज्ञान एवं प्रावैधिकी विभाग, सूचना प्रावैधिकी विभाग, कला, संस्कृति एवं युवा विभाग, श्रम संसाधन विभाग तथा आपदा प्रबंधन विभाग से संबंधित मामलों की सुनवाई हुई. ‘जनता के दरबार में मुख्यमंत्री कार्यक्रम में बेगूसराय से आए एक युवक ने मुख्यमंत्री से गुहार लगाते हुए कहा कि विकास मित्र के चयन प्रक्रिया में अनियमितता हुई है. मेघा सूची में प्रथम आने के बाद भी बिना आवेदन किए हुए व्यक्ति को नियुक्ति पत्र दे दिया गया. रोहतास से आए एक व्यक्ति ने मुख्यमंत्री से पंचायत शिक्षा मित्र की बहाली में अनियमितता की शिकायत की तो वहीं कटिहार से आयी एक दिव्यांग महिला ने आंगनबाड़ी सेविका के चयन में अनियमितता की शिकायत की. मुख्यमंत्री ने संबंधित विभाग को समुचित कार्रवाई करने का निर्देश दिया.

Read more

जदयू डूबता जहाज, कहते हुए आरसीपी ने छोड़ दी पार्टी

आरसीपी सिंह ने जदयू  की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दिया ‘डूबते जहाज में कुछ भी नहीं बचा’ ‘नीतीश कुमार सात जन्मों तक प्रधानमंत्री नहीं बन सकते’ पूर्व केंद्रीय मंत्री आरसीपी सिंह ने जदयू  की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है. नालंदा के अपने पैतृक गांव मुस्तफापुर में उन्होंने मीडिया से बात करते हुए यह ऐलान किया है. इससे पहले उन्होंने एक सादे कागज पर अपनी बात लिखकर जदयू के प्रदेश अध्यक्ष उमेश कुशवाहा को अपना इस्तीफा भेजा. उनसे खरीदी गई संपत्तियों को लेकर जदयू  ने जवाब मांगा था. वो पहले से ही पार्टी से नाराज चल रहे थे और शनिवार को मीडिया में आई खबर से वे तिलमिला गए और अपना इस्तीफ़ा भेज दिया.उन्होंने कहा कि जदयू एक डूबता जहाज है और डूबते जहाज में कुछ भी नहीं बचा है. नीतीश कुमार सात जन्मों तक प्रधानमंत्री नहीं बन सकते. हालांकि उन्होंने अपने अगले कदम का खुलासा नहीं किया है लेकिन चर्चा है कि वह किसी अन्य पार्टी में जल्द ही ज्वाइन कर सकते हैं. हालांकि उनके लिए भारतीय जनता पार्टी में एंट्री आसान नहीं है क्योंकि जदयू छोड़ने के बाद और नीतीश कुमार के खिलाफ बयानबाजी की वजह से भाजपा फिलहाल उन्हें पार्टी में शामिल करने से बचना चाहेगी. PNCDESK

Read more

आरसीपी सिंह और परिवार ने कैसे खरीदे करोड़ों के 58 प्लॉट ?

जदयू नेताओं ने उठाया सवाल कई जगह पत्नी के नाम भी अलग लिखा जदयू नेताओं ने ही जुटाएं हैं सुबूत जदयू के प्रदेश अध्यक्ष उमेश सिंह कुशवाहा ने आरसीपी को पत्र लिखकर खरीदे गए भूखंडो को लेकर जवाब मांगा है. इस पत्र में बताया गया है कि नालंदा जिले में जदयू के दो साथियों की सबूत के साथ शिकायत मिली है. इसमें आपके और आपके परिवार के नाम से वर्ष 2013 से 2022 तक अकूत संपत्ति निबंधित कराया गया है जिसमें कई प्रकार की अनियमितता दिखाई दे रही है. आप लंबे समय तक दल के सर्वमान्य नेता नीतीश कुमार के साथ अधिकारी और राजनीतिक कार्यकर्ता के रूप में काम करते रहे हैं. आपको, हमारे माननीय नेता ने दो बार राज्यसभा का सदस्य, पार्टी का राष्ट्रीय महासचिव (संगठन), राष्ट्रीय अध्यक्ष तथा केंद्र में मंत्री के रूप में कार्य करने का अवसर, पूर्ण विश्वास एवं भरोसे के साथ दिया. आप इस तथ्य से भी अवगत हैं कि माननीय नेता, भ्रष्टाचार के जीरो टॉलरेंस पर काम करते रहे हैं और इतने लंबे सार्वजनिक जीवन के बावजूद उन पर कभी दाग नहीं लगा और न उन्होंने कोई संपत्ति बनाई.पार्टी आपसे अपेक्षा करती है कि इस परिवाद के बिंदुओं पर बिंदुवार अपनी स्पष्ट राय से पार्टी को तत्काल अवगत कराएंगे. जीरो टॉलरेंस की बात करने वाली नीतीश सरकार अपनी इस नीति के तहत अपनी ही पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और केंद्र में मंत्री रहे आरसीपी सिंह पर जांच बिठा दी है. चुनावी हलफनामा 2010 एवं 2016 में आरसीपी सिंह ने अपनी पत्नी का नाम गिरिजा

