भारत बंद के दौरान 8 घण्टे रेल सेवा ठप्प

प्रदर्शनकारियों पर लाठियों के बल का रहा जोर




आरा, 11 अप्रैल. मंगलवार को भारत बंद के दौरान पटना मुगलसराय रेलखंड पर सुबह 6:00 बजे ही प्रदर्शनकारी जुट गए, जिससे सुबह 6:00 बजे से दोपहर 2:00 बजे तक ट्रेनों की आवागमन बाधित रही. प्रदर्शनकारियों ने रेलवे लाइन पर लोहे का गार्टर और बोल्डर रख रेल यातायात को बाधित कर दिया.

रेलवे पटरियों पर ही धरना दिया और नारेबाजी की. इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने डीएमयू ट्रेन को आरा स्टेशन पर रोक दिया. वही विभिन्न स्टेशनों पर विभिन्न ट्रेनों को रोक दिया गया जिससे ट्रेन में यात्रा कर रहे लोगों को कोई तकलीफ ना उठानी पड़े. इस दौरान आरा स्टेशन पर जीआरपी पुलिस बंद समर्थकों को रेल पटरी से हटने के लिए चेतावनी देती रही लेकिन जब काफी देर तक प्रदर्शनकारियों के कानों पर जूं तक नही रेंगा तो पुलिस ने बंद समर्थकों पर लाठियां चटकायी. रेल पटरी से लेकर प्लेटफार्म तक बंद समर्थकों को पुलिस ने दौड़ा-दौड़ाकर कर पीटा,जिसमें कई लोगों को चोटें आई. लगभग 2:00 बजे लोकमान्य तिलक एक्सप्रेस पटना की ओर जाने वाली पहली ट्रेन बनी. बंद के दौरान लगभग 8 घंटे तक इस खंड पर ट्रेन पर ट्रेन बाधित रही.

इन स्टेशनों पर खड़ी रही ये गाड़ियां:-
डाउन लाइन
रघुनाथपुर स्टेशन- कुर्ला पटना,
मुगलसराय- श्रमजीवी एक्सप्रेस,
बक्सर- अहमदाबाद-पटना,
दिलदारनगर- एर्नाकुलम एक्सप्रेस,
टुडीगंज- संघमित्रा एक्सप्रेस,
बिहिया-बक्सर-पटना शटल,
कारीसाथ- लोकमान्य तिलक एक्सप्रेस
अपलाइन
क्यूल- पंजाब मेल
आरा- पटना मुगलसराय पैसेंजर
नेउरा- पटना मुगलसराय पैसेंजर