श्रद्धांजलि सभा आयोजित

आरा, 24 जुलाई. बिंद टोला आरा के पार्टी पू्र्व ब्रांच सचिव 50 वर्षीय कामरेड रोहित बिंद के निधन पर शनिवार को बिंद टोली में श्रद्धांजलि सभा आयोजित की गई! कामरेड रोहित बिंद का निधन पिछले 8 जुलाई को बिमारी के कारण निधन हो गया था. इस दौरान उनके चित्र पर माल्यार्पण अर्पित की गई, एवं एक मिनट का मौन रखकर श्रद्धांजलि दी गई. श्रद्धांजलि सभा में भाकपा-माले नगर सचिव दिलराज प्रीतम,राज्य कमेटी सदस्य क्यामुद्दीन अंसारी,नगर कमेटी सदस्य अमित बंटी,मनोरमा देवी,अक्षय बिंद चनेगिया देवी,अनंत सिंह, विंदेश्वरी बिंद,वकिल बिंद शामिल थे. श्रद्धांजलि सभा की अध्यक्षता भाकपा-माले जिला कमेटी सदस्य गोपाल प्रसाद ने किया.

Read more

कुंवर सिंह के प्रपौत्र के लिए दिल्ली विवि में श्रद्धांजलि सभा!

नई दिल्ली,1अप्रैल. दिल्ली विश्वविद्यालय आर्ट्स फैकल्टी में प्रथम स्वतंत्रता आंदोलन के योद्धा बाबू वीर कुंवर सिंह के प्रपौत्र कुंवर बब्लू सिंह की श्रद्धांजली सभा का अयोजन गुरुवार को किया गया, जिसका नेतृत्व अमित सिंह गौतम,विधि छात्र,दिल्ली विश्वविद्यालय ने किया. विश्वजीत सिंह ने बताया कि इस घटना का मैं कड़ी शब्दो मे निंदा करता हूं और दोषियों को उचित करवाई हो. मौके पर रणवीर सिंह सोलंकी,आशीष सिंह,आशीष रंजन,चन्द्र प्रकाश गोस्वामी, शुभ्रा शर्मा,चिंटू कुमार,शुभम प्रजापति सहित सैंकड़ों छात्र उपास्थित थे. बता दें कि कुंवर बब्लू सिंह की मौत पुलिस द्वारा पीटने का बाद अस्पताल में इलाज के दौरान हो गई थी जिसके बाद भोजपुर की राजनीति का पारा उपर चढ़ गया है. कुंवर के परिवारवालों का आरोप है कि किला परिसर में ड्यूटी पर तैनात सीआईटी के जवानों द्वारा अवैध कार्य को अंजाम दिया जा रहा था जिसका कुंवर के पास साक्ष्य वीडियो के रूप में मौजूद था. अपने कुकर्मों के भंडाफोड़ होने की वजह से कुंवर को डंडे से बेरहमी से पीटा गया और सड़क किनारे छोड़ दिया गया. बाबू कुंवर सिंह के विजयोत्सव से पूर्व उनके परिवार के सदस्य की इस प्रकार से हत्या के बाद भोजपुर सदमे में है. हालांकि भोजपुर डीएम और एसपी विनय तिवारी ने दोषियो को सख्त सजा देने के ऐलान के साथ ही जांच के लिए कमिटी का गठन भी किया है. अब देखना होगा कि दोषी कब स्लाखों के पीछे जाते हैं. PNCB

Read more

घनश्याम शुक्ल के निधन पर शोक सभा का आयोजन

गाँधी-जेपी परंपरा के अनूठे और जीवंत कर्मयोगी का निधन चित्र बना दी श्रद्धांजलि आरा, 24दिसंबर. सर्जना न्यास के कार्यालय में आज गाँधी-जेपी की परंपरा के अनूठे और जीवंत कर्मयोगी बिहार के सिवान जिले के पंजवार गांव के घनश्याम शुक्ल के निधन पर एक सभा का आयोजन किया गया. उन्हें स्नेह से सभी गुरुदेव भी कहा करते थे. गुरुदेव शुक्ल महान शिक्षाविद जिन्होंने स्कूल, कॉलेज, संगीत विद्यालय, स्पोर्ट्स अकादमी आदि की स्थापना की और वे आखर के संरक्षक भी थे. न्यास के अध्यक्ष एवं वरिष्ठ चित्रकार संजीव सिन्हा ने उनके साथ बिताएं पल को याद करते हुए कहा की उनसे मेरी पहली मुलाकात भोजपुरिया स्वाभिमान आंदोलन के कार्यक्रम, पंजवार में जब बच्चों के नाटक को लेकर गया था तब हुई थी. नाटक की प्रस्तुति के बाद जब बच्चे मंच से उतरे तब उन्होंने सभी बच्चों को गले लगा कर जो स्नेह किया वह मुझे आज भी याद है. बच्चे भी उनके प्यार को याद करते हैं. भोजपुरी संस्कार गीतों के कार्यक्रम में जब वो आरा आए तब उन्होंने उन बच्चों को खोजा और उनसे मिले. भोजपुरी कला यात्रा, पंजवार में कार्यशाला के दौरान वो बच्चों के बीच बैठ कर भोजपुरी चित्रकला सिख रहे थे और उन्होंने कहा अभी आप मेरे गुरु हैं. ये गौरव उनहोंने मुझे दिया. उनके साथ बिताए हुए पल मेरे जीवन के बेशकिमती पलों में से एक है. उनका व्यक्तित्व, कृतित्व उन्हें हमेशा अमर रखेगा. ऐसे सौम्य व्यक्तित्व को बार बार नमन है, ऑनलाईन जुड़े लोगों में मनोज दुबे, शशि रंजन मिश्रा, बृजम पाण्डेय ने भी उन्हें याद