Read more

हजारों लोग जब लुट गए तब खुली सीएम नीतीश की नींद

साइबर क्राइम और आर्थिक अपराध कांडों में बढ़ोतरी साइबर अपराधियों पर अब कसेगी सरकार नकेल पटना: कानून व्यवस्था को बेहतर करने की दिशान में नीतीश सरकार ने बड़ा फैसला लिया है. राज्य सरकार ने विभिन्न विभागों में 1258 पदों पर नियुक्ति और सृजन करने का निर्णय लिया है. इन पदों में गृह विभाग में ही कुल 995 पुलिस अधिकारियों और कर्मियों के नये पद बनाये गये हैं. इसके अलावा वित्त विभाग में वित्तीय विशेषज्ञ और बजट पदाधिकारी का भी एक-एक पद है. पुलिस विभाग में जिन 995 नए पदों का सृजन किया गया है, उनमें साइबर क्राइम की रोकथाम पर विशेष जोर दिया गया है. बिहार पुलिस सेवा संवर्ग के तहत साइबर क्राइम और आर्थिक अपराध कांडों में बढ़ोतरी को देखते हुए अनुसंधान और अनुश्रवण के लिये 181 पदों का सृजन किया गया है जिसमें इसमें स्टॉफ आफिसर (ग्रामीण एसपी) के 15 पद, अपर पुलिस अधीक्षक के 12 पद, वरीय पुलिस उपाधीक्षक के 114 पद और पुलिस उपाधीक्षक के 40 पद शामिल हैं. कैबिनेट विभाग के अपर मुख्य सचिव एस सिद्धार्थ ने बताया कि साइबर क्राइम की बढ़ती घटनाओं पर रोकथाम के लिए आर्थिक अपराध इकाई पटना में डीआइजी, एसपी (साइबर) अनुसंधान एवं अभियान, पुलिस अधीक्षक (साइबर) प्रशिक्षण, पोर्टल एवं समन्वय, पुलिस उपाधीक्षक (साइबर), पुलिस निरीक्षक, पुलिस निरीक्षक, प्रवाचक, पुलिस अवर निरीक्षक और आशु सहायक अवर निरीक्षक कोटि के पद शामिल किये गये हैं. PNCDESK

Read more

बिहार में अशोक चक्र की जगह लगाया चांद-सितारा, राष्ट्र ध्वज का किया अपमान

वैशाली जिले के बिदुपुर थाना क्षेत्र की पठान टोली का मामला पुलिस अभी कुछ भी कहने से बच रही है घटना के बाद से इलाके में तनाव की स्थिति 15 अगस्त यानी स्वतंत्रता दिवस में चंद दिन शेष बचे हैं ऐसे में बिहार के साथ-साथ देशभर में तैयारियां हो रही है  है. बिहार के वैशाली जिले में खुलेआम तिरंगे का अपमान किया जा रहा है. वैशाली जिले में तिरंगा में आशोक चक्र की जगह चांद-सितारा लगा दिया गया है. सूचना मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और झंडा को उतारकर जब्त कर कारवाई में जुट गई है. ये हरकत बिदुपुर थाना क्षेत्र की पठान टोली का है. देश आज 75 वें स्वतंत्रता दिवस पर आजादी का अमृत महोत्सव मना रहा है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोगों से 13 से 15 अगस्त तक पूरे देश के हर घर में तिरंगा फहराने की अपील की है. साथ ही पीएम ने लोगों से अपने सोशल मीडिया की प्रोफाइल में भी तिरंगा लगाने का आह्वान किया है. वहीं कुछ लोगों ने राष्ट्रीय ध्वज में अशोक चक्र की जगह  चांद सितारा चिन्ह लगा कर उसे अपने घर पर लगा दिया जो एक धर्म विशेष से जुड़ा हुआ है. मुस्लिम धर्म में चांद सितारा का इस्तेमाल किया जाता है. इसका वीडियो वायरल होने पर बढ़ते विवाद को देखते हुए पुलिस ने झंडा जब्त किया है और जांच कर रही है कि आखिर किसने और क्यों किया है ऐसा काम. इस घटना के बाद से इलाके में तनाव की स्थिति हो गई है. PNCDESK

