बोचहां में राजद, वीआईपी और भाजपा के बीच त्रिकोणीय मुकाबला

मुजफ्फरपुर जिले में बोचहां विधानसभा सीट पर होने वाले उपचुनाव को लेकर उम्मीदवारों की तस्वीर साफ हो गई है. सोमवार को बड़े उलटफेर में एक तरफ जहां पूर्व विधायक मुसाफिर पासवान के बेटे अमर पासवान ने राजद का दामन थाम लिया और आनन फानन में उन्हें राजद का टिकट मिल गया उसी तरफ राजद से टिकट नहीं मिलने पर रमई राम और उनकी बेटी गीत कुमारी ने vip कि सदस्यता ले ली. तेजस्वी यादव ने मुसाफिर पासवान के बेटे अमर पासवान को पार्टी का टिकट देकर बड़ा दांव खेला है. यहां यह बात गौर करने लायक है कि वर्ष 2015 और वर्ष 2020 के चुनाव में रमई राम लगातार दो बार हार चुके थे. वही मुसाफिर पासवान की मौत के बाद उनके बेटे को सिंपैथी वोट का फायदा मिल सकता है. इसके अलावा राजद का अपना वोट बैंक भी अमर पासवान की जीत पक्की कर सकता है. बोचहां विधानसभा में पासवान जाति और यादव जाति का भी बड़ा जनाधार है.

vip अध्यक्ष मुकेश साहनी ने गीता कुमारी को बोचहां से अपना उम्मीदवार घोषित कर दिया है. इधर भाजपा ने पहले ही पूर्व विधायक बेबी कुमारी को उम्मीदवार बनाने की घोषणा कर दी थी. 24 मार्च तक नामांकन होगा. बोचहां में उपचुनाव 12 अप्रैल को होगा. मतगणना 16 अप्रैल को होगी.




इस उपचुनाव में राष्ट्रीय जनता दल और भाजपा की प्रतिष्ठा दांव पर है. भले ही भाजपा ने पिछली बार यहां से चुनाव नहीं लड़ा था लेकिन इस बार अगर भाजपा प्रत्याशी की जीत होती है तो बिहार विधानसभा में सबसे बड़ी पार्टी का दर्जा राजद के साथ-साथ भाजपा को भी मिल जाएगा वहीं अगर राजद प्रत्याशी की जीत होती है तो यह कहीं ना कहीं भाजपा के लिए बड़ी चुनौती होगी.

pncb