जलभरी और कलश यात्रा के साथ शुरू हुआ दस दिवसीय महायज्ञ

बक्सर के ब्रह्मपुर प्रखंड के भदवर गांव में दस दिवसीय हनुमत महायज्ञ के लिए बुधवार को भदवर के प्राचीन शिव मंदिर से लेकर देवराढ़ स्थित नदी घाट तक कलश यात्रा सह शोभा यात्रा निकाली गई. इस शोभा यात्रा में क्षेत्र के भदवर, बराढ़ी, कुरूथिया, देवराढ़, बरूहा, सहित अन्य गांवों से आये सैकड़ों महिला पुरूषों ने भाग लिया.




इस यात्रा में शामिल लोगों ने जय श्रीराम का जयघोष करते हुए शिवपुर व देवराढ़ गांव के बीच स्थित नदी तक भजन कीर्तन किया. भक्ति गीतों के धुन पर युवकों ने जमकर डांस भी किया. नदी के पास विधिवत पूजा-अर्चना करने के बाद वैदिक मंत्रोच्चार के बीच कलश में जल भरा गया. जलभरी में कई वाहनों के माध्यम से भी लोग पहुंचे थे. वहीं ज्यादातर लोगों ने पैदल चलकर कलश यात्रा पूरी की.

इसके बाद यात्रा वापस शिव मंदिर परिसर पहुंचकर यज्ञ मण्डप में कलश को रखा गया और यज्ञ कुण्ड में अरणी मंथन कर अग्नि प्रज्जवलित कर श्री श्री 108 रघुनाथ दास जी महाराज उर्फ अलगू बाबा के नेतृत्व में हवन पूजन प्रारंभ किया गया. इस महायज्ञ के बारे में समिति के अध्यक्ष राम छबीला तिवारी ने बताया कि यह यज्ञ 15 मार्च से 25 मार्च तक होगा. इसके बाद 26 को पूर्णाहुति होगी. यज्ञ के दौरान रामलीला व रासलीला का भी आयोजन किया जाएगा. पूर्णाहुति के दिन भव्य भंडारा का आयोजन किया जायेगा. इसके अलावा भगवान की कथा के साथ-साथ भक्तों के मनोरंजन के लिए मेला भी लगाया गया है.

बुधवार को कलश यात्रा में सामाजिक कार्यकर्ता दीपक तिवारी, विशेश्वर तिवारी, हरेंद्र चौधरी, सुदर्शन चौधरी, मनोज तिवारी, अमित, सुनील, गोलू, बुद्धदेव, ऋषिकांत, रवि, संजय, ऋतिक, खुशबु, अप्पी, चांदनी, प्रिंस, निक्की, अंजलि, दीपू, लक्ष्मिनी व अन्य शामिल थे.

 

बक्सर से ऋतुराज