पुलिस हैं या कि गुंडे, कई राउंड चली गोलियां, SP / DSP को पीटा

पटना (ब्यूरो रिपोर्ट) | पुलिस लाइन में आज शुक्रवार को महिला और पुरुष ट्रेनी पुलिसकर्मियों ने अपने पुलिस अधिकारियों के खिलाफ जमकर हंगामा किया. इन सिपाहियों ने डीएसपी मसलाउद्दीन, एसपी सिटी डी अमर केस और एसपी ग्रामीण आनंद कुमार को डंडों से पीटा. इस मारपीट में डीएसपी मसलाउद्दीन को गंभीर चोंटें आई.
दरअसल हुआ यह कि पुलिस लाइन में तैनात एक ट्रेनी महिला पुलिस कुछ दिनों से बीमार थी. वह काफी समय से छुट्टी मांग रही थी लेकिन उसे छुट्टी नहीं मिल रही थी. जब उसका स्वास्थ्य अधिक खराब हो गया तो उसे पटना के एक निजी अस्‍पताल में भर्ती कराया गया. शुक्रवार को इलाज के दौरान उस महिला पुलिस की मौत हो गई. इसके बाद तो पुलिसकर्मियों में आक्रोश फूट पड़ा. उन्होंने उच्च पदाधिकारियों पर मानसिक रूप से प्रताड़ित करने का आरोप लगाते हुए पुलिस लाइन में जमकर हंगामा किया. वहां खड़े सभी वाहनों में तोड़फोड़ की. फिर सभी पुलिसकर्मी कानून को हाथ में लेकर सड़कों पर उतर आये और पुलिस लाइन के आसपास की दुकानों को जबरदस्ती बंद करवाया और आम लोगों की पिटाई की. इस दौरान दर्जनों गाड़ियों में तोड़फोड़ की गई और कई राउंड हवाई फायरिंग भी की गई. हंगामा करनेवालों में कई महिला पुलिसकर्मी भी शामिल रहीं. आक्रोशित पुलिसकर्मियों द्वारा मीडियाकर्मियों को भी निशाना बनाया गया. कई मीडियकर्मियों की भी पिटाई की गई. इसके बाद जब आम लोग आक्रोशित हो गए तब सभी पुलिसकर्मी पुलिस लाइन में लौट गए. लेकिन उनका हंगामा पुलिस लाइन अंदर काफी देर तक कायम रहा.

नेटवर्क 18 के रिपोर्टर संजय को भी लगी चोट

इस पूरे प्रकरण पर बिहार के डीजीपी के एस द्विवेदी ने नाराजगी जताई है. उन्होंने कहा कि ये अनुशासनहीनता है और किसी को भी कानून हाथ में लेने की इजाजत नहीं है. उनके अनुसार ट्रेनी पुलिसवालों को किसी ने भड़काया है जिसके कारण उन्होंने एेसी घटना को अंजाम दिया है. इस मामले में जांच के बाद आरोपियों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी.  घटनास्थल पर पहुंचे पटना के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मनु महाराज ने कहा कि दोषियों पर कार्रवाई की जाएगी.




 

वीडियो देखें