50 लाख बिहारी हुए बेरोजगार, लौट रहे हैं बिहार-पप्पू यादव

लाइन में लगे लोगों की मौत पर पार्टी एक -एक लाख मुआवजा देगी 

पूंजीपतियों के दलाल है नोटबंदी के समर्थक: पप्‍पू यादव




20 दिसंबर को रेलवे और 21 दिसंबर को रोड जाम करेगी जन अधिकार पार्टी

2 लाख बिहारी हुए बेरोजगार, लौट रहे हैं बिहार

लालू व नीतीश ने केंद्र के समक्ष किया सरेंडर

20161209_170514

जन अधिकार पार्टी (लो) के संरक्षक और सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्‍पू यादव ने कहा कि पार्टी नोटबंदी के विरोध में 20 दिसंबर को पूरे बिहार में रेलवे का चक्‍का जाम करेगी. 21 दिसंबर को रोडजाम करेगी और 23 दिसंबर को भाजपा तथा भाजपा समर्थित विधायकों व सासंदों के आवासों पर धरना देगी. उन्‍होंने कहा कि पार्टी उन लोगों के परिजनों को एक-एक लाख रुपये का मुआवजा देगी, जिनकी मौत नोटबंदी के दौरान लाइन में खड़े होने के दौरान हुई थी.

श्री यादव ने कहा कि नोटबंदी के समर्थन करने वालों गरीब, मजदूर, किसान और छात्रों के दुश्‍मन हैं, पूंजीपतियों के दलाल हैं. नोटबंदी के कारण गुजरात, पंजाब, हरियाणा, दिल्‍ली में करीब दो लाख बिहारी मजदूर बेरोजगार हो गए हैं और वे अब बिहार लौट रहे हैं. अगले 15 दिनों में 50 लाख लोग बेरोजगार हो जाएंगे. उन्‍होंने कहा कि नोटबंदी के मुद्दे पर लालू यादव व नीतीश कुमार दोनों ने केंद्र सरकार के सामने सरेंडर कर दिया है.केंद्र की गलत नीतियों के हजारों लोग बेरोजगार हो रहे हैं. इसके लिए लालू यादव व नीतीश कुमार जिम्‍मेवार हैं.

सांसद  ने कहा कि चुनाव प्रक्रिया कालाधन की सबसे बड़ी जड़ है. इसलिए चुनाव की पूरी प्रक्रिया और राजनीतिक दलों का खर्चा सरकार उठाए. इसके साथ अमेरिका के तर्ज पर चुनाव होना चाहिए और सभी पार्टियों को एक ही मंच से प्रचार करना चाहिए. उन्‍होंने कहा कि लोकसभा और विधान सभाओं का चुनाव एक साथ होना चाहिए. पप्पू  ने कहा कि राजनीतिक दलों को भी आरटीआई के दायरे में लाया जाए. इसके साथ ही राज्‍य सभा व विधान परिषद को भंग कर दिया जाए.  इस मौके पर पार्टी के राष्‍ट्रीय महासचिव प्रेमचंद सिंह व राजेश रंजन पप्‍पू, प्रदेश प्रधान महासचिव एजाज अहमद भी मौजूद थे.