65 से ज्यादा उम्र वाले नहीं कर सकेंगे हजयात्रा




सउदी सरकार की जारी की नई गाइडलाइन

कोरोना को लेकर दिया हवाला

सउदी सरकार ने 65 साल से ज्यादा उम्र वालों  के हज पर जाने पर रोक लगा दी है. पहले हरी झंडी दी थी, जिससे 16 दिसंबर 2021 से बुजुर्गों  ने भी हज फार्म भरा था. अब सउदी सरकार ने नई गाइडलाइन जारी कर कहा है कि जिनकी उम्र 30 अप्रैल 2022 को 65 वर्ष से अधिक होगी , उन्हें हज करने की इजाजत नहीं दी जाएगी. इसकी वजह ज्यादा उम्र वालों को कोरोना होने  की आशंका बताई है. नई गाइडलाइन का सबसे ज्यादा असर बिहार से हज जाने वाले लोगों  पर पड़ा है. बिहार से इस साल 2972 हज यात्रियों  ने मुबारक सफर पर जाने के लिए आवेदन दिया था, जिनमें 50 फीसदी ऐसे हैं जिनकी उम्र 65 से ज्यादा है. उधर, 65 साल से अधिक उम्र वालों पर रोक के बाद हज पर जाने के लिए फॉर्म  भरने का एक और मौका दिया गया है.

बिहार हज कमेटी के चेयरमैन रहे हज मामलों के जानकार मौलाना अनिसुर रहमान कासमी ने कहा कि केंद्र सरकार को सउदी सरकार से इस बाबत बात करनी चाहिए. वहीँ शमशाद प्रेम ने कहा कि कोई भी सरकार हमारी भावनाओं के साथ खेल नहीं सकती.उन्हें हर हाल में हज जाने के लिए उम्र सीमा में छूट मिलनी चाहिए.हम सभी ने कोरोना के दोनों डोज और बूस्टर डोज भी लिया है फिर कोरोना से कैसा खतरा.

PNCDESK