इंटर परीक्षा में सख्ती का दिखा असर, पहले दिन 240 छात्र निष्कासित

बिहार में इंटर की वार्षिक परीक्षा का पहला दिन शांतिपूर्ण रहा. 38 जिलों के 1274 परीक्षा केन्द्रों पर मंगलवार को दोनो पालियों में हर जगह शांतिपूर्ण परीक्षा हुई और बोर्ड का दावा है कि ये पूरी तरह कदाचार मुक्त भी रहा. परीक्षा में करीब 97 फीसदी उपस्थिति रही. हालांकि कई जगहों पर कदाचार करने की कोशिश में 240 से ज्यादा छात्रों को निष्कासित किया गया. इसके साथ-साथ 2 केन्द्राधीक्षक और 3 वीक्षकों को सस्पेंड भी किया गया है. इनके खिलाफ विभागीय कार्रवाई की बात भी बोर्ड अध्यक्ष ने कही है. इसके अलावा मधेपुरा में परीक्षा केन्द्र के आसपास गड़बड़ी का प्रयास कर रहे 9 लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया.




थोड़ी देर के लिए प्रश्नपत्र आउट होने और सवालो के जवाब सोशल मीडिया पर वायरल होने की खबर ने जरूर BSEB के साथ छात्रों के अभिभावकों को परेशान किया, लेकिन जल्द ही मामला साफ हो गया कि ये पूरी तरह अफवाह थी. दरअसल किसी ने पिछले साल के प्रश्नपत्र को ही जवाबों के साथ वायरल कर दिया था. परीक्षा के बाद बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के अध्यक्ष आनंद किशोर ने इसे अफवाह बताते हुए ऐसा करने वालों पर कड़ी कार्रवाई के निर्देश भी दिए. बोर्ड अध्यक्ष ने पटना और गया में इस मामले में FIR करने और इसकी विस्तृत जांच कराने के निर्देश दिए हैं.

किन पर हुई कार्रवाई(सस्पेंड)

  • दरभंगा के CM साइंस कॉलेज के प्रिंसिपल और केन्द्राधीक्षक अमरेन्द्र कुमार झा
  • गोपालगंज के इंपीरियल हाई स्कूल हथुआ के केन्द्राधीक्षक रामविलास मांझी
  • दरभंगा में CM साइंस कॉलेज के एक वीक्षक
  • MRM कॉलेज के एक वीक्षक

इनके अलावा मधेपुरा में 9 लोगों की गिरफ्तारी हुई है

कहां कितने परीक्षार्थी निष्कासित

  • पटना- 5
  • सारण- 50
  • गया- 30
  • जहानाबाद-26
  • नवादा- 26
  • भोजपुर-18
  • शेखपुरा-13
  • अरवल-11
  • खगड़िया-11
  • लखीसराय-1
  • मुजफ्फरपुर-1
  • नालंदा-9
  • किशनगंज-1
  • औरंगाबाद-4
  • मुंगेर-4
  • गोपालगंज-11
  • बक्सर- 2
  • रोहतास- 8
  • दरभंगा-1
  • सीतामढ़ी-1
  • शिवहर-1
  • बांका- 1
  • जमुई-8
  • सीवान-3
  • सहरसा-8
  • सुपौल-7

क्या कहा बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के अध्यक्ष आनंद किशोर ने, सुनिए-