Read more

बालिका वधू की दादी सा ने कहा अलविदा

मुंबई,16 जुलाई. अपने अभिनय के बदौलत सपोर्टिंग कैरेक्टर के लिए 3 बार नेशनल अवार्ड जीतने वाली टेलीविजन और फ़िल्म अभिनेत्री सुरेखा सीकरी का मुंबई में निधन शुक्रवार की सुबह दिल का दौरा पड़ने से हो गया. वे काफी समय से बीमार चल रही थीं. 2020 में सुरेखा, ब्रेन स्ट्रोक की शिकार हो गई थीं. वे दूसरे ब्रेन स्ट्रोक की वजह से हुए कॉम्पलीकेशन्स से जूझ रही थीं. बालिका वधू सीरियल की दादी सा(कल्याणी देवी) के रूप में अपने अभिनय से उन्होंने लोगों के दिलो पर राज किया था. उनका अभिनय आने वाले समय तक लोगों के लिए अविष्मरणीय रहेगा. सुरेखा ने 1971 में नेशनल स्कूल और ड्रामा से अभिनय में ग्रेजुएशन किया था और संगीत नाटक अकादमी से 1989 का अवार्ड भी जीता. PNCB

Read more

रंगकर्मी की चाची और बहन कोरोना की भेंट चढ़ी

कोरोना ने छीन ली रंगकर्मी से उसकी बहन व चाची आरा,28 अप्रैल. भाजपा के वरिष्ठ नेता एवं समाजिक कार्यकर्ता रवीश कुमार की प्रथम पुत्री व उनकी बड़ी भाभी आशा श्रीवास्तव ने कोरोना के कारण दम तोड़ दिया. शिखा श्रीवास्तव आरा रंगमंच के वरिष्ठ रंगकर्मी मनोज श्रीवास्तव की बहन तथा आशा श्रीवास्तव उनकी चाची थी. शिखा का निधन मंगलवार की सुबह लगभग 8 बजे दानापुर मिलिट्री हॉस्पिटल में हो गया. वह 30 वर्ष की थी. वही आशा श्रीवास्तव का निधन दानापुर रेलवे हॉस्पिटल में बुधवार लगभग 3.30बजे दोपहर को हो गया. आशा देवी ने लगभग 10 साल पहले अपने पति को एक किडनी दान दिया था. उनके पति स्व. अशोक श्रीवास्तव रेलवे में गार्ड थे. वे पिछले एक हफ्ते से कोविड पॉजिटिव होने के बाद ऑक्सीजन पर थीं. मंगलवार से उनका ऑक्सीजन लेवल 40 से ऊपर बढ़ ही नही रहा था और बुधवार की दोपहर में आखिरकर उन्होंने दम तोड़ ही दिया. वे अपने पीछे एक बेटे, 3 बेटियों के साथ नाती-पोतों के साथ भरा पूरा परिवार छोड़कर गयी हैं. उनका बेटा मोहित रेलवे में गार्ड है और पूरा परिवार दानापुर में रहता है. वही भाजपा नेता की बेटी शिखा के पति राकेश रौशन भारतीय वायु सेना के सैनिक है जो ग्वालियर मे पोस्टेड है. शिखा अपने चाचा की लड़की की शादी में शामिल होने के लिये 10 अप्रैल को आरा अपने मायके आई हुई थी. हालाँकि कोरोना की वजह से शादी का डेट भी आगे के लिए टाल दिया गया, जिसे परिस्थिति सामान्य होने के बाद तय किया जाएगा, लेकिन

Read more