Read more

बर्मिंघम में साक्षी मलिक और बजरंग पुनिया ने जीता गोल्ड

पकिस्तान के रेसलर इनाम को हरा कर दीपक पुनिया ने जीता गोल्ड कुश्ती में भारत को मिला तीसरा गोल्ड Gold in CWG 2022: बर्मिंघम में चल रहे 2022 कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत की साक्षी मलिक ने इतिहास रच दिया. साक्षी ने फ्रीस्टाइल 62 किग्रा वर्ग में कनाडा की एन्ना गोडिनेज गोंजालेज को हराकर गोल्ड मेडल अपने नाम किया. साक्षी ने पहले विपक्षी खिलाड़ी को चित्त कर चार अंक हासिल किए. उसके बाद पिनबॉल से ऐतिहासिक जीत दर्ज की. साक्षी मलिक का यह पहला गोल्ड है. साक्षी इससे पहले राष्ट्रमंडल खेलों में रजत (2014) और कांस्य पदक (2018) जीत चुकी थीं. बजरंग पूनिया ने भी जीता गोल्ड इससे पहले भारत के बजरंग पूनिया ने कमाल कर दिया. बजरंग पूनिया ने 65 किलोग्राम भारवर्ग में कनाडा के पहलवान को हराकर गोल्ड मेडल जीता. भारत के दिग्गज पहलवान बजरंग पूनिया ने कॉमनवेल्थ गेम्स में लगातार दूसरा गोल्ड मेडल जीता. उन्होंने फ्रीस्टाइल 65 किग्रा वर्ग में कनाडा के लचलान मैकनिल को 9-2 से हराकर गोल्ड जीता. भारत का बर्मिंघम में कुश्ती में यह पहला और कुल छठा गोल्ड मेडल है. बजरंग ने इससे पहले 2018 राष्ट्रमंडल खेलों में भी स्वर्ण पदक जीता था. वहीं 2014 कॉमनवेल्थ गेम्स में उन्होंने सिल्वर मेडल अपने नाम किया था. कुश्ती में इस बार भारत का यह दूसरा पदक है। बजरंग से पहले अंशु मलिक रजत पदक जीतने में कामयाब हुई थीं. 22वें कामनवेल्थ गेम्स 2022 में 86 किलोग्राम भारवर्ग के फ्रीस्टाइल कुश्ती प्रतियोगिता में भारत के पहलवान दीपक पूनिया ने फाइनल मुकाबले में पाकिस्तान के पहलवान मो. इनाम

Read more

अवध-असम एक्स. ट्रेन से लापता बिहारी युवक का 6 दिन बाद भी सुराग नहीं

ट्रेन की कोच संख्या बी 1 में बैग मिला ,पर जयवर्धन का कोई पता नहीं परिजनों ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से पहल करने की मांग परिजनों का रो रो कर बुरा हाल बेहाल रेलवे की उदासीनता से घरवाले परेशान बैग बी-1 कोच से लालगढ़ स्टेशन पर पुलिस ने बरामद किया मोतिहारी के पिपरा निवासी 27 साल के जयवर्धन कुमार का 6 दिन बीत जाने के बाद भी कुछ भी अता पता नहीं है. वे 31 जुलाई को दीमापुर से असम-अवध एक्सप्रेस ट्रेन में सवार होकर मुजफ्फरपुर के लिए निकले थे, जहां 2 अगस्त को उनका पेपर था. परिजनों से उनकी अंतिम बातचीत 31 जुलाई की रात तब हुई जब ट्रेन गुवाहाटी स्टेशन पहुंची थी. दीमापुर स्टेशन से खरीदी थी टिकट. अगले दिन वे मुजफ्फरपुर नहीं पहुंचे और फोन भी स्वीच ऑफ हो गया तब परिजनों की चिंता बढ़ी. उनका बैग बी-1 कोच से लालगढ़ स्टेशन पर पुलिस ने बरामद किया. परिजनों ने रेलवे पुलिस और वरीय अधिकारियों को इस बाबत सूचना दे दी है.रेल पुलिस लास्ट मोबाईल लोकेशन निकालने और सहयात्रियों से पूछताछ कर जानकारियां जुटाने में लगी है.लेकिन 6 दिन बाद भी लापता जयवर्धन के बारे में कोई भी सूचना नहीं मिलने से परिजन किसी अनहोनी की आशंका से सहमे हुए हैं. अगर किसी को कोई जानकारी मिले तो इस नम्बर पर संपर्क कर सकते हैं ,8507018988 हर्षवर्धन PNCDESK

Read more