प्राथमिक शिक्षकों के नियोजन की प्रक्रिया जल्द होगी शुरू

हो जाइए तैयार, जारी होने वाला है शेड्यूल

बिहार के प्राथमिक और मध्य विद्यालयों में 92000 से ज्यादा शिक्षकों के नियोजन की प्रक्रिया इसी महीने तीसरे हफ्ते में शुरू होने की संभावना है. विश्वस्त सूत्रों के मुताबिक शिक्षा विभाग ने शेड्यूल तय कर लिया है और शिक्षा मंत्री की सहमति के बाद इसे जारी करने की तैयारी हो रही है.




20 जून के बाद छठे चरण के नियोजन की प्रक्रिया शुरू होगी जिसमें एनआईओएस से D.El.Ed करने वाले शिक्षकों को आवेदन के लिए 30 दिन का समय मिलेगा. जिन लोगों ने पहले से आवेदन कर रखा है उन्हें दोबारा आवेदन नहीं करना है. प्राथमिक शिक्षकों के नियोजन के लिए आवेदन की आखिरी तिथि 11 नवंबर 2019 थी. अप्रैल महीने में नियोजन पत्र बांटने के लिए 11 से 13 अप्रैल के बीच का समय तय किया गया था. लेकिन पटना हाईकोर्ट के आदेश के कारण इसे स्थगित कर दिया गया था. पटना हाई कोर्ट ने जनवरी महीने में एनआईओएस डीएलएड शिक्षकों को लेकर एक महत्वपूर्ण आदेश जारी किया था. बिहार सरकार को एनआईओएस डीएलएड शिक्षकों को आवेदन का मौका देने के लिए 30 दिन का समय देने का आदेश पटना हाईकोर्ट ने दिया था. इसके बाद जब एनसीटीई ने बिहार सरकार के पत्र का जवाब देकर एनआईओएस डीएलएड शिक्षकों की डिग्री का मामला स्पष्ट किया उसके बाद शिक्षा विभाग ने पटना हाईकोर्ट में फाइल की गई अपनी याचिका को वापस लेते हुए इन शिक्षकों को नियोजन में मौका देने के लिए शेड्यूल जारी करने का फैसला किया.

इस बारे में प्राथमिक शिक्षा निदेशक डॉ रणजीत कुमार सिंह ने पहले ही यह स्पष्ट कर दिया है कि जो एनआईओएस डीएलएड शिक्षक जुलाई सीटीईटी पास कर चुके हैं सिर्फ उन्हें ही आवेदन का मौका मिलेगा. हालांकि दिसंबर में सीटीईटी पास करने वाले एनआईओएस D.El.Ed अभ्यर्थियों को भी मौका देने के बारे में विभाग विचार कर रहा है

प्राथमिक शिक्षकों के नियोजन की प्रक्रिया पहले शुरू होगी इसके बाद इस महीने के आखिर तक माध्यमिक और उच्च माध्यमिक शिक्षकों के नियोजन का शेड्यूल जारी होने की संभावना है. माध्यमिक उच्च माध्यमिक शिक्षकों के नियोजन की प्रक्रिया मार्च महीने में ही पूरी होनी थी लेकिन लॉक डाउन की वजह से इस पर ब्रेक लग गया था. कुछ जिलों को छोड़कर बाकी सभी जगहों पर माध्यमिक और उच्च माध्यमिक शिक्षकों की मेरिट लिस्ट जारी हो चुकी है. जब यह शेड्यूल जारी होगा उसमें मेरिट लिस्ट पर आपत्ति और इसके बाद नियोजन पत्र बांटने की प्रक्रिया पूरी करने के बाद छठे चरण का नियोजन समाप्त हो जाएगा. छठे चरण में 30,000 से ज्यादा माध्यमिक और उच्च माध्यमिक शिक्षकों का नियोजन होना है.

राजेश तिवारी