IAS एसोसिएशन ने सरकार पर बनाया दबाव

बिहार IAS एसोसिएशन के सदस्यों ने आज राजभवन मार्च किया और एसोसिएशन के 5 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल ने राज्यपाल से मिलकर ज्ञापन सौंपा. IAS अधिकारियों ने राजभवन के सामने मानव श्रृंखला भी बनाई, इनमें पटना , वैशाली समेत कई जिलों के DM के अलावा हरजोत कौर और चैतन्य प्रसाद समेत कई वरिष्ठ आईएएस और रिटायर्ड IAS भी शामिल थे.




 

IAS एसोसिएशन BSSC अध्यक्ष सुधीर कुमार की गिरफ्तारी का विरोध कर रहा है. IAS अधिकारी सुधीर कुमार को इंटर लेवल प्रारंभिक पीटी परीक्षा के पेपर लीक मामले में किंगपिन के रुप में SIT ने गिरफ्तार किया है. इधर IAS एसोसिएशन ने सुधीर कुमार को ईमानदार छवि का बताते हुए अविलंब उनकी रिहाई की मांग की है और पेपर लीक मामले की CBI जांच की भी मांग की है.

सुधीर कुमार(File)

सुधीर कुमार की गिरफ्तारी पर IAS एसोसिएशन ने एलान किया है कि कोई भी IAS अब BSSC अध्यक्ष पद स्वीकार नहीं करेगा,  IAS एसोसिएशन का कोई सदस्य टेक्निकल सर्विसेज रिक्रूटमेंट बोर्ड अध्यक्ष पद भी स्वीकार नहीं करेगा. IAS संघ के सचिव विवेक कुमार सिंह ने कहा कि सरकार को सुधीर कुमार के खिलाफ सारे केस वापस लेकर उन्हें तुरंत रिहा करना चाहिेए और मामले की जांच केवल CBI से ही करानी होगी.