”बिहार में अराजक माहौल बनाना चाहता है राजद”

नोटबंदी को लेकर एक ओर जहां आम लोग केन्द्र सरकार के फैसले के साथ खड़े हैं वहीं विरोधी पार्टियां विरोध प्रदर्शन कर रही हैं. 28 नवंबर को नोटबंदी के खिलाफ बिहार में राजद के विरोध प्रदर्शन पर बीजेपी ने सवाल उठाए हैं. बीजेपी नेता और बिहार विधानसभा में विरोधी दल के मुख्य सचेतक अरुण कुमार सिन्हा ने कहा कि




राष्ट्रीय जनता दल के नेता लालू प्रसाद यादव और उनकी पार्टी राजद नोटबंदी अभियान पर भ्रामक बयान देकर बिहार में अराजक माहौल बनाना चाहते हैं. उन्होंने कहा कि देश और राज्य में भ्रष्टाचार की पोषक पार्टियाँ, जिनके कालेधन आज कागज़ के टुकड़े हो गए है वे पानी पी-पीकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को कोस रहे हैं. अरुण सिन्हा ने कहा कि राजद द्वारा 28 दिसंबर को किया जाने वाला महाधरना बिहार की जनता के साथ छलावा है. इससे पहले विधानसभा चुनाव में भी आरक्षण पर अनर्गल भ्रामक बयान देकर राजद बिहार की जनता को भरमा चुका है.

बीजेपी नेता ने कहा कि देश और राज्य की जनता ने सभी दिक्कतों के बाबजूद प्रधानमंत्री के नोटबंदी के फैसले का समर्थन किया है. राजद के महाधरना को भी बिहार की जनता समझ चुकी है. राजद 15 वर्ष पुराने अराजकता का माहौल बनाकर भययुक्त वातावरण कायम करना चाहती है.