कहीं आपकी तो नहीं ये सोने की अंगूठी!

ट्रेन में मिली सोने की अंगूठी




मालिक तक पहुंचाने के लिए युवक ने “पटना नाउ” से साधा सम्पर्क

इस रंग बदलती दुनिया और फरेब के बीच आज भी सच्चाई और ईमानदारी किस हद तक मौजूद है इसका उदाहरण तब मिला जब एक 25 वर्षीय युवा फोटोग्राफर मोहित कुमार ने ट्रेन में मिली एक अँगूठी के लिए अपनी तमाम पहुँच लगा दी. आमतौर पर अगर कोई छोटा-मोटा समान किसी व्यक्ति को मिलता है तो उसे या तो कोई रख लेता है या फिर इग्नोर कर देता है. उस छोटी सी रकम, सोने-चाँदी की वस्तु या फिर किसी और वस्तु को उसके मालिक तक पहुंचाने की पहल बहुत कम लोग ही करते हैं. लेकिन इस मामले में आरा बेगमपुर के मीराचक निवासी मोहित कुमार की सोच सबसे अलग है जो असल में लोगों के लिए एक प्रेरणा है.

कैसे मिली अँगूठी
मोहित पटना जाने के लिए आरा स्टेशन पर ट्रेन पकड़ने आये थे. अजीमाबाद एक्सप्रेस (12947 Down) के S-9 बोगी में मोहित सवार हुए. मोहित जैसे ही सीट पर बैठे उनकी नजर नीचे गिरी हुई सोने की अँगूठी पर पड़ी. मोहित ने आस पास बैठे लोगों से पूछा कि किसकी अँगूठी है. आसपास के लोगों ने बताया कि एक औरत बक्सर से आ रही थी जो आरा उतर गयी. ये अँगूठी उसी औरत की हो सकती है. मोहित ने अँगूठी अपने पास रखी और लोगों को कहा कि अगर वह औरत आरा की है तो ये अँगूठी उस तक पहुंच जाएगी. फिर मोहित ने अपने सारे दोस्तों के वाट्सअप ग्रुप में इस सोने की अंगूठी के साथ ट्रेन और बोगी का डिटेल डालना शुरू किया. फिर उसे याद आया कि पटना नाउ डॉट कॉम को खबर दिया जाये तो जल्द ही इस अँगूठी को इसके मालिक तक पहुँचाया जा सकता है. फिर उसने इस डिटेल को पटना नाउ के विशेष संवाददाता से शेयर किया.

अब देखना यह है कि कितना जल्द अँगूठी अपने मालकिन के हाथों में पहुँचती है. अँगूठी मालकिन तक पहुँचे या न पहुँचे लेकिन इसकी चर्चा ने इस तरह के नेक पहल के लिए एक जिज्ञासा तो भर ही दिया है.

7वीं बार मिली है सोने की अंगूठी


मोहित को पहले भी यात्राओं के दौरान 6 अंगूठियां मिली हैं. जिन्हें वो उनके मालिक तक पहुँचा चुके हैं.  इस बार क्या होता है ये देखना दिलचस्प होगा. अँगूठी के सही वारिस पटना नाउ से 7050077773 पर या फिर मोहित से 07677766653 नम्बर पर संपर्क कर सकते हैं.

रिपोर्ट- आरा से ओपी पांडे