4 जनवरी से चलेगा मानवाधिकार जागरूकता के लिए चरणबद्व कार्यक्रम

आरा ,23 दिसंबर. मानवाधिकार जागरूकता के संदर्भ में नेशनल साइंटिफिक रिसर्च एंड सोशल एनालिसिस ट्रस्ट आरा द्वारा उपरोक्त संदर्भ में संगोष्ठी का आयोजन किया गया था जिसके निमित्त आज़ मानवाधिकार से संबंधित नियमों और अनुबंधों को जन जन तक पहुंचाने हेतु एक विशिष्ठ गोष्ठी का आयोजन दोपहर 12 बजे निजी कार्यालय में आयोजित किया गया जिसमे भारतीय संविधान में वर्णित मानवाधिकार से संबंधित नियमो उपनियमों की जानकारी सदस्यों व उपस्थित आगंतुकों को दी गई.
ट्रस्ट अध्यक्ष श्याम कुमार ने गोष्ठी की अध्यक्षता करते हुए कहा कि हमारी संस्था विगत कई वर्षों से मानवाधिकार महिला सशक्तिकरण पर कार्य करते आ रहा है. हम लोग चार-चार लोगों की टीम बनाकर गाँव-गाँव मे हर जगह बैनर पोस्टर लगाकर व बैठक आयोजित कर आम जन को उनके अधिकार के प्रति जागरूक बनाएंगे तथा बताएंगे कि कई सरकारी गैर सरकारी संस्थाओं द्वारा महिलाओं के विकास के नाम पर बड़े-बड़े होटलों में पदाधिकारियों द्वारा बैठकें आयोजित कर सरकारी खजाने का बंदरबांट किया जा रहा है.
अतः आज़ आवश्यक है हर किसी का जागरूक होना
संगोष्ठी में सभी सदस्यों ने अपने विचार रखे तथा आगामी 4 जनवरी 19 से चरणबद्ध कार्यक्रम चलाने का निर्णय लिया.
गोष्ठी में सत्येंद्र सिन्हा, पूजा,विभूति कुमारी,सोनाली, पलक,अन्नू ,पुष्पा, मीनाक्षी,प्रज्ञा,शालिनी मनी, सुरजकांत,मनोज ,संजय, निशिकांत, तरुण, बिना सहाय ,ब्रजेन्द्र मिश्र,इम्तेयाज़ ,व अन्य ने अपनी उपस्थिति दर्ज कराई.

आरा से सत्य प्रकाश सिंह की रिपोर्ट