“बलात्कारी बचाओ” अभियान में लगी “बेटी बचाओ” वाली भाजपा- AISA

AISA ने भाजपा की बेटी बचाओ का ढकोसला के खिलाफ छात्र-छात्राओं एकजुट होने का किया आह्वान
महिलाओं पर बढ़ रहा अत्याचार क्या यही है मोदी-योगी सरकार-ऐपवा

आरा, 14 अप्रैल. भाकपा माले जिला कार्यालय से AISA व ऐपवा के बैनर से छात्र-छात्राएं, महिलाओं ने न्याय की माँग को लेकर प्रतिवाद मार्च निकाला जो आरा शहर के विभिन्न मार्गों से होते हुए आरा रेलवे स्टेशन परिसर पर समाप्त हुआ. प्रतिवाद मार्च करने वाले यूपी के उन्नाव ,जम्मू-कश्मीर के कठुआ, रोहतास के करहगर के पीड़तों को न्याय दिलाने व अविलंब दोषियों को गिरफ्तार करने व कड़ी से कड़ी सजा देने की मांग कर रहे थे. इस दौरान पीड़तों को न्याय दिलाने की मांग को लेकर आइसा-ऐपवा समर्थकों ने मोदी-योगी सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी. स्टेशन परिसर में एक सभा भी संघटन से जुड़े लोगों ने किया. सभा का संचालन VKSU आरा छात्रसंघ के कला संकाय के प्रतिनिधि रंजन कुमार ने किया.
सभा को सम्बोधित करते हुए AISA के राज्य सचिव शिवप्रकाश रंजन ने कहां कि उन्नाव रेप कांड में आरोपी भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर अभी भी जेल से बाहर है. यही मोदी-योगी सरकार बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का नारा देती है लेकिन काम भाजपा सरकार बलात्कारी भाजपा विधायक को बचाने में मशगूल है. बेटी बचाओ का नारा देने वाली भाजपा बलात्कारी बचाओ अभियान में लगी है.




सभा को सम्बोधित करते हुए भोजपुर आइसा के जिला सचिव सबीर कुमार ने कहां की उन्नाव रेप कांड से लेकर जम्मू कश्मीर के कठुआ तक पीड़तों को न्याय दिलाने के बजाए मोदी-योगी की पुलिस व भाजपा नेता अपने सत्ता का इस्तेमाल कर दोषियों को बचाने में लगें है.

जम्मू कश्मीर रेप कांड में खुलेआम दोषियों को बचाने की मांग को लेकर भाजपा समर्थक सड़को पर उतर रहे है जो पूरे देश को शर्मिंदा कर रहे है.सभा को सम्बोधित करते हुए आरा नगर की ऐपवा की सचिव संगीता सिंह ने देश मे घटित इन तीनों घटना पर निंदा व्यक्त किया और दोषियों को अविलंब गिरफ्तार कर कड़ी से कड़ी सजा देने की मांग की.

कार्यक्रम के दौरान भोजपुर आइसा के जिला अध्यक्ष पप्पू कुमार,आइसा के जिला सह सचिव संदीप कुमार,अभिषेक कुमार,जैन कॉलेज आरा छात्रसंघ की अध्यक्ष दृष्टि राज,कोषाध्यक्ष श्रेया, महाराजा कॉलेज आरा छात्रसंघ विवेक ,महिला कॉलेज छात्रसंघ की कॉलेज प्रतिनिधि रिया कुमारी,अनामिका,शिखा पांडेय, ऐपवा की आरा नगर की सचिव संगीता सिंह,रमिता देवी,आइसा नेता रणधीर,विकास, रविशंकर, बिक्की,नौनित, समेत दर्जनों छात्र-छात्राएं व महिलाएं शामिल थी.

आरा से ओ पी पांडेय की रिपोर्ट