दीपावली की रात एयर क्वालिटी इंडेक्स 300 के पार

सांस लेने में होने लगी दिक्कत ,कई लोगों को जाना पड़ा अस्पताल पटना की हवा में प्रदूषण का स्‍तर जानलेवा बन गया है. दीपावली के दिन शहर में वायु प्रदूषण की स्थिति अधिक खराब हो गई , नौ से दस बजे के बीच पटाखों के धुएं ने पूरे शहर को धुंध से ढंक दिया. यह स्थिति तब हुई, जब सरकार के स्‍तर से शहर में आतिशबाजी पर रोक लगाई गई थी. वायु प्रदूषण का सबसे बुरा हाल कंकडबाग,राजबंशीनगर और पाटलिपुत्र कदमकुआं के इलाके में है. इन इलाकों में एयर क्‍वालिटी इंडेक्‍स 300 के पार चला गया है. राजधानी के कई इलाकों में एक्‍यूआइ 250 के करीब या इससे अधिक तक रहा. बेहतर हवा के लिए AQI का 50 से कम रहना चाहिए. दीपावली से पाहले एनजीटी राष्‍ट्रीय हरित के निर्देश पर बिहार राज्‍य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने इस बार पटना सहित बिहार के गया और मुजफ्फरपुर सहित चार शहरों में दीवाली पर आतिशबाजी पर रोक लगाई थी बावजूद इसके खुलेआम पटाखों की बिक्री हुई और लोगों ने जम के पटाखों की खरीददारी की और देर रात तक पटाखे जलाते रहे. एक रिसर्च के मुताबिक वायु प्र’दूषण के कारण पटना में लोगों की उम्र औसतन 7.7 वर्ष कम हो रही है. सरकार ने प्र’दूषण की रोकथाम में लिए कई कदम उठाए हैं, लेकिन स्थि’ति अभी भी चिं’ताजनक बनी हुई है. केंद्रीय प्र’दूषण नि’यंत्रण बोर्ड की ओर से बुधवार को जारी देश के 104 शहरों के वायु गुणवत्ता सूचकांक (AQI) में पटना देश में चौथे तो मुजफ्फरपुर सातवें पायदान पर है. PNCDESK

Read more

वायु प्रदूषण नियंत्रण के लिए पटना नगर निगम का क्या है प्लान

वायु प्रदूषण पर नियंत्रण के लिए अब पटना नगर निगम भी अच्छी खासी राशि खर्च करने वाला है. बुधवार को पटना नगर निगम पर्षद की विशेष बैठक में वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए कुल 1499.85 करोड़ रुपए का बजट स्वीकृत किया गया. इसमें से 204 करोड रुपए पटना में एयर पॉल्यूशन कंट्रोल पर खर्च होंगे. यही नहीं, पटना शहर के लोगों को गंगा की सैर कराने के लिए पटना नगर निगम जहाज भी खरीदेगा. यह जहाज 75 से 80 सीट वाला होगा जिस पर करीब डेढ़ करोड़ रुपए खर्च होंगे. दरअसल केंद्र सरकार से पर्यावरण के मध्य में नगर निगम को करोड़ों रुपए मिलेंगे और इसके लिए नगर निगम में एक पर्यावरण सेल का गठन किया जाएगा. नगर आयुक्त हिमांशु शर्मा ने बताया कि अगले कुछ दिनों में एक कार्य योजना तैयार कर ली जाएग. रामाचक बैरिया में 10000 पौधे लगाए जाएंगे और निगम क्षेत्र में 10 जगहों पर वायु प्रदूषण मापक यंत्र भी लगाया जाएगा. निगम बजट 2021-22 वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए पटना नगर निगम बोर्ड ने स्वीकृत किया लगभग 15 सौ करोड़ का बजट, आधारभूत संरचना विकास पर खर्च होंगे 780 करोड़ रुपये पटना।। पटना नगर निगम पार्षद की विशेष बैठक में वित्तीय वर्ष 2021-22 हेतु कुल 1499.85 करोड़ रुपये का बजट स्वीकृत किया गया. महापौर सीता साहू की अध्यक्षता और सांसद रामकृपाल यादव की उपस्थिति में पटना नगर निगम के आयुक्त श्री हिमांशु शर्मा बजट पेश किया। वित्तीय वर्ष 2021-22 में 1499.85 करोड़ रुपये के व्यय एवं 1359.23 करोड़ रुपये आय का अनुमान है. खर्च का ब्यौरा: बजट की कुल अनुमानित राशि 1499.85 करोड़ रुपये को दो मदों यथा राजस्व व्यय एवं पूंजीगत व्यय में विभाजित किय़ा

Read more